मेरे गांडू जीवन की कहानी-23

उसने अपनी उंगलियां मेरे होठों की बगल में फंसा कर मेरे मुंह में डाल दीं। उसने मेरे चेहरे पर अपनी पकड़ बनाई और मेरी गांड में अपने लंड को पेलना शुरु कर दिया। आज उसका हर एक धक्का मुझे अपने गांडूपन का अहसास करवा रहा था कि गांडू की जिंदगी होती कैसी है.

मेरे गांडू जीवन की कहानी-22

जग्गी मेरे मुंह में लंड डाल कर चुसवा रहा था, राजबीर मेरी गांड में उंगलियां डाल कर अंदर बाहर कर रहा था और मैं जग्गी का लंड चूसने में मस्त था।

मेरे गांडू जीवन की कहानी-21

एक शाम को हम पार्क में बैठे थे, अंधेरा होने वाला था, हमने मौका देख किसिंग शुरु कर दी। मैं इसके होठों को चूस रहा था और ये मेरे… बहुत मजा आ रहा था। फिर इसने खुद ही मेरी पैंट में तने लंड पर हाथ रख दिया और उसको अपने हाथ से ऊपर ही ऊपर सहलाने लगी।

मेरे गांडू जीवन की कहानी-19

मुझे आप जैसा कोई मिला ही नहीं आज तक… और फिर रात को जब आपने नशे में मेरे साथ सेक्स करते हुए मुझे ‘आई लव यू’ बोला, तो मुझे आपसे प्यार हो गया। और अब हालत ऐसी है कि मैं आप को देखे बिना रह ही नहीं पाता हूँ.

मेरे गांडू जीवन की कहानी-18

रवि के लोअर में तना लौड़ा और लोअर से ऊपर का उसका नंगा बदन और साथ ही उसके चेहरे पर तैरती अंतर्वासना की लहरें मुझे उसके लिए पागल किए जा रही थीं.

मेरे गांडू जीवन की कहानी-17

मैं अपने दोस्त के घर आया हुआ था उसका लौड़ा अपनी गांड में लेने. एक बार तो ट्यूबवेल के हौद में मेरी गांड चुद चुकी थी, अब रात को पूरी सुहागरात मनाने की तैयारी थी. मेरी गे सेक्स स्टोरी पढ़ कर मजा लें!

मेरे गांडू जीवन की कहानी-16

गे सेक्स स्टोरी के इस भाग में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने प्यारे दोस्त से गर्मी की भरी दुपहरी में खेतों में ट्यूब वेल की धार के नीचे गांड मरवाई और उसका लंड चूसा.

मेरे गांडू जीवन की कहानी-14

मैं उसकी आंखों में देख रहा था… वही मुस्कुराता चेहरा, माथे पर बिखरे हुए बाल, लाल-लाल रसीले होंठ और उन पर फैली वही कातिलाना मुस्कान…

मेरी गांड की चुदाई की कहानी-11

मेरी गांड की चुदाई की कहानी अब क्या मोड़ ले रही है, बस में मिला लड़का मेरी मदद के लिए आया, मुझे मेरे प्यार से मिलवाने के लिए लेकिन?

बस में मिले लड़के का लंड चूस कर दोस्ती हुई

अन्तर्वासना पर मैं मेरी इंडियन गे सेक्स स्टोरीज में अपनी आपबीती सेक्स की घटनाएँ बता रहा हूँ. आगे क्या हुआ बस में मिले लड़के के साथ!

बस में मिले लड़के का लंड चूसा

इस देसी गे स्टोरी में बस में नवविवाहित जोड़ा मस्ती कर रहा था, अँधेरे का फ़ायदा उठा कर लड़के ने अपना लंड भी चुसवा लिया. मेरा मन भी लंड चूसने का करने लगा.

शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड-8

मेरी गे कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने बस में एक नवविवाहित जोड़े को आपस में छेड़छाड़ करते देखा और पैन्ट में लड़के का खड़ा लंड देख कर मुझे कुछ होने लगा.

शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड-7

इस हिंदी गे स्टोरी में पढ़े गे के मन की व्यथा: मुझे अपने गे होने पर दुख हो रहा है ‘क्या गे होना मेरी गलती है?’ अगर नहीं तो दुनिया चैन से जीने क्यों नहीं देती?

शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड-6

मुझे यह गे सेक्स स्टोरी आगे बढ़ानी पढ़ रही है क्योंकि पाठकों की इच्छा है कि मैं रवि और मेरे रिश्ते का हर पहलू आप अंतर्वासना पर उजागर करूं!

शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड-5

मैं वापस छत की तरफ भागा और कमरे में जाकर उसी गद्दे पर गिर गया जिस पर पहली रात रवि के साथ सोया था.. मेरा कलेजा फटने को आ रहा था.. गद्दे को बाहों में भरकर फूट फूट कर रोने लगा..

शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड-4

मैं उठकर उसके सिरहाने जा बैठा और उसका सिर अपनी गोद में रख लिया और उसके घने घने बालों में हाथ फेरने लगा।
बस क्या बताऊँ दोस्तो, दिल से एक ही आरजू बार बार निकल रही थी कि यह रात कभी खत्म न हो..

शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड-3

लड़की का कमीज उसकी छाती तक उठा हुआ था और उसकी ब्रा भी ऊपर सरकी हुई थी जिससे उसकी चूचियाँ आधी नंगी दिख रही थीं… गोल गोल दूधिया रंग के नुकीले वक्ष थे उसके जो बिल्कुल तने हुए थे।

शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड -2

वह रात मेरे लिए जैसे सपनों की रात थी.. मेरी पसंद का जवान लड़का जो एक असली मर्द था, मुझे उसके साथ सोने का मौका मिला था और उसके वीर्य को चखने का सौभाग्य भी..