मैं तेरी से खुश, तू मेरी से खुश-1

(Mai Teri Se Khush Tu Meri Se Khush- Part 1)

This story is part of a series:

दोस्तो.. मेरी अन्तर्वासना सेक्स कहानियों में मजा आ रहा है न?
क्या आपको ऐसा नहीं लगता कि सब कुछ आपके सामने ही हो रहा है?
मुझे आप मेल से पूछते हो कि क्या ऐसा वाकयी में होता है?

कहानियों की सच्चाई महज हमारी सोच पर आधारित होती है, जब हमारी सोच इनसे सहमत होती है तो हमें इन पर यकीन होता है और अगर हम ऐसा नहीं सोचते तो हमें इनकी यथार्थता पर शक होता है।

मैं आपको बता दूं कि मेरी सभी कहानियाँ वास्तविक घटनाओं पर आधारित होती हैं। मेरे पास आप जैसे ढेरों दोस्त हैं जो अपने अनुभव मुझे भेजते हैं और मैं बस उन्हें शब्दों में पिरो कर सजीव कर देता हूँ।

आज की कहानी राज की है, जो एक कंपनी में मार्केटिंग एग्जीक्यूटिव है, उम्र 26 साल और उसकी पत्नि प्रीति 24 साल की है। दोनों की शादी पिछली साल ही हुई थी और अगले 3-4 साल उनका बच्चे को कोई प्रोग्राम नहीं है।
दोनों एम बी ए हैं पर राज को पत्नी का काम करना पसंद नहीं है, वो चाहता है कि बीवी केवल मुझे और अपने को देखे।

प्रीति भी खूब शौक़ीन है, उसे और राज को नव विवाहितों की तरह सेक्स का खूब शौक है और इसमें वो दोनों ही रोमांच पसंद करते हैं।

राज और प्रीति दोनों ही एक दूसरे की निजी जिन्दगी में दखलंदाजी नहीं करते और न ही एक दूसरे पर शक करते हैं। मसलन राज कभी नहीं पूछता कि तुम फेसबुक पर किस से चैटिंग करती हो या आज दिन में किस फ्रेंड के साथ घूमने गईं थीं और न ही प्रीति दिमाग लगाती कि राज जितने हेंडसम और दिलफेंक लड़के की कोई गर्ल फ्रेंड तो नहीं है।

बस रोमांच में दोनों अपनी बात कटनी पसंद नहीं करते थे। जैसा राज ने कह दिया, प्रीति ने मान लिया और जैसा प्रीति ने कह दिया वो राज ने मान लिया।

राज गुरूग्राम की एक एम एन सी में एरिया हेड है, मोटी सैलरी, कंपनी की गाड़ी और फ्लैट… हां काम का प्रेशर बहुत रहता था। बस यही प्रीति शिकायत करती कि वो अक्सर रात को लेट हो जाता या बाहर के लोगों के साथ डिनर लेता।

राज रात को कभी भी आये, बेड पर मौज मस्ती में कमी नहीं करता था। राज और प्रीति को ही वाइल्ड सेक्स का शौक था, उनको आधा घंटा बेड पर मस्ती में जरूर देना होता था।

राज को प्रीति के बड़े बड़े मम्मे खूब भाते थे, वो बिना उन्हें जोर जोर से चूसे प्रीति को चोदना शुरू नहीं करता था और प्रीति भी राज का लंड मुख से चूसकर ऐसा कड़क कर देती थी कि उसकी चूत की मौज हो जाती।

राज प्रीति के पीछे भी करना चाहता था पर अभी तक प्रीति ने इसको करने नहीं दिया था। राज और प्रीति दोनों ही स्मोकिंग करते थे, पर ज्यादा नहीं।
दोनों में एक बात और तय थी कि राज कभी भी बाहर ड्रिंक नहीं करेगा, घर आकर वो और प्रीति साथ साथ ड्रिंक ले ले।
प्रीति का पेग छोटा होता पर वो राज का साथ जरूर देती थी।

हाँ अब राज की मजबूरी हो गई थी अपने क्लाइंट्स के साथ डिनर पर ड्रिंक लेने की… और प्रति भी समझती थी इसलिए उसे बुरा भी नहीं लगता था।
अब तो कई बार राज प्रीति को भी डिनर पर साथ ले जाता और उसके क्लाइंट्स प्रीति की पर्सनैलिटी से इम्प्रेस होते।
प्रीति एमबीए होने के नाते उनकी बिज़नस टॉक्स में भी भाग ले लेती थी और अपना इम्प्रैशन क्लाइंट्स पर जबरदस्त छोडती थी।
कंपनी को राज से बिज़नस भरपूर मिल रहा था तो राज भी तरक्की की सीढ़ियां चढ़ रहा था।

एक दिन राज को कंपनी का ऑफर मिला कि कंपनी को चंडीगढ़ में फोरन कोलैबोरेशन से एक ऑफिस खोलना है, वहाँ का सारा काम राज को ही देखना होगा।
तुरंत ही जाना था। गुरूग्राम का फ्लैट अभी 6 महीने उनके पास ही रहना था।

राज और प्रीति ने फटाफट पैकिंग की और निकल लिये नये मोर्चे पर!

थाईलैंड में मीटिंग

चंडीगढ़ में कंपनी ने ऑफिस और राज का फ्लैट पहले ही से ले लिया था। राज को अपने विदेशी पार्टनर से मीटिंग करने अमेरिका जाना था पर उसके क्लाइंट ने उन्हें थाईलैंड ऑफिस में बुलाया।

कंपनी ने राज के साथ प्रीति को जाना भी परमिट कर दिया। कंपनी का दबाव था कि चाहे कुछ भी खर्च हो जाए पर इस विदेशी पार्टनर से डील होनी ही है।
थाईलैंड में राज को विदेशी कंपनी के थाईलैंड के मार्केटिंग हेड क्रिस्टोफर से मिलना था।

राज और प्रीति थाईलैंड पहुँच गए, उनको फुकेट जाना था, रात तक दोनों फुकेट पहुंचे। इनके रहने का इंतजाम बीच के पास एक रिसोर्ट में किया गया था।

क्रिस्टोफर ने एक क्रूज पर डिनर मीटिंग तय की थी। राज और प्रीति बहुत एक्साइटेड थे। थाईलैंड का उन्मुक्त माहोल उन्हें रोमांचित कर रहा था।

राज ने सूट और प्रीति ने लॉन्ग मैक्सी पहनी। प्रीति रेड कलर में सजी गुड़िया लग रही थी। क्रूज पर उन्हें क्रिस्टोफर और उसकी पत्नी जेनी मिले।
वो दोनों भी राज और प्रीति जैसे ही नए शादीशुदा और बहुत ही सुंदर जोड़ा था। ड्रिंक्स और डिनर में उन चारों के बीच आत्मीयता बहुत बढ़ गई।

राज और क्रिस्टोफर की व्यापारिक बातचीत बहुत कम रही पर सकारात्मक थी। क्रिस्टोफर की कम्पनी का भी जोर था कि इंडिया में इस पार्टी के साथ काम करना है और कैसे भी डील होनी ही है।

क्रिस्टोफर और जेनी थाईलैंड घूमने आना चाहते थे इसलिए उन्होने मीटिंग के लिए थाईलैंड ही चुना।
क्रूज पर डांस फ्लोर भी था, प्रीति ने क्रिस्टोफर के साथ और राज ने जेनी के साथ डांस किया।

वापिसी में विदा लेते समय क्रिस्टोफर ने प्रीति को किस किया तो राज को भी जेनी को किस करना पड़ा पर वो बहुत असहज था।
अगले दिन राज ने क्रिस और जेनी को रिसोर्ट पर ही लंच पर बुलाया और लंच से पहले राज और क्रिस्टोफर ने डील फाइनल करी पर राज ने साइन नहीं किये, वो इंडिया अपनी कंपनी में चेयरमैन से एक बार पूछना चाह रहा था।

राज ने कह दिया कि डील पर साइन लंच के बाद करेंगे।

राज और क्रिस्टोफर दोनों खुश थे। डील होने से उन्हें कंपनी से बड़ा फायदा होने की उम्मीद थी। क्रिस्टोफर को ऐसा लग रहा था कि कहीं राज डील से मना ना कर दे, इसलिए उसने फोन पर अपने बॉस से बात करके प्रीति को एक डायमंड का सेट गिफ्ट करना प्रोपोज किया और हाथ की हाथ दिल्ली के एक ज्वेलर को ऑनलाइन आर्डर कर दिया, जिसकी कीमत करीब पांच लाख रुपये थी और यही नहीं राज और एक अन्य जोड़े के लिए अगले छह महीने में कभी भी शिमला में होटल में तीन रात का एक पैकेज भी गिफ्ट किया।

अब राज के पास मना करने का कोई रास्ता नहीं था। रही सही कसर जेनी ने जब उससे पूछा कि वो डील क्यों नहीं यस कर रहा, तो उसे हाँ कहने पड़ी।
और इसके इनाम में उसे जेनी ने लिपलॉक करके दिया।

अब तो पार्टी टाइम था, राज ने डील पर साइन कर दिया और अपनी कंपनी को भी मेल कर दिया।

क्रिस्टोफर ने शैम्पेन खोली और सबसे पहले उसने बोतल प्रीति को दी प्रीति ने घूँट भर कर राज को किस किया और बोतल जेनी को दी।

प्रीति बहुत खुश थी।
क्रिस्टोफर पास खड़ा था तो उसने भी जेनी की स्टाइल में लिप टू लिप किस क्रिस्टोफर को दिया।

अब चारों लंच के लिए रेस्तरां में गए। लंच लेकर शाम को मस्ती का प्रोग्राम बना, क्रिस ने एक एडल्ट डांस शो बुक किया। क्रिस और जेनी के जाने के बाद राज और प्रीति रूम में आये।

प्रीति ने रूम में आते ही कपड़े उतार फेंकी और राज को भी बेड पर खींच लिया। आज तो राज का लंड वैसे ही खड़ा था पर प्रीति ने दो मिनट में ही उसे चूस कर डण्डा बना दिया और राज ने भी बिना देर किये घुसा दिया प्रीति की चूत में!

प्रीति बोली- आज तो तुम जेनी से ज्यादा ही चूमा चामी कर रहे थे?
तो राज बोला- अभी तो सिर्फ चूमा है, मौका मिलेगा तो चोदूँगा भी!
प्रीति बोली- ठीक है आज रात को ही सही, मैं तुम्हें मौका दे दूँगी, तुम जेनी को चोद लेना।

राज ने चाह कर भी यह नहीं कहा कि तुम भी क्रिस से चुदवा लेना..
हालाँकि प्रीति तो आज एक बार क्रिस का लंड ऊपर से छू भी चुकी थी।

शाम को चारों शो देखने गए, हद कर दी गई थी अश्लीलता की उस शो में, स्टेज पर डांस में सभी एक एक करके बिना कपड़ों के हो गए थे। लड़कों के लंड की मोटाई और लम्बाई देख कर हॉल की सभी लड़कियों की चूत गीली हो गई होगी और लड़कियों के मम्मे देख कर हर लड़कों के मुँह में पानी आ रहा था।

प्रीति और जेनी दोनों ही स्कर्ट टॉप में थी। अंदर दोनों ने ही कुछ नहीं पहना था, इसलिए शो के दौरान राज और क्रिस दोनों की उंगलियाँ उनकी चूत को मसल चुकी थीं।

आगे की लाइन के एक जोड़े को तो स्टेज पर बुलाया और उन्हें म्यूजिक पर डांस करने को कहा गया। डांस के दौरान लड़के के कपड़े स्टेज पर मौजूद लड़कियों ने उतार दिया और उसका लंड वहीं चूसने लगीं।

उसकी साथी लड़की को भी जोश आ गया उसने अपना टॉप खुद ही उतार दिया और उसके मम्मे और लड़का चूसने लगा।
शो के बाद डिनर लेकर चारों वापिस आये, एक ही कैब में थे तो प्रीति ने जेनी से कहा- चलो कॉफ़ी पीकर जाना!

रूम में म्यूजिक चल रहा था, दोनों जोड़े डांस करने लगे।
तभी क्रिस ने प्रीति की ओर हाथ बढ़ाया तो प्रीति उसकी बाँहों में चली गई और जेनी राज की बाँहों में आ गई।
सभी बहुत खुश थे।

प्रीति को सपनों में भी इतना महंगा गिफ्ट मिलने की उम्मीद नहीं थी.. उधर राज को मालूम था कि उसकी सैलरी में जम्प मिलना तय था।
क्रिस और जेनी को भी उनकी कंपनी ने यूरोप टूर का लालच दे रखा था।
चारों ही जवान थे तो मस्ती उन्हें अच्छी लग रही थी, डांस में नजदीकी आनी शुरू हो गई थी। राज ने एक पेग लगाने के लिए डांस रोक लिया।

अब वो अकेला तो लेता नहीं, तो चारों ने ही पेग लिया।

प्रीति ने रोस्टेड ड्राईफ्रूट्स निकाल लिए, कॉफ़ी का मन किसी का नहीं था।
एक के बाद दूसरा पेग… नशा भी चढ़ गया था और शो के बाद चारों चुदाई के मूड में आ गए थे।

दोबारा डांस शुरू हुआ… अब दोनों जोड़ों के बदन चिपक गए थे और लड़कों के हाथ लड़कियों की पीठ से होते हुए स्कर्ट के ऊपर घूम रहे थे।

बीवियाँ बदल कर चूत गांड चुदाई

प्रीति क्रिस के होटों से चिपक गई थी और राज जेनी के होंठ से! राज को जेनी के मम्मे चुभ रहे थे तो उसने अपना एक हाथ आगे लाकर टॉप के ऊपर से ही जेनी के मम्मे दबाये।

कमरे में रोशनी थी तो प्रीति ने हटकर लाइट बहुत धीमी कर दी, अब कुछ ख़ास नहीं दिख रहा था।चारों के बदन में आग पूरी लगी हुई थी, प्रीति की बर्दाश्त ख़त्म कर दी क्रिस ने उसके मम्मे मुह में लेकर और प्रीति ने क्रिस का टॉप उतर कर पहले तो उसके निप्पल चूसे फिर नीचे झुक कर क्रिस का लोअर भी उतार दिया और नीचे बैठकर उसका लंड चूसने लगी।

जेनी भी ये देख कर राज को लेकर सोफे पर चली गई और राज के और अपने कपड़े उतार दिए।
राज ने अपना मुंह जेनी की चूत में कर दिया।

शायद उधर क्रिस भी प्रीति की चूत में उंगली या जीभ कर रहा था क्योंकि कमरे में प्रीति और जेनी की सीत्कारें गूँज रही थीं।
अब चारों बेड पर आ गए और दोनों लड़कों ने लड़कियों को कुतिया बना कर चुदाई शुरू कर दी थी।
जेनी और प्रीति आमने सामने थीं तो दोनों ने अपने होंठ मिला लिए थे।

तभी क्रिस ने अपना लंड प्रीति के मना करने पर भी उसकी गांड में घुसा दिया।
प्रीति चीखी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ पर क्रिस ने अपने लंड पर खूब सारा थूक लगा लिया था तो जल्दी ही प्रीति कम्फ़र्टेबल हो गई और गांड चुदाई का मजा लेने लगी।

तभी प्रीति बोली- राज प्लीज अपना लंड मेरे मुँह में दे दो और जेनी तुम मेरी चूत चूसो।

अब सब मिलकर प्रीति की चुदाई करने लगे। प्रीति का बैंड जम कर बज रहा था।

तभी जेनी बोली- अब मेरी बजाओ!
तो राज जेनी के नीचे लेट गया और नीचे से अपना लंड उसकी गांड में कर दिया।
चूंकि जेनी नको गांड मरवाने का तजुर्बा था तो उसे राज का लंड गांड में लेने में तकलीफ नहीं हुई और उसकी चूत सामने पूरी खुली हुई थी तो क्रिस उसमें घुस गया।

प्रीति अपनी टांगें चौड़ा कर जेनी के मुंह पर अपनी चूत रख कर बैठ गई, जेनी ने भी अपनी जीभ प्रीति की चूत में कर दी।

रात के 2 बज चुके थे और राज और क्रिस दोनों दो दो बार खाली हो चुके थे।
प्रीति और जेनी की चूत के अलावा उनके मम्मों और मुंह सब जगह राज और क्रिस के वीर्य के थक्के पड़े हुए थे।

क्रिस और जेनी को जाना था और अगले दिन राज और प्रीति को भी इंडिया वापस आना था।

कहानी जारी रहेगी।
[email protected]

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top