देसी गर्ल

इंडियन देसी गर्ल, देसी लड़की की सेक्स कहानियाँ
Indian Desi girl, Village girl, Desi Ladki Ki Sex Stories

कमसिन जवानी की चुदाई के वो पन्द्रह दिन-16

मैं अति उत्तेजना में गाली देकर बोली- साले कुत्ते.. भैन के लौड़े.. और अन्दर डाल लौड़ा मादरचोद.. और जोर से चोद.. आह.. मैं मरी जा रही हूं.. मेरी चूत की धज्जियां उड़ा दे.. मैं तेरी डार्लिंग वन्द्या हूं.

जाटनी गर्लफ्रेंड की चुदाई

दोस्तो, मेरा नाम आर.जे. जाट है, मैं राजस्थान का रहने वाला हूँ. मेरी उम्र 27 साल है और मेरे लंड का साइज़ 9 अंगुल के करीब है. मैं राजस्थान पुलिस में ही काम करता हूँ. मैं अपने जीवन की एक बिल्कुल सच्ची घटना आप लोगों को बताना चाहता हूँ. यह बात उस वक्त की है […]

कभी साथ न छोड़ना रवि जी, प्लीज! HOT!

भगवान ने मुझे खूब गोरा रंग दिया, लाल सुर्ख होंठ दिये, सुनहरे बालों वाली प्यारी चूत दी. इतनी प्यारी है मेरी चूत कि मैं स्नान के बाद दर्पण के सामने खड़ी होकर निहारती रहती हूँ.

कमसिन जवानी की चुदाई के वो पन्द्रह दिन-9

वे दोनों मेरे बिस्तर में थे और मेरी स्कर्ट ऊपर कर चुके थे. मैं बीच में लेटी थी.. और मेरे अगल बगल में वो दोनों लेटे हुए थे.

कमसिन जवानी की चुदाई के वो पन्द्रह दिन-7

अंकल ने मुझे दो लड़कों के साथ भेज दिया. दोनों ने मेरी चुदाई की तैयारी शुरू कर दी थी और अपने दो दोस्तों को भी मेरी नंगी चूत की फोटो भेज कर बुला लिया था.

हवसनामा: कुंवारी छात्रा ठरकी टीचर

बोर्डिंग स्कूल में रह कर पढ़ाई कर रही एक देसी, भोली भाली लड़की को उसके अध्यापक ने कैसे अपनी वासना का शिकार बनाया. पढ़ें कुंवारी लड़की की दास्ताँ उसी की जुबानी!

पड़ोस की लौंडिया चोद दी

मेरे पड़ोस में एक परिवार रहने आया था। उनकी बेटी मेरी ही हम उम्र थी। एक बार मैं उनके घर गया तो देखा कि लड़की सो रही थी, उसकी नाईटी घुटनों तक ऊपर थी. फिर मैंने क्या किया?

कमसिन जवानी की चुदाई के वो पन्द्रह दिन-3

मैं अपनी मम्मी और अंकल लोग के साथ कार में मानकपुर जा रही थी. रास्ते में चाय के लिए रुके तो मैं और एक अंकल कार में रुक गए बाक़ी सब उतर गए. फिर कार में क्या हुआ?

कमसिन जवानी की चुदाई के वो पन्द्रह दिन-2

मेरे दादा की उम्र के अंकल मुझे कार में चोद रहे थे और उनके दोस्त पास बैठे मुझे देख कर लंड मसल रहे थे. मेरी चूत में आग लगी थी तो मैं बेशर्म हो चुकी थी.

मॉम-डैड का सेक्स और बहन की चुदाई-1

यह कहानी मेरे परिवार की है. मैं अपनी संगति के कारण सेक्स के बारे में सब कुछ जान गया था लेकिन मेरी बहन को सेक्स का कुछ पता नहीं था. वो मुझसे इस बारे में पूछती थी तो ...

लंड के मजे के लिये बस का सफर-6

मेरी कम्पनी की दो लड़कियां मेरे साथ थी. दोनों के अलग अलग टेस्ट थे सेक्स में! मैंने दोनों को एक साथ होटल के कमरे में कैसे चोदा, पढ़ें इस हॉट सेक्स स्टोरी में!

मॉम की चुदाई आंखों देखी

मैं अपने चचेरे भी से चुदवाती थी. अभी भी चुदवाती हूँ. आज मेरा भाई परेजू मुझसे मिलने आया और मुझे चोद गया तो मैंने सोचा कि अपने दोस्तों को बताऊँ कि मेरी चूत चुदाई शुरू कैसे हुई.

कामवाली जवान लड़की की चुदाई

मैंने कालेज में एडमीशन लिया तो वहीं किराए का कमरा लेकर रहने लगा. मकान मालिक की जवान नौकरानी को मैंने कैसे चोदा. पढ़ें इस देसी चुदाई स्टोरी में!

मेरी रानी की कहानी-5

एक दो मिनट खेलने के बाद उसने एकदम से पप्पू को गड़प से मुंह में भर लिया। उसके मुंह का वो गर्म गर्म और मखमली एहसास, आज भी पप्पू को और मुझे अच्छे से याद है।

वासना का मस्त खेल-2

अब क्या होगा? मेरी पिटाई होने में अब तो बस प्रिया‌ के जवाब देने की‌‌ ही देर थी. मुझे मेरी पिटाई होना अब तय ही‌ लग रहा था. मैं विनती भरी नजरों से प्रिया को देख रहा‌ था. तभी प्रिया ने मेरी तरफ देखा … प्रिया के देखते ही डर के मारे अपने आप ही […]

वासना का मस्त खेल-1

एक‌ शादी में रात के अँधेरे में मैंने किसी‌ लड़की से सेक्स किया था. मगर मैं नहीं जान सका कि वो कौन‌ थी. उसके गले के लोकेट से मैंने कैसे उसे पहचाना? क्या सच में वो वही लड़की थी?

मुन्नी की कमसिन बुर की पहली चुदाई-2

इस देसी कुंवारी लड़की की चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे फौजी अंकल में मेरी कच्ची जवानी का मजा लेना शुरू किया. मुझे लंड चूसना सिखाया, मेरे कुंवारे बदन की कामुकता को जगाया.

मुन्नी की कमसिन बुर की पहली चुदाई-1

चढ़ती जवानी में मैं एक आर्मी अफसर के घर रह कर काम करती थी. अंकल की पत्नी की मौत के बाद वे मेरा ज्यादा ख्याल रखने लगे. अंकल ने मेरी कमसिन जवानी का पहला भोग कैसे लगाया.

साली ने अपनी मौसी की बेटी को चुदवाया-1

मैं, मेरी पत्नी और मेरी रिश्ते की साली तीनों आपस में चुदाई करते थे. एक बार साली की मौसी की बेटी उनके घर आयी तो मैंने उसे कहा कि अगर वो अपनी मौसेरी बहन की चूत दिलवा दे तो ...

जब चुदी-चूत की हुई सिकाई-2

एक बार अपने आशिक से चुदाई करवा लेने के बाद मैं नहीं चाहती थी कि वो किसी और लड़की को देखे। मैं कुछ ज्यादा बन संवर कर कॉलेज गयी और शाम को एक बार फिर ...

Scroll To Top