विधवा पिंकी आन्टी ने घर बुला कर गांड मरवाई

मैं आधार कार्ड बनाने एक गाँव के स्कूल में काफ़ी दिन रहा। वहाँ खाना बनाने वाली एक आंटी ने मुझे पटा कर अपनी गांड और चूत मरवाई, पढ़ें इस कहानी में!

विधवा टीचर के तन की प्यास

आगरा की एक विधवा टीचर ने मुझसे सम्पर्क किया अपने प्यासे बदन की अन्तर्वासना शान्त करने के लिए क्योंकि मैं जिगोलो हूँ। कहानी में पढ़िए कि मैंने उसे संतुष्ट किया!

विधवा मामी के साथ सेक्स सम्बन्ध

मेरी विधवा मामी हमारे ही शहर में रहती थी। बड़ा सेक्सी माल थी पर बेचारी की अन्तर्वासना प्यासी थी। मामी ने मुझसे सेक्स की बात करके और अपने बदन की झलक दिखा कर मुझे फ़ांस लिया।

जवान विधवा टीचर की मस्त चुदाई

घर पर पहुँचते ही अनुराधा ने मेरे ऊपर चुम्बनों की बरसात कर दी। मैं भी कहाँ पीछे रहने वाला था, मैंने भी उसके एक-एक कपड़े उतार कर उसको पूरी नंगी कर दिया.

तलाकशुदा आरती की चूत चुदाई

यह मेरी सच्ची कहानी है। मेरा नाम मनु हैै और मैं पंजाब का रहने वाला हूं। मेरे ऑफिस में एक खूबसूरत तलाकशुदा लड़की ने मुझसे कैसे चूत चुदवाई.. यह उसकी कहानी है…

शीतल की चूत की प्यास

मेरे मकान मालिक की तलाकशुदा बेटी ने मुझे मेरी ग्राहक के साथ देख लिया तो पूछने पर मैंने उसे बताया कि मैं जिगोलो हूँ. इस पर उसने भी मेरी मदद चाही अपने प्यासे तन की आग शांत करने के लिए !

गाजियाबाद की चुदासी औरत

मुझे एक मेल मिला.. जो कि गाजियाबाद से था। उसकी उम्र 36 साल की थी और वो विधवा थी। उसके पति उससे कहीं ज्यादा उम्र के थे.. पैसे के कारण नीलम में उससे शादी कर ली थी।
शादी के दस साल बाद उसके पति का स्वर्गवास हो गया, उसे मेरी मदद चाहिए।

मैडम, आप बहुत गरम माल हो!

MLM कम्पनी की मीटिंग में एक मैडम मुझे पसंद आ गई, उसी ने मुझसे पूछा उसके साथ काम करने को… मैं उसके साथ काम करने लगा.. एक दिन उसके घर जाते वक्त मैं भीग गया

लिफ्ट देकर चूत मिली

देर रात को एक लड़की ने मुझसे लिफ्ट मांगी, उसके घर पहुँचने पर उसने चाय के लिए कहा तो मैं कैसे मना करता ! अंदर जाकर क्या क्या हुआ, आप कहानी में पढ़ें !

ऑफिस की विधवा नीलू की चूत चुदाई

अपनी बीवी से मेरे सम्बन्ध खराब थे, अपनी अन्तर्वासना की शान्ति के लिए ऑफिस की एक विधवा लड़की को मैंने पटाया, वो भी प्यासी थी… तो जल्दी ही मेरे नीचे आ गई…

मेरा गुप्त जीवन -4

सुन्दरी के जाने के बाद मैंने अपनी नई नौकरानी को पटाया और उसका नंगा बदन देखा, अपने सामने उससे चूत में ऊँगली करवा के देखा… फिर सुन्दरी का ब्याह हो गया और मोटी नौकरानी किसी के साथ भाग गई… अब मुझे मिली कम्मो.. मेरी नई नौकरानी… वो एक जवान विधवा थी… मैंने आहिस्ता से उसको पटाना शुरू कर दिया। उसके चूतड़ पर हाथ फेरा तो वह मुस्करा कर बोली- छोटे मालिक ज़रा संभल के… कोई देख न ले। कहानी पढ़ कर मज़ा लें…

विधवा चाची की चूत की अगन -1

चाची की उम्र 26 साल थी.. जब चाचा ने दुनिया को छोड़ दिया.. मैं उस समय 18 साल का हुआ ही था.. जब ये सब हुआ। मैं अक्सर घर पर ही रहता था.. तो कभी-कभार उन्हें छू लेता था.. कभी हाथ पकड़ना.. कभी उनके चूचों को छू लेना.. मगर वो कभी ग़लत नहीं समझती थीं। चाची को छुप-छुप कर नहाते हुए देखना.. यह मेरी रोज की कहानी थी। मैं उनके नाम की मुठ्ठ.. दिन में पता नहीं कितनी बार ही मार लिया करता था।

विधवा की चुदाई की प्यास

जैसे ही उसने दरवाज़ा बंद किया तो मैं उसको अपने पास खींच कर, उसके होंठों को चूसने लगा। उसके होंठ बिल्कुल गुलाब की तरह नर्म और गुलाब-जामुन से भी ज्यादा मधुर थे।

गाँव की प्यासी आंटी

अन्तर्वासना को मेरा बहुत नमस्कार मैं अन्तर्वासना का निमियत पाठक हूँ। मेरा नाम सुरेश है। मैं अहमदाबाद का रहने वाला हूँ और मैं 22 साल का गबरू जवान हूँ। मैं… [Continue Reading]

रश्मि और रणजीत-1

फारूख खान डॉक्टर रश्मि शर्मा पेशे से डॉक्टर है और एक सरकारी अस्पताल में जॉब करती है, पर दुर्भाग्य से वो अब विधवा है। रश्मि की उम्र 24 वर्ष है,… [Continue Reading]

सहेली की तड़फती जवानी-1

सारिका कंवल नमस्कार दोस्तो, मैं सारिका कँवल आप सभी पाठकों का हार्दिक धन्यवाद करना चाहती हूँ जिन्होंने मेरी कहानियों को तहेदिल से सराहा। मुझे आपके ढेर सारे मेल मिले, पर… [Continue Reading]

अपनी चूत खुद ही फाड़ दी -3

मैं अपनी यौन जरूरतें अपनी उंगली, घर में रखी हुए सब्जियों जैसे बैंगन, तोरी, खीरा, केला गाजर से पूरी करती हूँ।

चूँकि मुझे पता था कि अब मैं शादी नहीं करूँगी इसलिए मैंने अपनी फ़ुद्दी के साथ कुछ अलग ही प्रैक्टिकल किया था, मगर आप लड़कियाँ, बहनें और आंटी ल्पीज़ आप ऐसा कुछ करने की कोशिश मत करना, इन सब से दूर ही रहना…

अपनी चूत खुद ही फाड़ दी -2

मैंने देसी शराब की बोतल निकाली, साथ मैं एक लम्बा-मोटा बैंगन भी, और अपना कपड़े उतार कर ब्लू फिल्म देखने लगी और साथ में फ़ुद्दी में लम्बा-मोटा बैंगन डालने लगी, जब मेरी चूत को बैंगन ने पूरी तरह खोल दिया तो मैंने अपनी फ़ुद्दी, जो पहले से ही बहुत बड़ी और खुली हुई थी, मैंने शराब की बोतल उठाई और अपनी चूत को सोफ़े के ऊपर टाँगें खड़ी कर के, फ़ुद्दी को दो उंगलियों से खोल कर दूसरे हाथ से फ़ुद्दी में शराब भरने लगी।

अपनी चूत खुद ही फाड़ दी -1

शराब की बोतल निकाली, एक गिलास भरा और बाकी एक जग में पूरी बोतल उलट दी। मैंने अपनी साड़ी को ऊपर किया, पैंटी नीचे की और अपनी फ़ुद्दी से जग में पेशाब करने लगी, मैंने सोचा कि अब सालियों को मज़ा आएगा।

क्या करूं मैं?

अब बाक़ी की उम्र गुजारने के लिए मुझे किसी के साथ की जरूरत है, सच्चाई यह भी है कि मैं अपनी यौनेच्छाओं संतुष्टि के लिए बिस्तर में एक महिला चाहता हूँ.