अनजान नम्बर से मिली हॉट गर्ल की चुत चुदाई

(Anjan Number Se Mili Hot Girl Ki Chut Chudai)

हैलो दोस्तो, कैसे हैं आप सब… अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पढ़ कर मजा आ रहा है ना? मैं भी खूब मजा ले ले कर सेक्स कहानियां पढ़ता हूँ.
अभी मैं आपको अपनी रियल सेक्स कहानी सुनाने जा रहा हूँ.

ये तकरीबन एक साल पहले की बात है… मुझे किसी अनजान नम्बर से फोन काल आई. बात करने से पता चला कि वो फोन किसी लड़की का था, उससे गलती से रॉंग नम्बर टकरा गया था, वो लड़की आवाज से हॉट गर्ल लग रही थी तो मैंने बात आगे बढ़ाने के लिए पहले उसे अपना नाम बता कर उससे उसका नाम पूछ लिया. उसने अपना नाम आलिशा बताया था और उसकी उम्र 19 साल की थी.

मैंने उसे कहा कि आपकी आवाज बहुत प्यारी है, क्या मैं आपसे फोन पर बात कर सकता हूँ? उसने हां बोल दिया और इस तरह से मैंने उससे एस एम एस पर और फोन पर बातचीत कर के उससे दोस्ती कर ली. फिर मैंने उससे उसका घर का पता पूछा तो उसने बताया कि वो पीजी में रहती है और कॉलेज में कॉमर्स से ग्रेजुएशन कर रही है.

फिर एक दफ़ा उसने मुझसे कहा कि मैं उस से मिलने आऊं.
हमने एक मॉल में मिलने की बात तय की और मैं गया, जब मैंने उसे सामने देखा तो देखता ही रह गया. मैं तो बिल्कुल पागल सा हो गया था. यार क्या चूचे थे उसके… और क्या नशीला फिगर था उसका… अह… लंड एकदम से अकड़ गया. उसका फिगर 34-28-36 का था. उस दिन तो कुछ ख़ास नहीं हुआ, मैंने उसे एक जींस टॉप खरीदवा दिया. वो खुश हो गई.

फिर आहिस्ता-आहिस्ता करके मैंने उसे डेट पर ले जाने के लिए पटाया. वो मान गई… तो पहली डेट पर तो मैंने उसे सिर्फ़ किसिंग की थी लेकिन दूसरी बार मैं उसे अपने घर ले आया. ये बोल कर कि मैं तुम्हें अपने घर वालों से मिलवाने ले जा रहा हूँ… इस बात से वो खुश हो गई. जब मैं उसे लाया तो मेरे घर पर कोई नहीं था. ये देख कर पहले तो वो थोड़ी घबराई फिर उसने कहा कि तुम्हारे घर पर तो कोई नहीं है.

मैंने उससे कहा- मैं तुमसे प्यार करना चाहता हूँ.
तो उसने कहा- नहीं, मैं ऐसी वैसी लड़की नहीं हूँ.
मैंने कहा- चलो कोई बात नहीं, जैसी तुम्हारी मर्ज़ी.

फिर हम दोनों एक कमरे में बैठे हुए थे, लैपटॉप पर मूवीज़ देख रहे थे… कोई मूवी पसंद ही नहीं आ रही थी तो फिर मैंने अचानक चुदाई की वीडियो लगा दीं, तो पहले तो वो थोड़ा गुस्सा हुई फिर बाद में उसको भी मजा आने लगा.

हम दोनों गर्म होने लगे, अब आहिस्ता आहिस्ता मैंने उसका हाथ पकड़ा और उसने मेरा भी हाथ पकड़ लिया. फिर मैंने उसके रस भरे होंठों को अपने होंठों से लगाया और 10 मिनट तक खूब चूसा.

वो और ज्यादा गरमा गई और उसने मेरा लंड पकड़ लिया. मेरा लंड फूल कर इस वक्त पूरे साढ़े छह इंच का हो गया था. वो मेरे लंड को मेरे ट्राउज़र के ऊपर से ही सहला रही थी. फिर मैंने उसके मम्मों को दबाना शुरू किया तो वो और भी हॉट हो गई. उसने अपनी शर्ट उतार दी.
मैंने देखा कि उसने पिंक क्लर की ब्रा पहनी हुई थी… मैं तो फुल पागल हो गया था. उसे देख कर मेरा लंड तो फटने को हो रहा था.

अब मैंने उसकी ब्रा को भी उतार दिया. उसने कहा- तुम भी अपनी शर्ट उतारो.
तो मैंने भी शर्ट उतार दी. उसने मुझे गले से गलाया और मुझे बेड पर लिटा दिया. फिर उसने बड़ी बेताबी से मेरा ट्राउज़र खींच कर उतारा और साथ ही अंडरवियर भी उतार दिया. वो मेरे लंड को मुंह में लेकर चुप्पे मारने लगी. मुझे बहुत मजा आ रहा था.

ठीक 5 मिनट में ही मैं उसके मुँह में फारिग हो गया था. मैं कुछ पल निढाल पड़ा रहा… फिर मैंने उसके मम्मों को दबा-दबा कर चूसा तो मेरा लंड फिर से एक बार खड़ा हो गया.
अब उसने कहा- अब मेरी भी प्यास बुझा दो.

मैंने उसकी जींस की पैन्ट उतारी और उस की पेंटी भी नीचे खींच कर उतार दी. उसकी चुत बिल्कुल पिंक थी और एक भी बाल नहीं था, वो अपनी चूत एक दम चिकनी बना कर आई थी. उसकी फूली हुई चुत देख कर तो मेरा लंड और भी सख्त हो गया.

अब मैंने उसे बेड पर चित लिटाया और उसकी दोनों टांगें खोल कर अपना लंड अपने हाथ में पकड़ कर उसकी चुत के मुँह पर टिका दिया.

इसके बाद मैंने उसकी आँखों में देखा तो वो बड़ी बेताबी से लंड के चुत में घुसने का इन्तजार करती दिखी. मैंने आहिस्ता-आहिस्ता अपना टोपा उसकी चुत की फांकों में फंसा दिया. वो उछल पड़ी फिर मैंने सिर्फ़ टोपा ही उसकी चुत अन्दर पेला, तो पाया कि उसकी सील खुली हुई थी. क्योंकि उसे ज्यादा तकलीफ़ नहीं हुई. बस उसने हल्की सी ‘आआहह… उफ्फ…’ की आवाज़ निकाली.

मैंने कहा- दर्द हो रहा है?
कहने लगी- नहीं, मजा आ रहा है.
मन तो हुआ कि पूछ लूँ कि किसने फीता काटा था पर मैं चुप रहा. मैंने सोचा पहले इसे तबियत से चोद लूँ फिर दुनिया भर की बकवास करूँगा.

अब मैंने उसकी चुत में एक जोरदार झटका दे मारा. मेरा लंड उसकी चुत के अन्दर पूरा घुसता चला गया था. उसकी आवाज़ निकली- उईईई… मर गई… उम्म्ह… अहह… हय… याह… आह… ऊऊऊ… बहुत मोटा लंड है…

मैंने कहा- तो क्या फर्क पड़ता है… खा ले.
उसने कहा- थोड़ा दर्द हो रहा है.
मैंने कहा- काहे का दर्द… तुम्हारी चुत तो खुली हुई है, फिर तुझे क्यों दर्द हो रहा है.
वो कहने लगी- नहीं खुली है… मैं पहली बार सेक्स करवा रही हूँ.
मैंने कहा- तो तुम्हारी सील कैसे खुली है?
वो कहने लगी- मैं पहले ब्लू फिल्म्स देखती थी तो उसको देख कर फिंगरिंग करती थी… तब मैंने खुद अपनी सील खोल ली थी.

मुझे बड़ी ख़ुशी हुई कि मेरा लंड ही पहली बार घुसा है. मैंने कहा- ठीक है कोई मसला नहीं, अगर खुली हुई बोरी से थोड़ी चीनी चख लो तो कोई फ़र्क नहीं पड़ता.
इस पर वो हँसने लगी.

मैंने कहा- मेरा पानी अभी निकलने वाला है… किधर निकालूँ?
उसने कहा- चुत के अन्दर ही निकाल दो… मैं तुम्हारा अमृत मेरे अन्दर महसूस करना चाहती हूँ.

फिर मैंने अपनी स्पीड बढ़ाई और 5 मिनट बाद मैं भी उसकी चुत में ही डिसचार्ज हो गया. उसके बाद उसने मेरा लंड अपने मुँह में लेकर पूरा चाट कर साफ कर दिया. कुछ देर बाद हम दोनों फ्रेश होने बाथरूम गए और बाहर आ गए.
उसके चेहरे पेर एक अलग सी मुस्कान थी और वो बहुत खुश थी.

दोस्तो, ये थी मेरी चुत चुदाई की स्टोरी है, उम्मीद है कि ये आप सब को अच्छी लगी होगी. आप अपनी राय ज़रूर बताएं… मेरी अगली चुदाई की कहानी में मैं आपको बताता हूँ कि कैसे उसके घर जाकर उसकी ही मॉम को चोदा, तक तक के लिए बाई.
[email protected]

इस कहानी को पीडीएफ PDF फ़ाइल में डाउनलोड कीजिए! अनजान नम्बर से मिली हॉट गर्ल की चुत चुदाई