खुले स्थान पर चुदाई की कहानियाँ

खुले स्थान पर जैसे छत पर, समुद्र तट या बाग बगीचे में चुदाई की कहानियाँ

Khuli jagah par jaise garden, beech, road side, chhat par chudai ki kahaniyan

Stroies about sex fucking in the garden, at the beech, or on the roof

सिनेमा हॉल में मैडम की चुदाई

मैं एक दिन कम्पनी मैं एक कम्प्यूटर को ठीक करने गया. वहाँ मुझे एक लड़की चोदने लायक माल लगी. मैंने उसको चोदने के लिए कैसे प्लान बनाया इस सेक्सी स्टोरी में पढ़कर मज़ा लें।

कमसिन जवानी की चुदाई के वो पन्द्रह दिन-13

मुझे थोड़ी खुशी हुई कि चूत की खुजली मिटाने वाले मिल गए. इस वक्त मैं बिना लंड के रह ही नहीं पा रही थी. क्योंकि अभी थोड़ी देर पहले ही मुझे अधूरा चोद के छोड़ दिया गया था.

कमसिन जवानी की चुदाई के वो पन्द्रह दिन-11

मम्मी ने मुझे जगाया पर मम्मी मुझसे नजरें नहीं मिला पा रही थीं, ना मुझसे बात कर पा रही थीं. मुझे भी संकोच लग रहा था. आखिर रात में मैंने मम्मी को चुदवाते जो देखा था.

बस में मिली प्यासी चूत वाली भाभी

मैं दिल्ली से रात में स्लीपर बस में बैठा तो मेरे साथ एक आकर्षक भाभी बैठ गयी. उससे बातें हुयी. फिर उसने एक चार्द ओढ़ ली और मेरे कंधे पर सर रख लिया. आगे क्या हुआ?

बस स्टॉप के पीछे गर्लफ्रेंड को चोदा

मेरे काल सेण्टर में काम करने वाली एक लड़की मुझे पसंद करने लगी, उससे मेरी दोस्ती हो गयी. एक बार सिनेमा हाल में हम दोनों आपस में चूमाचाटी से गर्म हो गए और ...

बस में चुत चटाई की लेस्बियन कहानी

मैं अपनी सहेली के साथ स्लीपर बस में हरियाणा से राजस्थान जा रही थी. रात का सफ़र था. चलती बस में हम दोनों ने कैसे एक दूसरी को लेस्बियन सेक्स का मजा दिया. पढ़ें!

गैर मर्द के लंड से चुदने की चाह

मेरी सहेली ने रोज नए नए लंड लेने की बात बतायी तो मेरी चूत भी गीली हो गयी गैर मर्द के लंड की तमन्ना से ... लेकिन इसमें डर लगा बदनामी का ... फिर मेरी चाह कैसे पूरी हुई?

कमसिन जवानी की चुदाई के वो पन्द्रह दिन-2

मेरे दादा की उम्र के अंकल मुझे कार में चोद रहे थे और उनके दोस्त पास बैठे मुझे देख कर लंड मसल रहे थे. मेरी चूत में आग लगी थी तो मैं बेशर्म हो चुकी थी.

कामुकता की इन्तेहा-14

रात के 12 बज चुके थे, मैं अपने 2 शानदार, जानदार यारों के साथ गाड़ी में नंगी बैठी थी। अब मैं 2-2 लौड़ों से चुदने के बेताब हो चुकी थी लेकिन वो दोनों जल्दी नहीं कर रहे थे.

कमसिन जवानी की चुदाई के वो पन्द्रह दिन-1

मैं मौसी की बेटी की शादी में गयी थी पन्द्रह दिन के लिए. उन दिनों में कई मर्दों ने मेरी चुदाई की. इस भाग में पढ़ें कि मैं अपनर दादा की उम्र के आदमी से चलती कार में कैसे चुदी.

कामवासना पीड़िता के जीवन में बहार-3

मेरे प्यासे जीवन में ज़िम ट्रेनर बहारें भर रहा था. उसने मेरे साथ किस तरीके से सेक्स क्या, मुझे कितना मजा दिया, क्या क्या किया. पढ़ कर मजा लें! लेकिन एक दिन उसने मुझे बताया कि ...

हवसनामा: मेरी तो ईद हो गयी

निकाह के बाद मुझे शौहर मिला तो गल्फ वाला ... दो साल बाद आता तो चूत की चुदाई होती, बाक़ी सारा वक्त फाके ... आखिर अपनी चूत की तरावट के लिए मैंने क्या किया?

सिनेमा हाल में मिली औरत को चोदा

सिनेमा हाल में मेरे बराबर में बैठी एक अजनबी औरत ने मुझे छेड़ा तो मेरा लंड खडा हो गया. उसके बाद उसने मेरे साथ क्या किया? पढ़ें मेरी देसी सेक्स कहानी में!

नर्स सेक्स स्टोरी: गदर माल

मैं अस्पताल में काम करता था. मैंने तब तक कोई लड़की नहीं चोदी थी. मैंने पहली बार चोदा उसी अस्पताल की एक नर्स को... कैसे क्या हुआ, पढ़ें इसे नर्स सेक्स स्टोरी में!

लंड के मजे के लिये बस का सफर-1

मेरे ऑफिस की लड़की ने मेरा लंड लेने के लिए क्या जुगाड़ किया. हमने ऑफिस टूअर पर साथ साथ जाना था तो उसने ट्रेन छोड़ स्लीपर बस में जाना तय किया. हम दोनों एक केबिन में थे.

चुदाई का मौक़ा लंड का चौका

यह कहानी एक घमंडी औरत जो एक काल्पिनक किरदार है, उसकी चुदाई की है. ललिता को मैंने शादी में और उसके घर में उसके पति की अनुपस्थिति में भी चोदा था.

जंगल सेक्स: कामुकता की इन्तेहा-12

इस जंगल सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरे यार ने मुझे पहाड़ी जंगल में लेजाकर चोदा. हम एक शादी के पंडाल में थे. उसने मेरी गांड में वाइब्रेटर घुसा रखा था, मेरी फुद्दी में आग लगी थी.

बस का सफर और प्यासी जवानी का साथ

मैं कॉलेज ज्वाइन करने के लिए बरेली से गाजियाबाद जा रहा था तो रात के बस के सफर में मुझे एक महिला मिली. उसकी जवानी प्यासी थी. उसने मेरे साथ क्या किया? पढ़ें और मजा लें!

दीदी की सहेली को कार में चोदा

पिछली कहानी में आपने पढ़ा कि मैंने दीदी की सहेली को चोदा. इस बार मैंने आधी रात में सड़क किनारे कार में लहंगा उठा कर चोली खोलकर उसकी चुदाई की. वो शादी के लिए तैयार हुई थी.

मेरी कुंवारी बुर की ठुकाई की चाहत

अंतर्वासना की कहानियाँ पढ़ मेरी चूत लण्ड लेने को मचलती थी। मन करता था कोई मेरी चूत चूसे, मेरे दूध दबाये, मेरी चूत में खीरे जैसा लण्ड डाल कर फाड़ डाले। मैंने पहला लंड कैसे लिया?

Scroll To Top