पड़ोसन भाभी की चूत चुदासी लंड की प्यासी

मेरे पड़ोस में एक भईया रहते हैं. उनकी शादी को एक साल हुआ है. मैंने भाभी को पटाया भी, उनके घर में जाकर उन्हें चोद भी दिया. यह सेक्स कहानी उन्हीं भाभी के साथ मेरी चुदाई की है.. मजा लीजिएगा.

पड़ोसन भाभी की चुदास मिटाई

एक दिन मैंने मेरी पड़ोसन आंटी को नंगी नहाते देख लिया तो उसके बाद से वो मुझे मुस्कुरा कर देखने लगी. एक दिन उन्होंने मुझे अपने पास बुलाया. मेरे साथ क्या हुआ इसका पूरा मज़ा लेने के लिए मेरी अन्तर्वासना की कहानी को पढ़ें.

सुबह सवेरे पार्क में भाई से चुदी

गली के लफंगों ने पार्क मेरी ज़बरदस्त चुदाई करी… मैं तो चुदते चुदते बेहोश हो गई थी। होश आई तो मेरे कपड़े फटे हुए थे. नंगी घर कैसे जाती… तो इस समस्या से मैं कैसे निपटी, पढ़ें मेरी इस नई सेक्स कहानी में!

भाभी की भतीजी से वासना भरा प्यार और चुदाई

मेरे भाई की शादी के बाद भाभी की दो भतीजी हमारे घर रहने आई. उनमें से छोटी वाली मुझे पसंद आ गई. हमारी दोस्ती हो गयी. उसके बाद क्या हुआ, मेरी सेक्स कहानी में पढ़ कर मजा लें!

बीवी को गैर मर्द के नीचे देखने की चाहत-3

मैं अपनी बीवी को गैर मर्द से चुदवाने ऋषिकेश ले गया था. वहां पर मैंने उन दोनों को मौक़ा दिया. आखिर मैंने अपनी बीवी को अपनी आँखों के सामने चुदते देखा या नहीं? पढ़ें मेरी बीवी की चुदाई की कहानी में!

कमसिन बेटी की महकती जवानी-4

मैं टीचर के साथ क्लास में बिल्कुल अकेली थी, तो उसने मुझको किस किया, मेरे जिस्म पर हाथ फेरा. पता नहीं क्यों वह मुझे अच्छा लगा. उसके बाद जब भी मौका मिलता वह मेरा ब्लाउज खोल मेरी चूचियों को चूसता!

अधूरी ख्वाहिशें-3

मेरे दोस्त की बीवी मुझे अपने सेक्स जीवन के बारे में बता रही थी. एक बारिश वाली रात में उसने अपनी बहन और भाई को एक अकेले कमरे में नंगे देखा, भाई नंगी बहन के ऊपर लेटा हुआ था और उसके चूतड़ ऊपर नीचे हो रहे थे.

मैं फिर भी तुमको चाहूँगा

मैंने पढ़ाई के लिए किराये पर कमरा लिया, मेरे पड़ोस में एक परिवार रहता था जिसमें एक भाई 28 साल का और एक बहन 32 साल की थी. एक दिन मैं बाथरूम गया तो अंदर से मुझे चूड़ियाँ खनकने की आवाज आई.

गुजराती आंटी को पटा कर चोदा

एक गुजराती आंटी मेरी पड़ोसन हैं, आंटी की गांड बहुत बड़ी है और बहुत नशीली भी. मैं आंटी के पीछे बहुत वक्त से लगा हुआ था और उन पर कुत्ते की तरह नजर रखता था कि कब तो मुझे मिले चांस उसे चोदने के लिए…

नौकर के बेटे की वासना भरी निगाहें-1

कम मैं भी नहीं हूँ, पति जब बाहर नित नई चूत को चोद रहे हों, तो मैं कैसे बिना मर्द के रह सकती थी। मैंने भी अपनी जवानी को बहुतों पर लुटाया है। मैंने कभी इस बात की परवाह नहीं की कि जो मेरे ऊपर चढ़ने जा रहा है, वो कौन है।

मेरा नौकर राजू और मेरी बहन-5

मेरी सेक्स कहानी के पिछले भाग मेरा नौकर राजू और मेरी बहन-4 में आपने पढ़ा कि मेरी छोटी बहन सीमा अपने नौकर के साथ पहली बार सेक्स करने जा रही… [Continue Reading]

भाभी के जिस्म की चाहत-1

हमारे घर पर नये किराएदार रहने आये। भाभी घरेलू औरत हैं, मुझे बहुत अच्छी लगती हैं. मेरा दिल भाभी की सादगी पर आ गया था और मेरे मन में उस देसी भाभी के जिस्म को पाने की एक चाहत सी हो गयी थी.

फ़ेसबुक पे पटा कर चंडीगढ़ में चोदा-2

फेसबुक पर मेरी दोस्ती एक लड़की से हुई, बात आगे बढ़ी और मिलने तक पहुंची, मिलने के बाद सेक्स तक पहुंची और आखिर हम दोनों पहुँच गए होटल के कमरे में! वहां क्या क्या कैसे कैसे हुआ, पढ़ें मेरी सेक्स स्टोरी में!

काजल की चुदाई: दूध वाला राजकुमार-8

काजल की हालत ऐसी हो चुकी थी, बाल कहीं जा रहे थे, आंखों का काजल भी फैल गया, होंटों से पानी बाहर आ चुका और आंखें बन्द। इसके अलावा चूत की जड़ तक जाते झटकों से अब काजल का सर भी पीछे दीवार से टकराने लगा था।

भाभी ने की लंड पर सर्जिकल स्ट्राइक

मैं अपने मामा के घर गया था, एक सुबह मेरा उस्ताद अपनी मस्ती में खड़ा था, मैं नींद में उसे मसल रहा था। मुझे पता नहीं था कि मेरे मामा के बेटे की पत्नी यानि भाभी वहीं बाजू में खड़ी खड़ी मेरी हरकतें देख रही थी.

काजल की चुदाई: दूध वाला राजकुमार-7

काजल पूरे मूड में थी और अपने चूतड़ और चूत को चुदवा चुदवा कर मानो फड़वान चाहती थी रत्नेश भैया से, क्योंकि रत्नेश भैया ने सुबह ही अपनी मस्त जवानी और ताकतवर चुदाई का ट्रेलर दिखा दिया था।

डॉक्टरनी के साथ पंचतारा होटल में मस्ती

मेडिकल कॉलेज में एक डॉक्टरनी से मेरी दोस्ती हुई और हमने दो साल तक पति पत्नी की भांति चुत चुदाई का सुख भोगा. जब उसकी शादी होने लगी तो उसने मुझे होटल रूम में दो दिन तक अपने साथ रखा. पढ़ कर मजा लें!

दोस्त की शादी में मेरी सुहागरात

मैं अपने एक दोस्त की शादी में गया, वहां दोस्त की बुआ की बहू यानि दोस्त की भाभी मेरे दोस्त से मजाक कर रही थी. उस भाभी से मेरी दोस्ती कैसे हुयी एयर मैंने कैसे चुदाई सुख का मजा दिया. पढ़ें भाभी की चुदाई कहानी में!

पति से ना मिला शादी का सुख

मैं मेल एस्कोर्ट यानि जिगोलो हूँ. एक बार मुझे एक नवविवाहिता लड़की ने अपने लिए बुक किया. मैंने उसके तन की प्यास को कैसे बुझाया, पढ़ें मेरी इस सेक्स कहानी में!

मेरा कौमार्य भंग नवविवाहिता भाभी के संग

यह कहानी मेरे और पड़ोस में रहने वाली नवविवाहिता भाभी के बीच हुए पहले संसर्ग की है। पड़ोसी भैया की नई नई शादी हुई थी और उनकी नाईट ड्यूटी लगती थी. मुझे मौक़ा मिल गया. कैसे?