सेक्सी कहानी

गरमागरम सेक्स कहानी पढ़िए, खूबसरत कमसिन लड़कियों, हॉट भाभियों और चुदाई की प्यासी आंटियों की स्टोरीज का खजाना… स्कूल कॉलेज के स्टूडेंट्स के कामुकता भरे कारनामे!

Hindi mein Sexy Kahani padhen Chut chudai ki aur gaand marne ki. Ye sabhi kahaniya hame hamare lekhak mitro se mili he. Wo apni chudai ke anubhaw aap ko batayenge. Aap lund chusne ke anubhaw, chut me lund kaise dalte he aur gaand kaise marte he wo sab aap ko detail me aur mazedar wiwran ke sath batayenge.

कमसिन कुंवारी चूत को उसके घर में चोदा-1

मेरे सामने वाले घर में एक मस्त माल लड़की रहती थी. वो सेक्स की बातें सुन कर पहले ही बहुत गर्म हो चुकी थी. बस मौक़ा नहीं मिल रहा था. जब मौक़ा मिला तो ...

मिशन मामी की चुत चुदाई

मैं मामा के घर गया तो मामी की गोरी कमर, सुडौल भारी चूचे और मटकती गांड. मैं देखकर मस्त हो गया. मैं मामी को घूरने लगा तो मामी समझ गयी और हंसने लगी.

जीजा ने मुझे रंडी बना दिया-8

जीजा के दोस्तों ने मुझे चूमना शुरू कर दिया और मुझे नंगी करने लगे. फिर मुझे खड़ी करके दोनों के दोनों नंगे होकर अपने मूसल जैसे लौड़ों को मेरे जिस्म पर रगड़ने लगे.

सहेली के भाई ने दीदी की बुर चोदी-3

इस बुर चोदी कहानी में पढ़ें कि मेरी दीदी की सहेली ने कैसे मेरी दीदी को अपने मौसेरे भाई से फंसवा कर मेरी कमसिन सेक्सी दीदी की अनचुदी बुर चोदी करवाई.

तीन पत्ती गुलाब-38

मुझे लग रहा था कि मेरा एमसी पैड सरक गया है। मुझे डर था कहीं कपड़े ना खराब हो जाए तो मैं झाड़ियों में सु-सु करने और पैड ठीक करने बैठ गई।

जवान लड़की की सेक्स कहानी-1

इस सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी पड़ोसन जवान लड़की की वासना उफान पर थी. वो अपने यार से मेरे घर में चुदती थी. एक दिन वो चुदने आई पर उसका यार नहीं आया.

ममेरी बहन की चुदाई कहानी-2

मैंने अपनी बहन के सर को पकड़कर उसके होंठों पर किस किया और अपना होश खो दिया. मेरी तमन्ना पूरी हो गयी जिसका मुझे बेसब्री से इंतजार था. वो भी मेरा साथ दे रही थी.

तीन पत्ती गुलाब-31

मैं अपनी कामवाली की चूत चोद चुका था और अब उसकी गांड मारने को उतावला था. लेकिन उसे गांड के लिए मानना थोड़ा मुश्किल लग रहा था.

जवानी की शुरुआत में स्कूलगर्ल की अन्तर्वासना-2

क्या हम आपस में ही सेक्स नही कर सकते? क्योंकि अब स्कूल खत्म होने वाला है, बॉयफ्रेंड भी नहीं है और बनाने का मन भी नहीं है अभी, पर मन करने लगा है सेक्स का बहुत।

तीन पत्ती गुलाब-29

मैं मधुर के गालों को चूमते हुए और उसके नितम्बों पर हाथ फिराते हुए यही सोच रहा था पता नहीं गौरी के नितम्बों को चूमने और मसलने का मौक़ा कब मिलेगा।

तीन पत्ती गुलाब-28

मुझे गौरी का वह पहला चुम्बन याद आ गया। अगर इस समय गौरी मेरे सामने होती तो मैं उसके होंठों को जबरदस्ती चूम लेता पर सानिया के साथ अभी यह सब कहाँ संभव था।

तीन पत्ती गुलाब-25

अपनी कामवाली लड़की के साथ सम्भोग का आनन्द लेने के अगले दिन मुझे दोबारा उसके कमसिन जिस्म का भोग लगाने की इच्छा हुई. मैं मौक़ा देख रहा था.

कुलबुलाती गांड-2

मैं गांडू हूँ तो मैं गांड मराना चाहता था अपने रूममेट से ... लेकिन उसे मुझमें कोई रूचि नहीं लगती थी. उसके मामा आए. रात में मैंने देखा कि ... क्या देखा? कहानी पढ़ कर पता लगाएं.

याराना का चौथा दौर-3

दो दोस्तों ने मिल कर कैसे एक दूसरे की बीवियों को पटाने के प्लान पर काम शुरू किया और एक रात को उन चारों ने किस तरह से मिल कर चुदाई के लिए तैयारी कर ली. पढ़ें.

मेरी हॉट दीदी की अन्तर्वासना-3

सेक्स दो जिस्मों का मिलन है, ये मिलन मेल-मेल के बीच हो, मेल-फीमेल के बीच या फिर फीमेल-फीमेल के बीच. अपनी जरूरत अनुसार मौका मिले तो इसका आनन्द लिया जा सकता है.

चाची की बेटी की वासना और सेक्स

मेरी चाची की बेटी कुछ दिन के लिए हमारे घर आई. मेरी चचेरी बहन की बातों से लगा कि उसकी वासना काबू में नहीं है. मैंने उसकी कामुकता को जान लिया और ...

मेरी कामवासना और दीदी का प्यार-1

गाँव गया तो बुआ की शादीशुदा बेटी वहां आई हुई थी. गले से उनकी चूचियाँ दिख रही थी तो मैं उन्हें देखने लगा. दीदी ने मुझे देखते देख लिया तो ...

तीन पत्ती गुलाब-19

गुरु ... ठोक दो साली को ... क्यों बेचारी को तड़फा रहे हो ... लौंडिया तुम्हारी बांहों में लिपटी तुम्हें चु...ग्गा (चूत गांड) देने के लिए तैयार बैठी है तुम्हें प्रवचन झाड़ने की लगी है।

रिश्तों में चुदाई स्टोरी-13

महेश ने अपनी बेटी को उसके कमरे में जाकर गर्म कर दिया. बेटी अपनी चूत को अपने बाप से कामुकता वश चुदवाने के लिए तैयार हो गई. तो बाप बेटी की चुदाई कहानी का मजा लें.

तीन पत्ती गुलाब-16

देखो, मैं अपना निक्कर उतारता हूँ। तुम्हें मेरे लिंग को पकड़कर बस थोड़ी देर हिलाना है और उसके बाद उसमें से वीर्य निकलने लगेगा। तुम्हें थोड़ी जल्दी करनी होगी.

Scroll To Top