फ़ोन सेक्स

Sex Chat on Phone फोन पर सेक्स चैट

मुंबई की सेक्सी मॉडल ने दीदी बन कर चूत चुदाई

मेरी दोस्ती इंस्टाग्राम पर मुंबई की एक मॉडल से हुई। मैं उसे दी कहता था। लेकिन एक दिन उसने मुझे मुंबई बुलाया और होटल में ले गई. क्या हुआ होटल में? कहानी का मज़ा लीजिये.

फेसबुक फ़्रेंड के साथ फ़ोन सेक्स

मैंने एक लड़की को फेसबुक पर फ़्रेंड रिक्वेस्ट भेजी, उसने एक्सेप्ट भी कर ली। फेसबुक पे हम दोनों बात करते रहते। एक दिन मैंने उससे सेक्स के बारे में पूछा तो उसने मना कर दिया।

दोस्त की मस्त मॉडल सी पत्नी चुद गई

मैं अपने दोस्त के घर खूब आता जाता था। उसकी बीवी मस्त थी मॉडल जैसी… उसके साथ मेरे टांका कैसे भिड़ा, उसने मुझसे फ़ोन सेक्स, सेक्स चैट करने के बाद कैसे चूत चुदाई। इस कहानी में!

कुंवारी लड़की की कामेक्षा तृप्ति

कुँवारी गैर लड़की के साथ सेक्स करने का आनन्द मुझे मेरी शादी के बाद मिला। मेरी तरफ़ उसने खुद कदम बढ़ाया था। कहानी पढ़ कर देखिये कि क्या घटनाक्रम रहा!

वो प्यारी सी चुलबुली लड़की

उसके होंठ काँपने लगे, धड़कनें और तेज हो गई। मैंने उसे अपने आगोश में ले लिया और उसकी पीठ पर हाथ फेरने लगा, साथ ही उसको किस भी करने लगा। हम नंगे होकर एक दूसरे के बदन से खेलने लगे।

बहन की सहेली को चोदा

मुझे अपनी बहन की एक सहेली पसंद थी, वो प्रियंका चोपड़ा जैसी दिखती थी.. उसका फोन मेरे फोन पर आता था मेरी बहन से बात करने के लिए... एक बार मैंने उसे मैसेज भेज दिया तो उसका रिप्लाई आ गया और तब से हम फोन चैट करने लगे... और फिर सेक्स चैट ... उसके बाद क्या हुआ ... कहानी में पढ़िए...

पहली चूत चुदाई पूजा के साथ

मैं बेकाबू हो गया था। मैंने उसकी चूचियों को जी भर कर चूसा और चूसते-चूसते ही मैं एक हाथ उसकी चूत पर ले गया और सलवार के ऊपर से ही उसकी चूत सहलाने लगा।

रूपा संग फोन सेक्स

लेखक : जानू नमस्कार दोस्तो, मैं काफी समय से सोच रहा था कि अपना अनुभव आप सभी के साथ बाँटूं। यह कहानी सच्ची घटना पर आधारित है। जब मैं ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहा था। बात 2007 की हैं, ठंड का मौसम था। मैं पतंग उड़ाने का काफी शौकीन हुआ करता था, दिन-भर पतंग-बाजी करता। […]

अंजलि की खुशी-2

उसका लण्ड बेहद तन्नाया हुआ था। लग रहा था कि चोदे बिना वो नहीं मानने वाला है। पर सच भी तो है कि मुझे उसके लण्ड का मजा अपनी चूत में मिला ही कहाँ था।

अंजलि की खुशी-1

मेरा नाम अंजलि है। अपनी गाण्ड में लौड़े लेना मेरी सबसे बड़ी खुशी है! कुछ लड़कियाँ समझती हैं कि इसमें बहुत ज्यादा दर्द होता है, या यह गलत है, लेकिन मैं जानती हूँ कि दुनिया में इससे बेहतर आनन्द कोई नहीं हो सकता!

महाकाय लिंग का आनन्द

हिमेश का लण्ड देख कर ही मेरी तो बांछें खिल गई। मैंने भी पहली बार इतने विशाल लण्ड के दर्शन किए थे। मेरी एक दीर्घकालीन मनोकामना आज पूर्ण होती दिख रही थी।

नये अनुभव का सुख-2

लेखिका : अनुष्का उस दिन अज्जु ने मुझे एक नये अनुभव का सुख दिया। मैं बहुत खुश हो गई और तभी मैंने अज्जु को बताया कि मैं अपनी एक सहेली के साथ समलैंगिक हूँ। अज्जु ने कहा कि कल अपनी उस सहेली को भी बुला लेना! तीनों मिल कर मस्ती करेंगे। अगले दिन मैंने अपनी […]

नये अनुभव का सुख-1

मेरे पति टूर पर ज्यादा रहते हैं इसलिये मैं सेक्स के लिये परेशान रहती हूँ। मैंने अपनी एक सहेली बना रखी है, म पति के टूर पर जाने पर उसके साथ मैं दिन-रात खूब मस्ती करती हूँ।

कामिनी की बाहों में-2

कामिनी मेरे चूतड़ दबा रही थी और अचानक उसकी ज़बान मेरी चूत के छेद में घुस पड़ी तो ऐसा लगा जैसे गरम पिघलता हुआ लोहा मेरी चूत में घुस गया हो, मैं चिल्ला पड़ी.

कामिनी की बाहों में-1

कामिनी ने मुझे बिस्तर पर लिटा दिया और मेरे दोनों दूध दबाते हुए मेरे होंठ चूसने लगी। ऊफ़ उसकी ज़बान इतनी चिकनी, गर्म और इतनी लम्बी थी कि मेरे पूरे मुँह में मचल रही थी और मेरे गले तक जा रही थी।

मर्द तलाशती फ़िरती हूँ

मैं हर जगह अपने लिए मर्द तलाशती फ़िरती हूँ, अपना बदन दिखाती फ़िरती हूँ, अक्सर सड़क पर चलते-चलते मैं मर्दों की पैन्ट का उभार सहला देती हूँ, कहीं बैठती हूँ तो टांगें फ़ैला कर! ताकि लोग मेरी चूत के दर्शन कर सकें!

ससुर से मिला यौन सुख

मैंने ख़ुद पाँव लम्बे किए और चौड़े कर दिए वो ऊपर चढ़ गए। धोती हटा कर लंड निकाला और भोस पर रगड़ा। मेरे नितम्ब हिलने लगे। वो बोले: साहिरा बेटी, ज़रा स्थिर रह जा, ऐसे हिला करोगी, तो मैं कैसे लंड डालूँगा?

फ़ोन पर सेक्स की बातें

प्रेषिका : स्वाति शायद आप मेरे बारे में यह सब जानना चाहेंगे : मैं स्वाति हूँ, सेक्स की मूर्ति! और मैं आपके लिए वो सब कर सकती हूँ जो आपकी पत्नी आपके लिए कभी नहीं कर पाएगी। क्या आप मेरे बदन की सैर करना चाहेंगे? मैं आपको ले चलती हूँ। मेरा हर छेद कोमल, गीला, […]

पति के सामने नताशा

उसने मुझे कन्धों से पकड़ कर नीचे की ओर झुकाया। मैं उसके सामने घुटनों के बल बैठ गई और मैंने धीरे से आलोक की पैंट खोल कर उसके लिंग को अन्डरवीयर से बाहर निकाला।

मेरी अन्तर्वासना – सेक्सी स्वाति

मेरे कई प्रेमी बहुत चकित हो जाते हैं कि सुबह मेरी आंख खुलने से लेकर रात को सोने तक, मैं चुदाई के बारे में उससे भी अधिक सोचती हूँ जितना वे सोचते होंगे!

सबसे ऊपर जाएँ