प्यासी जवानी के अकेलेपन का इलाज़-5

मैंने पूजा की गांड में उंगली लगायी तो वो उछल पड़ी, बोली- साले, क्या तुझे चूत पसंद नहीं? कब से तू मेरी गांड के पीछे पड़ा हुआ है. मैं पहले भी बता चुकी हूँ कि मुझे गांड नहीं मरवानी!

बुआ की ननद बड़ी मस्त मस्त

मैं पढ़ाई के लिए अपनी चचेरी बुआ के घर रहता था. बुआ की ननद अपने ससुराल वालों से झगड़ा कर बुआ के पास आ गई. पता लगा कि उसका पति से चोद कर बच्चा नहीं दे पा रहा.

अतिथि-2

“डार्लिंग, तुम्हें घुड़सवारी पसंद है ना! चलो, आज नए घोड़े के ऊपर बैठ कर मजे लो, और मैं पीछे खड़ा होकर तुम्हारी प्यारी सी गांड को ठोकूंगा!” मैंने नताशा के मूड के अनुसार एक शानदार ऑफर पेश किया.

मेले में मिली भाभी की चूत को चोदा

नवरात्रि मेले में मुझे एक भाभी दिखी, खूबसूरत थी, अच्छी लगी तो मैं उसे घूरने लगा. वो झूले पर बैठी तो मैं भी लपक कर साथ बैठ गया. उसके बाद क्या हुआ? पढ़ें इस कहानी में!

मैंने अपनी बीवी की चुदाई देखी पड़ोसी अंकल से

मेरी सुंदर सी बीवी बहुत सीधी थी लेकिन मैंने उसे नेट पर अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पढ़ना सिखा दिया. इसके बाद उसका व्यवहार बदलने लगा. एक दिन उसने पूछा- आपका लंड इतना छोटा क्यों है?

प्यासी जवानी के अकेलेपन का इलाज़-3

मैं उसकी नंगी पीठ और चूतड़ों पर हाथ फेरते हुए बोला- मेरी रानी… मेरा लंड तुम्हारा है. तुम इससे जैसे चाहो खेलो… इसको अपने हाथों से खड़ा करो या फिर इसे अपने मुँह चूस चूसकर खड़ा करो!

पड़ोसन भाभी की गांड का दीवाना

मेरी पड़ोसन भाभी बहुत सेक्सी थी, उसे देख कर लंड खड़ा हो जाता था लेकिन मैं बहुत शर्मीला था. फिर भी मैंने भाभी की पहले गांड मारी और उसके बाद चूत की चुदाई की. यश कैसे संभव हुआ?

मेरी कमसिन जवानी की आग-12

उन 15 दिनों में हर रोज मेरी चुदाई हुई. वे दिन आज भी मैं याद करती हूं तो रोमांचित हो जाती हूं. मैंने वहीं पहली बार अपनी मम्मी को दो अंकलों से चुदते देखा था.

दो आंटियों की चुत चुदवाने की चाहत

मॉडलिंग में जाने के लिए मैं अपनी बॉडी को फिट रखता हूँ, सुबह को 7 बजे छत पर व्यायाम करता हूँ. एक दिन मैंने देखा कि दो औरतें मुझे घूर रही थीं.. साली रंडी ही लगती थीं.

चंड़ीगढ़ में मेल एस्कॉर्ट का जॉब

मैं अपनी गर्लफ्रेंड से बहुत प्यार करता था लेकिन उसने मुझे छोड़ दिया, मैं गम के अंधेरे में डूब गया. एक दिन न्यूज़पेपर में मैंने मेल एस्कॉर्ट की जॉब देखी. मैंने सम्पर्क किया तो उसके बाद क्या हुआ?

मेरी कमसिन जवानी की आग-10

मैं तेरी मम्मी की कल परसों अपने किसी दोस्त से चुदाई करवा दूंगा. तू ठीक उसी समय एकदम से सामने आ जाना और अपनी मम्मी को चुदते हुए देख लेना. फिर तेरी मम्मी कुछ नहीं कह सकेगी.

मेरी कमसिन जवानी की आग-8

तेरी मम्मी को मैं भी चोदने वाला था. सब बात हो गई थी. मैंने उसके दूध भी बहुत दबाए थे. तेरी मम्मी ने मेरा लंड चूस कर मेरा जल्दी से रस निकाला था और पी गई थी.

मेरी कमसिन जवानी की आग-5

मुझसे रहा नहीं जा रहा था. मेरी शर्म भी ना जाने कहाँ चली गई. मुझे यह भी नहीं होश कि क्या बोलना चाहिए, मैं बोली- अंकल चोद दीजिए.. मुझसे कुछ नहीं कहा जा रहा. न सह पा रही हूँ. बस जल्दी करिए.

ग्रुप सेक्स का ऑनलाइन मजा-2

ये वो दर्द था, जिसे हर महिला अनुभव करना चाहती है. ये वो मीठा दर्द है, जिसके लिए पसीने में लथपथ होकर एक महिला अपने तन बदन को पुरुष को सौंप देती है.

मेरी कमसिन जवानी की आग-4

तभी मेरी स्कर्ट को कोई दूसरा ऊपर करने लगा. मैंने अन्दर पैंटी नहीं पहनी थी, तो वे मेरी टांगें चौड़ी करके मेरी जांघों को चाटने लगे. उसी समय एक अंकल ने मेरे हाथ मेंअपना लंड पकड़ा दिया.

ग्रुप सेक्स का ऑनलाइन मजा-1

यह कहानी एक ऐसे दंपति की है जिनसे मैं एक वयस्क मित्रता साईट पर मिली. उनकी प्रोफइल में कुछ नग्न तस्वीरें, वीडियोज अपलोड थे. एक रात उन्होंने मुझे अपना कैम दिखाया.

गांड में लंड: सीनियर सिटिजन के लंड का दम-2

यह कहानी मेरी गांड में लंड की है. मेरे कॉंप्लेक्स के केयर टेकर अंकल मुझे रोज चोदते हैं. मुझे खूब मजा आता है. एक दिन उनका एक दोस्त आया. उस दिन उन दोनों ने मुझे चोदा, मेरी गांड भी मारी.

टैक्सी ड्राईवर को मिली सेक्सी गर्म चूत

मैं टूर टैक्सी ड्राइवर हूँ. मुझे एक पंजाबी परिवार को राजस्थान घुमाने का काम मिला. उनमें एक सेक्सी लड़की थी करीब 19 साल की… उसकी चूत काफी गर्म थी, उसने पहल करके मुझसे अपनी चूत चुदवाई. कैसे? पढ़ें!

दीदी के ससुर ने मेरी मम्मी को चोदा

यह कहानी काल्पनिक है. मैं सारा दिन चुदाई, सेक्स के बारे में सोचती रहती हूँ. इस कहानी में मैंने अपनी सेक्स भरी कल्पना से, जो कुछ मेरे दिमाग में आया लिख दिया. इस लिए लॉजिक को एक तरफ डाल कर कहानी पढ़ें!

ऑफिसर लेडी की चूत की आग

मैं एक ऑफिस में किसी काम से गया. ऑफिसर कोई लेडी थी. उसने मेरे पेपर्स को ध्यान से देखा और प्यार से मुझे समझाया. मुझे अपना कार्ड भी दिया कि प्रॉब्लम हो तो फोन कर लूँ!