कुंवारी देसी लड़की को ब्लू फ़िल्म दिखा कर चूत की सील तोड़ी

(Kunvari Desi Ladki Ko Blue Film Dikha Kar Choot Ki Seal Todi)

आज से 2 साल पुरानी बात है.. जब मैं 18 साल का था और मैं चंडीगढ़ से राजस्थान अपने घर गया था।

मेरे घर के सामने एक खूबसूरत लड़की नीतू (बदला हुआ नाम) रहती है। तब वो पूरी जवान हो चुकी थी। मैं उससे एक साल बाद मिलने वाला था तो खुश भी बहुत था।
उसके घर पर उसकी मॉम और उसका एक छोटा भाई और दो बहनें रहती थीं। नीतू के पापा दूसरे शहर में नौकरी कते थे.. वो साल में एक-दो बार ही घर आ पाते थे।
नीतू के छोटे भाई बहन भी स्कूल जाते थे और उसकी मॉम भी दिन में अधिकतर उसकी दादी के घर पर ही रहती थीं।

नीतू की दादी का घर थोड़ा दूर था.. तो वो सुबह दस बजे घर से निकल जाती थीं और शाम को ही वापस आती थीं। नीतू पूरे दिन घर पर अकेली ही रहती थी।

मैं सुबह 5 बजे अपने घर पहुँच गया और सामान अन्दर रख कर नहाने चला गया। नहाने के बाद मैंने नाश्ता किया और अन्दर जाकर सो गया। मैं बहुत लंबा सफ़र करके आया था तो बहुत थक गया था।

देसी लड़की अकेली घर में

दोपहर के 12 बजे मेरी आँख खुली तो मैं घर से बाहर आया और देखा नीतू घर के बाहर झाड़ू लगा रही थी। उसने ब्लैक कलर का टॉप और ब्लू कलर का जींस पहना हुआ था। उसे देखते ही मेरा लंड खड़ा हो गया। उसका फिगर 32-28-30 का होगा।

मैं उससे मिलने चला गया और उसके आगे जाकर खड़ा हो गया। तब उसने ऊपर देखा और हैरत से मुझसे कहा- अरे तुम कब आए?
मैंने कहा- सुबह 5 बजे।
तो उसने कहा- तो इतनी देर से कहाँ थे?
मैंने कहा- मैं सो रहा था।
उसने कहा- ठीक है.. तुम अन्दर जाकर बैठो.. मैं अभी झाड़ू लगा कर आती हूँ।

मैं अन्दर जाकर बैठ गया.. वो झाड़ू लगाने के बाद मेरे पास आई और बोली- क्या लोगे.. कॉफी या चाय?
मैंने मना कर दिया.. तो उसने कहा- इतने दिनों बाद आए हो कुछ तो लेना पड़ेगा.. नहीं तो मैं नाराज़ हो जाऊँगी।
मैंने कहा- चल ठीक है कॉफी ही ले लूँगा।

वो अन्दर गई और कॉफी बना कर ले आई, हम दोनों ने कॉफी पी।
तभी उसका भाई स्कूल से घर आ गया।

मैं वहाँ से अपने फ्रेंड से मिलने निकल गया। मेरे फ्रेंड के पास ब्लू-मूवीज की डीवीडी थीं.. तो हम दोनों ने उन डीवीडी को देखना शुरू किया। मैं ब्लू फिल्म देखते हुए नीतू के कामुक जिस्म के बारे में सोचने लगा। तभी मुझे एक आइडिया आया.. मैं मूवी देखने के बाद अपने घर पर चला गया और खाना खाकर सो गया।

सुबह उठा तो 9 बज चुके थे। मैं नहा कर कुछ खाने बैठ गया.. थोड़ा हल्का सा नाश्ता किया.. तब तक 10 बज चुके थे। फिर मैं अपने फ्रेंड के घर गया और मूवी देखने लगा और 11 बजते ही मैंने ब्लू मूवी की डीवीडी फ्रेंड से ले ली और अपनी अंडरवियर में डाल लीं। डीवीडी मेरे लंड से चिपकी हुई थी।

कुंवारी लड़की को ब्लू फ़िल्म दिखाई

इधर से मैं सीधा नीतू के घर चला गया। नीतू इस वक्त घर पर अकेली थी और टीवी देख रही थी। मुझे देखते ही उसने अन्दर आने को बोला।
मैं अन्दर गया और डीवीडी को थोड़ा ऊपर किया ताकि बैठने में आसानी हो।

नीतू ने मुझे यह करते हुए देख लिया और पूछा- यह क्या है?
मैंने कहा- डीवीडी है।
उसने कहा- किस की?
तो मैंने कहा- मूवी है।
उसने वो डीवीडी मांगी तो मैंने कहा- यह डीवीडी तुम्हारे देखने के लिए नहीं है।

फिर भी उसने ज़बरदस्ती करके वो डीवीडी ले ली और डीवीडी प्लेयर में डाल कर स्टार्ट कर ली।

जैसे ही फिल्म में आगे सेक्स करते हुए लड़का और लड़की आए.. तो उसने मेरी फिल्म को पॉज करते हुए मेरी तरफ देखा और कहा- तुम यह सब कब से देख रहे हो?
मैंने कहा- तीन साल से।
उसने कहा- कभी किसी लड़की के साथ सेक्स किया है?
मैंने कहा- अभी तक मौका नहीं मिला।

कुंवारी पड़ोसन ने मेरा लंड पकड़ लिया

उसने मूवीज फिर से प्ले की और देखने लगी और मेरा लंड भी बिल्कुल सख्त हो गया था। वो चुदाई देखते देखते गरम हो गई थी और धीरे से वो मेरे पास आई और मेरी पैंट के ऊपर से ही मेरे लंड को पकड़ कर दबाने लगी।

फिर उसने मेरे पैंट का बटन खोला और मेरे पैन्ट की जिप भी खोल दी, उसने मेरे अंडरवियर में हाथ डाल दिया.. मुझे एकदम से झटका लगा क्योंकि मेरा लंड आज तक किसी ने नहीं पकड़ा था।

उसने मेरे लंड को पकड़ कर बाहर निकाला और बोली- बाप रे तुम्हारा इतना बड़ा लंड है..!
मैंने कहा- हाँ!

मैं उसके मम्मों को दबाने लगा। उसके चूचे थोड़े सख्त थे.. मैं जब भी ज़ोर से दबाता.. तो वो चीख पड़ती। मुझे उसके बूब्स दबाने में बहुत मज़ा आ रहा था।

Comments

सबसे ऊपर जाएँ