सहेली के भाई से चुदाई करवा बैठी

मुझे चुदाई का शौक है, मैं अपनी सहेली के साथ कालबॉय से चुदवाती हूँ. लेकिन मुझे अपनी सहेली का भाई बहुत अच्छा लगता है. एक दिन मैंने उससे अपनी चूत की चुदाई करवा ही ली. कैसे? पढ़ कर देखें!

बहूरानी के मायके में चुदाई-3

हसीनाओं की ये भोली अदाएं ही तो चुदाई का आनन्द दोगुना कर देतीं हैं; इनका ये रोना धोना, नखरे कर कर के चुदना, एक प्रकार का कॉम्प्लीमेंट, उत्साहवर्धक ही है हम चोदने वालों के लिये.

कामुक ब्यूटीपार्लर वाली की चूत को चोदा

मेरे ऑफिस के पास एक ब्यूटीपार्लर है. उसमें एक खूबसूरत लड़की को मैं आते जाते देखता था, नजर मिलती तो मैं मुस्कुरा देता था. वो मुझे देखती रहती थी. मैंने उससे दोस्ती कैसे की और कैसे चोदा!

दिल्ली की चूत चंडीगढ़ का लंड

मैं चंडीगढ़ में कैब चलाता हूँ. एक बार मुझे एक बुकिंग मिली, वो अकेली लड़की थी, पहली बार दिल्ली से चंडीगढ़ आई थी. मैंने कैसे उस लड़की को चोदा, पढ़ें मेरी सेक्स कहानी में!

अय्याश माँ बेटी की चूत चुदाई एक साथ

कॉफी हाउस के बाहर एक ऑडी के साथ लग कर शॉर्ट्स और ऑफ शोल्डर्स में दो लड़कियां खड़ी बीयर पी रही थीं. उनकी खूबसूरती देख कर मैं देखता ही रह गया. तो एक बोली- क्या प्रॉब्लम है?
फिर क्या हुआ?

गांव की लड़की के साथ हसीन रातें

मेरे आफिस में काम करने वाली एक गांव की लड़की की चुदाई मैंने कैसे की। उसका उसके बॉयफ्रेंड से ब्रेकअप हुआ था और परेशान थी. शायद उसे चुदाई की लत लग चुकी थी तो उसने मुझसे अपनी चुदाई करवायी.

पराई नार की चूत चुदाई का मजा-2

उसका लौड़ा मेरे मुँह में था और उसके होंठ मेरी पेंटी पर थे. वो मेरी चूत को पेंटी के ऊपर से ही चूस रहा था, चाट रहा था. मैं कभी उसके लौड़े को चूसती, तो कभी उसकी गांड के छेद में जीभ घुमाती.

आपा के हलाला से पहले खाला को चोदा-2

मैंने लहंगे का नाड़ा खोल कर उतार दिया दिया और उनकी चूत पैंटी के ऊपर ही हाथ फेरने लगा. उन्हें जैसे करंट सा लगा, उन्होंने मुझे कस कर पकड़ लिया और मुझसे लिपट गयी.

भाई बहन ननदोई सलहज का याराना-6

मेरे साले की बीवी कपड़े उतार चुकी थी तो मैंने भी टीशर्ट, लोअर उतारकर पूरा नग्न होकर अपने पूर्ण नंगे बदन को सीमा के पीछे टिका दिया। मेरा लिंग उसकी गांड के छेद पर टिक गया।

मौसी की बेटी की सुहागरात से पहले

न्यू हिंदी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी मौसी की बेटी मेरी हमउम्र है, हम दोनों में हमेशा एक दूसरी से आगे निकलने की दौड़ रही है. शादी भी उसकी पहले तय हो गयी तो मैंने उससे उसमें भी जीत कैसे हासिल की?

बहू की मेहरबानी, सास हुई बेटे के लंड की दीवानी-4

वो समझ ही नहीं पा रही थी कि क्या उसे सच में लंड की जरूरत है। क्या उसे अब चुदवा लेना चाहिए। पर किससे… क्या अशोक से… नहीं… नहीं… वो बेटा है मेरा, मैं उससे कैसे चुदवा सकती हूँ।

मेरी अंतरंग डायरी: मेरी सेक्सी बहन की वासना-1

मेरी सौतेली मम्मी की बेटी काफी गर्म माल थी लेकिन मुझसे कटी कटी रहती थी. मेरी वही सौतेली बहन कैसे मुझसे चुदी, पढ़ें मेरी इस सेक्स कहानी में!

याराना-3

यह कहानी है दो दोस्तों की जो अब दोस्त नहीं रहे थे पारिवारिक कलह की वजह से… लेकिन दोनों एक दूसरे की बीवी को पसंद करते थे. उन दोनों दोस्तों ने अपनी चाहत कैसे पूरी की? पढ़ें इस कहानी में!

पड़ोसन भाभी और उनकी सहेली की कामुकता

मेरे पड़ोस में एक पढ़ी लिखी मॉडर्न हाउस वाईफ रहती हैं, दिखने में कामदेवी, नशीली आँखें, जिनसे शराब छलकती, गोरा बदन संगमरमर की मूरत सा तराशा हुआ… उन भाभी को मैं चोदना चाहता था परन्तु…

नंगी नहाती चाची को देखा, फिर चोदा

मेरा नाम सनी है, मैं पंजाब के एक छोटे कस्बे का रहने वाला हूँ। मेरी उम्र 28 साल, रंग नार्मल, हाइट 5 फुट 8 इंच है. कॉलेज की पढ़ाई मैंने… [Continue Reading]

रोहतक के मलंग ने हिला दिया पलंग-2

दिल्ली मेट्रो में मिले लड़के के तने हुए लिंग को याद करते हुए मैं उसे अपनी योनि में लेने के लिए तड़प रही थी. तभी उसका फोन आ गया. मैंने उसे अपने घर का पता देकर बुला लिया. फिर क्या हुआ?

अधूरी ख्वाहिशें-11

उसका पीछे का छेद खुल गया था और मैंने अपना लिंग उसके गुदा में उतार दिया। आगे नितिन का मोटा लिंग होने की वजह से पीछे का रास्ता खुद से ही संकुचित हो गया था और मुझे एकदम टाईट मज़ा दे रहा था।

दोस्त की दीदी ने मुझे पटा कर चूत चुदाई

मैं एक घर में पेईंग गेस्ट रहता था तो घर का मालिक मेरा दोस्त बन गया था क्योंकि हम दोनों हमउम्र थे. मेरे दोस्त की दीदी के पति उन्हें छोड़ कर कहीं चले गए थे. उन दीदी ने मुझसे कैसे पटाया और अपनी प्यास बुझाई… पढ़ें इस कहानी में!

अधूरी ख्वाहिशें-9

मैं अपनी पीठ उसके पेट से सटाते उस पर लगभग शौच की पोजीशन में बैठ गयी। मेरी गुदा का छेद उसके लिंग की टोपी पर टिक गया। अहाना मेरी योनि में उंगली करने लगी। मेरे दिमाग में फुलझड़ियां छूटने लगीं।

प्रीति भाभी का कैज़ुअल सेक्स-2

मैंने उसे गाली दी, जोश दिलाया- क्या मरियल की तरह चोद रहा है बे, इतनी शानदार औरत तेरे नीचे नंगी पड़ी है, और तू साला चूतिया उसे ढंग से चोद भी नहीं पा रहा है, अगर लौड़े में दम नहीं था तो पंगा ज़रूरी लेना था।