लिफ्ट का अहसान चूत देकर चुकाया-8

मेरी हिन्दी सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपने दोस्त के खाली घर में दो लड़कियों को चोदने के लिए ले गया. अभी एक कुंवारी लड़की की बुर में लंड घुसाया ही था कि मेरे दोस्त की बीवी वहाँ आ गई और थोड़ा नाराज होने के बाद वो भी हमारे चुदाई के खेल में शामिल हो गई.

लिफ्ट का अहसान चूत देकर चुकाया-7

मैं अपने दोस्त के खाली घर में दो लड़कियों के साथ था और एक कुंवारी लड़की की बुर में लंड अभी घुसाया ही था कि मेरे चूतड़ों पर एक थप्पड़ पडा और मुझे किसी महिला की सुनाई दी- मादरचोद! कौन थी यह महिला? मेरी गन्दी कहानी पढ़ कर मजा लें!

लिफ्ट का अहसान चूत देकर चुकाया-6

दोनों लड़कियाँ गाड़ी से उतर कर झाड़ियों के बीच में बैठ गयी और मैं भी उनसे कुछ दूरी पर पेशाब करने लगा। मेरे मूतते तक दोनों मूत कर खड़ी हो चुकी थी और अपनी अपनी सलवार का नाड़ा बाँधने लगी और फिर शायद लड़कियों में आदत होती होगी कि पेशाब करने के बाद गिरती हुयी बूंदों को अपने अंतरंग अंगवस्त्र से पौंछना।

लिफ्ट का अहसान चूत देकर चुकाया-5

मैंने गाड़ी आगे बढ़ाते हुए रेशमा को देखते हुए कहा- तुमने कभी लंड चुसाई की है? “नहीं, बस अपनी चूत में उंगली तब तक करती रहती थी, जब तक मैं… [Continue Reading]

लिफ्ट का अहसान चूत देकर चुकाया-4

मेरी सेक्स कहानी में अभी तक आपने पढ़ा कि कैसे वो लिफ्ट वाली लड़की की कामुकता भड़की पड़ी थी और वो अपनी चुत चुदाई का लंबा प्रोग्राम बना रही थी. इसी प्रोग्राम के तहत वे दोनों मेरे साथ मेरी गाड़ी में चल पड़ी.

लिफ्ट का अहसान चूत देकर चुकाया-3

सोनी ने अपनी सहेली से बात करके फोन एक किनारे रख दिया और मेरी तरफ देखने लगी। मैंने भी छेड़ते हुए कहा- बता ही देती कि हाँ… चूत की खुजली… [Continue Reading]

लिफ्ट का अहसान चूत देकर चुकाया-2

मेरी सेक्स स्टोरी हिंदी में पढ़ें कि कैसे एक जवान लड़की मेरे घर आई, हम दोनों के बीच सेक्स की बातें शुरू हो गयी. वो कुंवारी थी लेकिन सेक्स का मजा लेना चाहती थी. मैंने मौके का फ़ायदा उठाया और उसे गर्म करना शुरू कर दिया.

लिफ्ट का अहसान चूत देकर चुकाया-1

एक दिन एक कॉलेज गर्ल ने मुझसे मेरे बाइक पर लिफ्ट मांगी. मैंने उसे कॉलेज छोड़ दिया. वो रोज ही मेरे साथ जाने लगी, मेरा नम्बर भी ले लिया. एक दिन मैं अस्वस्थ था तो नहीं गया, उसका फोन आ गया. कुछ देर बाद वो मेरे घर आ गयी. आगे क्या हुआ मेरी सेक्स कहानी हिंदी में पढ़ें!