प्यासी नर्स और मेरा कुंवारा लण्ड

(Pyasi Nurse Aur Mera Kunwara Lund)

मेरा नाम प्रेम है और मैं भुज से हूँ।
मेरी कहानी एकदम सच्ची है।

यह उन दिनों की बात है.. जब मैं स्कूल में था, मुझे लड़कियों के साथ फोन पर सेक्स की बातें करने में बहुत मज़ा आता था।
मैं अपनी हर गर्लफ्रेंड के साथ फोन पर सेक्सी बातें करता था.. लेकिन कभी असल में सेक्स करने का मौका नहीं मिला।

एक बार मेरे एक दोस्त ने मुझे एक नर्स का नंबर दिया और कहा- यह बहुत हॉट माल है.. मैं अक्सर इसी से मोबाइल पर सेक्स चैट करता हूँ।
उस नर्स का नाम फ़रज़ाना था और वो भुज में एक हॉस्पिटल में जॉब करती थी।

मैंने एक रात उसे कॉल की।
उसने पूछा- आपको ये नंबर किसने दिया है?
मैंने झूठ नहीं बोला और बता दिया कि मेरे एक फ्रेंड ने दिया है.. वो आपकी बहुत तारीफ करता है। मैं भी आपसे बात करना चाहता हूँ.. अगर आपको कोई एतराज़ ना हो। अगर आपको बुरा लगेगा तो मैं नेक्स्ट टाइम से आपको डिस्टर्ब नहीं करूँगा।

उसने देखा कि मैंने सब कुछ सच-सच बताया है.. तो उसने कहा- मुझे कोई प्राब्लम नहीं है.. आप बात कर सकते हो.. लेकिन उसी वक्त बात कर सकती हूँ जब जब मैं फ्री होऊँगी। आप वादा कीजिए कि आप मुझे हर वक़्त तंग नहीं करेंगे।

मैंने कहा- जैसी आपकी मर्ज़ी.. जो भी टाइम आपको सूट करता हो.. हम उस टाइम बात कर लिया करेंगे।
इस तरह हमारी बात शुरू हो गई।

पहले हम दिन में बात करने लगे दस मिनट या पन्द्रह मिनट.. उसके बाद थोड़ा टाइम गुज़रा.. तो दिन में ही एक-एक घंटा तक बात होने लगी।
उसने अपने बारे में बताया कि उसकी शादी के ठीक 2 साल में ही तलाक हो गया था और अब वो अपनी मम्मी के साथ अकेले रहती है। हॉस्पिटल में नर्स है.. तो कभी दिन और कभी नाइट शिफ्ट भी करनी पड़ती है।

मैंने उससे कहा- मैं रात में बात करना चाहता हूँ..
वो भी राजी हो गई।

हम फिर आधी-आधी रात तक फोन पर बात करने लगे। एक रात मैं उसकी मिस कॉल का वेट कर रहा था क्योंकि जब उसकी मम्मी सो जाती थी.. तो वो मुझे मिस कॉल दे दिया करती थी और मैं कॉल करता था।

जब तक उसकी कॉल नहीं आती.. तब तक के लिए मैंने पॉर्न मूवी लगा ली और वो देखने लगा।
इसी दौरान उसकी मिस कॉल आई.. मैंने कॉल बैक किया तो वो पूछने लगी- क्या कर रहे हो?
मैंने कहा- सच बताऊँ.. या झूठ?
तो उसने कहा- झूठ क्यों.. सच बताओ।
मैंने कहा- मैं इस टाइम पॉर्न मूवी देख रहा हूँ।

चूंकि हम सेक्स के टॉपिक पर अक्सर बात करते थे.. तो मुझे उससे ये कहने में कोई झिझक नहीं थी।
उसने पूछा- किस स्टाइल में सेक्स हो रहा है?
मैंने बताया- डॉगी स्टाइल में सेक्स हो रहा है।
उसने एक ठंडी आह भरी.. मैंने पूछा- क्या हुआ?
तो कहने लगी- कुछ नहीं..
मैंने पूछा- मुझे तो बताओ..

कहने लगी- तुम्हारी शादी नहीं हुई न.. तुम नहीं जानते ही कि एक औरत को जब सेक्स का मज़ा मिल चुका हो और उस के बाद जब उसे सेक्स करने को नहीं मिलता तो उसे कैसा लगता है.. जैसा मेरे साथ हो रहा है। मैं तलाकशुदा लेडी हूँ.. तो कितनी जरूरत होती है.. तुम सोच भी नहीं सकते।
मैंने कहा- तो क्या तलाक के बाद तुमने कभी सेक्स नहीं किया?

Comments

सबसे ऊपर जाएँ