प्यासा सावन तड़पता यौवन उस पर मेरी बल्ले बल्ले-10

वो अपने लंड को मेरी गांड के अन्दर डाल के मेरी गांड मार रहा था, मैं आह… हो… कर रही थी और शीशे में अपनी गांड का बाजा बजते हुए देखती रही…

प्यासा सावन तड़पता यौवन उस पर मेरी बल्ले बल्ले-9

‘यार या तो पहले कहानी सुन लो या फिर मुझे चोद लो पहले… क्योंकि तुम तेज-तेज धक्का लगा रहे हो और मैं उसकी वजह से बोल नहीं पा रही हूँ।’

प्यासा सावन तड़पता यौवन उस पर मेरी बल्ले बल्ले-8

‘मुझे पेन्टी के अन्दर हाथ डालकर लड़की की गांड में उंगली करना अच्छा लगता है!’
‘तो अब तक कितनी लड़कियों की गांड में उंगली इस तरह कर चुके हो?’

प्यासा सावन तड़पता यौवन उस पर मेरी बल्ले बल्ले-7

कमरे के अन्दर घुसते ही सुहाना अपने कपड़े उतारती जाती और मेरे ऊपर फेंकती जाती, उसका दूध सा गोरा और चिकना बदन पूर्ण नग्न मेरी नजरों के सामने था!

प्यासा सावन तड़पता यौवन उस पर मेरी बल्ले बल्ले-6

मैंने समुद्र में खूब मजा लिया, मेरा टॉप काफी छोटा था, पानी में डुबकी लगा कर बाहर आने पर मेरे मम्मे टॉप के बाहर आ जाते और लोगों की नजर उन पर पड़ जाती!

प्यासा सावन तड़पता यौवन उस पर मेरी बल्ले बल्ले-5

अपनी जवान विधवा पड़ोसन की सुहागरात की कहानी सुनते सुनते मैं गर्म हो गया तो हम दोनों फिर चूत चुदाई के खेल में लग गए. उसकी कामुकता भी शिखर पर थी.

प्यासा सावन तड़पता यौवन उस पर मेरी बल्ले बल्ले-4

वो अभी भी मुझे कस कर दबाये हुए थे, शॉवर से मेरे सिर के ऊपर पानी गिर रहा था और नीचे मेरे मूत्रद्वार से मूत निकल रहा था जो उनके लंड पर गिर रहा था.

प्यासा सावन तड़पता यौवन उस पर मेरी बल्ले बल्ले-3

मेरे वीर्य से उसकी चूत भर गई, तो मैंने अपना लंड बाहर निकाला, लंड बाहर निकलते ही मेरे और सुहाना के मिलन का रस भी उसकी चूत से बहने लगा।

प्यासा सावन तड़पता यौवन उस पर मेरी बल्ले बल्ले-2

तुम मुझे नंगी देख चुके थे और यह भी जानते थे कि मैं अकेली हूँ तो तुमने मौके का फायदा क्यों नहीं उठा लिया या फिर केवल देखकर मजे लेने वाले मर्द हो?

प्यासा सावन तड़पता यौवन उस पर मेरी बल्ले बल्ले-1

बगल वाले कमरे में एक खूबसूरत लड़की रहने आई… बाथरूम के रोशनदान से उसे नंगी देखने का मौक़ा मिला तो मेरी लालासा और बढ़ गई.