दोस्त की सेक्सी मॉम के साथ सेक्स किया

मेरे एक दोस्त के पापा नहीं है, मैं पहली बार उसके घर गया तो उसकी सेक्सी मॉम को देखा, वो काफी सुंदर थी और उनकी बड़ी बड़ी आँखें उनके बदन की प्यास दर्शा रही थी. मैंने उन आंटी को कैसे चोदा.

अगस्त 2018 की बेस्ट लोकप्रिय कहानियाँ

प्रिय अन्तर्वासना पाठको
अगस्त 2018 प्रकाशित हिंदी सेक्स स्टोरीज में से पाठकों की पसंद की पांच बेस्ट सेक्स कहानियाँ आपके समक्ष प्रस्तुत हैं…

मेरी और मेरी कामवाली की चुदास-1

मैं अकेली रह कर जॉब कर रही थी तो मैंने एक कामवाली लड़की रखी. वो खूबसूरत थी लेकिन किस्मत की मारी थी, उसे मेरा सहारा मिल गया. मेरा दिल उसकी कच्ची जवानी पर आ गया.

जिगोलो बनने की राह

मेरी दूकान के साथ वाले ब्यूटी पार्लर की मालकिन ने मुझसे लिफ्ट मांगी तो उससे दोस्ती हो गई और एक दिन जन्मदिन के बहाने मुझे अपने घर बुलाया. फिर क्या हुआ? पढ़ें इस जिगोलो स्टोरी में!

भाई बहन ननदोई सलहज का याराना-5

मैं मानता हूं कि हमारी सभ्यता और संस्कृति इसके विपरीत है किंतु भारत में भी अब ऐसा कल्चर है जहां पर लोग अपने मनोरंजन के लिए अपनी बीवियां बदल कर चुदाई करते हैं। और हम ऐसा मजबूरी में कर रहे हैं।

गलतफहमी में चुदाई का मजा

एक बार मैं रास्ता भटक गया तो एक महिला दिखी, उससे रास्ता पूछने वाला था कि वो एकदम से मेरा हाथ पकड़ कर मुझे घर में ले गयी और कहने लगी कि साले इतनी लेट क्यों आया. फिर क्या हुआ?

भाई बहन ननदोई सलहज का याराना-4

जो मजा रजामंदी के साथ सेक्स करने में है वह किसी को बेहोश करके करने में नहीं। बीवी की अदला बदली अगर अपनी चारों की मर्जी से हो तो उसका आनंद ही कुछ और है. अतः हम चुदाई उनकी रजामंदी से ही करेंगे।

पेयिंग गेस्ट से कामवासना की तृप्ति-1

मेरे पति मेरी चुदाई करते हुए ज्यादा फोरप्ले नहीं करते, सीधा कपड़े उतार कर लंड चुत में डालकर चोद कर झड़ जाते हैं। मेरे पति के एक दोस्त हमारे घर में पेईंग गेस्ट रहते थे. मैंने उनसे कैसे अपनी चूत चुदाई करवायी?

पड़ोसन भाभी की ठरक-1

मेरे पड़ोस की एक और भाभी थोड़ी ठिगनी थी लेकिन सेक्सी थी. उसकी नजर मुझे अपने ऊपर दिखाई दी, मुझे देख कर मुस्कुराती थी. एक दिन वो मुझे गैस सिलेंडर बदलने के लिए ले गयी और फिर…

कलयुग का कमीना बाप-8

सुबह सुबह मैं सो रही थी तभी पापा ने मेरे पास आकर अपना लंड मेरे गाल से सटाने लगे. मैं शायद कोई सपना देख रही थी इसीलिए मैंने अपना मुंह खोल दिया, पापा ने मेरे मुंह में अपना लंड घुसा दिया और पेलने लगे.

कलयुग का कमीना बाप-4

यह लड़की सेक्स के दौरान अपने पापा को इमेजिन कर रही थी, तो इसका अर्थ है इस लड़की के साथ बचपन से बेचारी बाप के द्वारा शारीरिक शोषण हुआ है, और वो इस हद तक हुआ है कि यह लड़की उस चीज की आदि हो चुकी है।

जुलाई 2018 की बेस्ट लोकप्रिय कहानियाँ

प्रिय अन्तर्वासना पाठको
जुलाई 2018 प्रकाशित हिंदी सेक्स स्टोरीज में से पाठकों की पसंद की पांच बेस्ट सेक्स कहानियाँ आपके समक्ष प्रस्तुत हैं…

कलयुग का कमीना बाप-1

यह कहानी कलयुग के एक बाप की है जो अपनी कोमल सी बेटी की भावनाओं से खेल कर उसको अपने प्यार में फंसाकर उससे सेक्स करता है। फिर अंत में उसे अपनी करनी का फल मिलता है।

बस में मिली माल लड़की और उसकी सहेली को चोदा

एक बार एक माल लड़की बस में मेरे से सेट हो गयी. असल में मैं अंतरवासना सेक्स स्टोरी पढ़ रहा था और वो भी अन्तर्वासना कहानी की शौकीन थी. उसके बाद क्या हुआ, कैसे हुआ… खुद पढ़ कर मजा लें!

पड़ोसन भाभी की चूत चुदासी लंड की प्यासी

मेरे पड़ोस में एक भईया रहते हैं. उनकी शादी को एक साल हुआ है. मैंने भाभी को पटाया भी, उनके घर में जाकर उन्हें चोद भी दिया. यह सेक्स कहानी उन्हीं भाभी के साथ मेरी चुदाई की है.. मजा लीजिएगा.

नई जगह, नये दोस्त-1

मैं गांड का शौकीन यानी गे हूँ, मेरी पहली पोस्टिंग दूर दराज के एक गांवनुमा कस्बे में हुई थी, वहां मेरे साथ हुई गांडू सेक्स की घटनाएँ मैं अपनी इस कहानी में आप पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहा हूँ.

रोहतक के मलंग ने हिला दिया पलंग-1

मैं दिल्ली के पॉश इलाके में रहती हूं। किसी चीज़ की कमी नहीं लेकिन पति से सम्भोग के मामले में मेरी किस्मत मुझे ज्यादा कुछ नहीं दे पाई। वो सेक्स तो करते लेकिन मेरी कामना फिर भी अधूरी सी रहती।

मेरी और बुआ की पहली चुदाई

यह सेक्स कहानी में मेरे और मेरी बुआ के बीच चुदाई की है. बुआ मुझसे दो साल बड़ी हैं, इतनी गोरी कि लोग उन्हें घर पर सफेद बिल्ली बोलते हैं. बुआ की शादी नहीं हुई थी तब जब मैंने बुआ की कुंवारी चुत को चोदा था.

अधूरी ख्वाहिशें-6

मेरी बहन मेरी चूत की झिल्ली अपनी उंगली से तोड़ चुकी थी. उसके बाद उसने मेरी योनि को साफ़ किया और अब उसके हाथ में एक लम्बा बैंगन था जो वो मेरी बेचारी चूत में घुसाने वाली थी. क्या होगा मेरा?

सास विहीन घर की बहू की लघु आत्मकथा-4

मेरी एक सहेली मुझे अपने प्रसव के समय क्या हुआ, उसके ससुर ने कैसे एक नर्स की भान्ति सेवा की, बता रही है कि कैसे उसने अपने ससुर के सामने लज्जा, संकोच और असहजता पर काबू किया.