शबाना चुद गई ट्रेन के बाथरूम में

नैनीताल से दिल्ली ट्रेन से आते समय एक लड़की मेरे साथ बैठी. रात का समय था, सब सो रहे थे लेकिन मैं उस सेक्सी माल को देखे जा रहा था. हिम्मत करके मैंने उसकी चूची को छू दिया. फिर क्या हुआ?

बेशर्म साली-4

सब लड़कियों की तरह रेखा रानी को भी चुदाई का कण्ट्रोल अपने हाथ में लेकर बड़ा मज़ा आ रहा था. उसने अपना निचला होंठ दांतों में दबा रखा था और हचक हचक कर मुझे चोद रही थी.

पुत्र वधू की सुहागरात-1

पत्नी की मृत्यु के बाद घर संभालने के लिए मैंने अपने बेटे की शादी की और बेटी जैसी बहू को घर ले आया. लेकिन एक दिन जब मैं दफ्तर से जल्दी लौट आया तो मैंने घर में क्या देखा?

योनि का दीपक- भाग 4

“किक मी हार्ड बास्टर्ड…!” मैं कलाकार पर चिल्लाई। उसकी इतनी शराफत असह्य थी, मैं कठोर व्यवहार चाहती थी, मैं अपने प्रति गुस्से से भरी थी। कलाकार ने जोर से धक्का दिया और मेरे कौमार्य पटल को फाड़ता जड़ तक घुस गया।

सौतेली माँ के साथ चूत चुदाई की यादें-7

नया लंड पाने की चाहत में हम माँ बेटी ने अपने लिए एक जवान ड्राईवर रख लिया. सेक्सी स्टोरी के इस भाग में पढ़ें कि हम दोनों ने कैसे उस अनाड़ी लड़के को सेट करके चुत चुदाई के मजे लिए.

माँ की गांड का दीवाना-2

मेरी जवानी भी अब कुछ ज़्यादा ही उफान मारने लग गयी थी।ऐसे ही एक रात मैं अपनी माँ की गांड पर हाथ फिरा रहा था कि मुझसे रुका नहीं गया और मैंने ज़ोर से अपनी माँ की गांड को दबा दिया।

पड़ोसन के साथ लेस्बियन सेक्स रिलेशन

मेरे पड़ोस में एक लेडी रहने आई, उससे मेरी दोस्ती हो गयी और हम दोनों हर तरह की सेक्सी बार करने लगी थी. एक दिन हम दोनों की सेक्सी बातों ने हमें आपस में ही लेस्बियन सेक्स करने पर मजबूर कर दिया.

दीदी का नंगा बदन देख जागी मेरी कामुकता-1

यह सेक्स कहानी मेरी और मेरी दीदी की है. बाथरूम नहीं होने के कारण दीदी आंगन में नहाती थी तो मुझे कभी दीदी के चूचे दिख जाते थे, तो कभी उसके नंगे चूतड़ दिख जाते थे तो मुझे शर्म भी आती थी पर अच्छा भी लगता था.

सौतेली माँ के साथ चूत चुदाई की यादें-5

अब तक की चुदाई कहानी में आपने पढ़ा कि जगत ने मेरी चूत को अपने आठ इंच लम्बे और मोटे मूसल लंड से चोद कर मुझे थका डाला था और… [Continue Reading]

सौतेली माँ के साथ चूत चुदाई की यादें-3

वो मुझे अपने पास घसीट कर ले आया और मुझे सीधा लिटा कर मेरी चूत पर अपना मुँह मारने लग गया. मेरी चूत को उसने जितना खोल सकता था खोल लिया और मेरी दोनों टांगें फैला दीं.

सौतेली माँ के साथ चूत चुदाई की यादें-2

आशीष के दोस्त चंदर ने मुझे चोदने के बाद आशीष की माँ बिंदु को चोदने का मन बना लिया था और उसने रात को मुझे बिंदु के साथ आशीष से चुदते हुए देखा और बिंदु को धमकाते हुए चुदाई के लिए अपने कमरे में आने को बोला.

पापा की चुदक्कड़ सेक्रेटरी की चालाकी-3

माँ, देखो आपका बेटा आपके साथ क्या कर गया. आपने इस बेटी को पराया समझ कर अपने बेटे से चुदवा दिया और आपका असली बेटा आपको ही चोद गया. अब उसके मुँह खून लग चुका है, जब भी उसका दिल करेगा, वो आपको चोदेगा.

पापा की चुदक्कड़ सेक्रेटरी की चालाकी-2

मेरे पापा की सेक्रेटरी ने मेरे पापा से सेक्स सम्बन्ध बना कर उन्हें गर्भ की झूठी बात बता कर शादी कर ली. अब उसने अपना खेल शुरू किया. उसने अपने बेटे और मुझे भी सेक्स के खेल में शामिल करने की कोशिश जारी रखी.

सरकारी अस्पताल में मिला देसी लंड-2

मैं सरकारी अस्पताल में किसी देसी लंड की तलाश में था, एक लंड मुझे पसंद भी आया था लेकिन उसने मुझे पहले तो दुत्कार दिया था लेकिन फिर वो मेरे पास आया.

लिफ्ट-ड्रॉप यानि उठा-पटक वाली चुदाई-6

हम चारों किचन में जा जमे. नताशा को हमने लिकर और खुद वोदका पीने लगे. इस बार हमने आज की शाम की मलिका नताशा के नाम का जाम पिया. “और… [Continue Reading]

प्लेबॉय बनने के लिए चुत चुदाई का टेस्ट

मुझे अपनी पढ़ाई के लिए पैसे की जरूरत थी तो मेरा दोस्त मुझे एक जगह ले गया और एक मैडम से मिलवाया. मैडम ने कहा कि इसका टैस्ट लिया जाएगा. मेरा दोस्त मुझे वहीं छोड़ कर चला गया. उसके बाद वहां क्या क्या हुआ? मेरी इस सेक्स कहानी में पढ़ें!

लिफ्ट-ड्रॉप यानि उठा-पटक वाली चुदाई-4

मैंने शो की शानदार समाप्ति पर आखिर तालियाँ बजानी शुरू कर ही दीं और बोला- शाबाश आर्थर, गज़ब की परफॉरमेंस! और मेरी प्यारी पत्नी, तुम तो अनमोल हो! तुम्हारे लिए… [Continue Reading]

सड़क पर नये यार का लंड चूसने का मजा

मैं अपने बॉयफ्रेंड से गांड मरवा चुकी थी और एक शाम रेस्तरां में मैं अपने यार के साथ बैठी थी तो उसके दो दोस्त मिल गए. उनकी बातों से मुझे लगा गया कि वे दोनों बहुत चालू हैं. उनकी बातें मुझे अच्छी लगने लगी. फिर क्या हुआ… यह जानने के लिए मेरी पूरी कहानी पढ़ें!

लिफ्ट-ड्रॉप यानि उठा-पटक वाली चुदाई-3

इतने समय से मेरी प्राणप्यारी पत्नी की गांड मारते हुए आर्थर ने अभी तक अपनी गति कम नहीं की थी, और मेरी देवी जैसी पत्नी भी पूरे मनोयोग से उसके… [Continue Reading]

लिफ्ट-ड्रॉप यानि उठा-पटक वाली चुदाई-1

मैं एक भारतीय हूँ, रूस में रहता हूँ. एक राष्ट्रीय दिवस पर मैं अपनी रशियन बीवी के साथ उत्सव स्थल पर घूम रहा था. कि हमें दो विदेशी युवक मिले जो रूस में नए थे. वे मेरी पत्नी की ओर आकर्षित हो गए और फिर जो हुआ… कहानी में पढ़ कर मजा लें!