अब्बु और भाई

अब्बु से मैं पहले भी कई बार चुदी थी.जब मैं उनसे चूत की प्यास बुझवा रही थी तो ब्लू फिल्म देखकर मुझे भी चार लंड लेने की चाहत जगी. मुझे चार तो नहीं मगर दो लंड मिल गए.

अब्बु और भाई- 2

मैं अब्बु के कन्धे पर अपने दोनो पैर लपेटे उनका लण्ड चूस रही थी और अब्बु मेरी चूत को चूस रहे थे और वही किनारे मेरा भैया अपने लण्ड को हाथ में लेकर खड़ा था तब अब्बु ने मुझे नीचे लेटा दीया और भैया से कहा आओ बेटे आज साली कि चूत कि दोनों मिलकर धज्जीयाँ उड़ा देते है

अब्बु और भाई-1

अब्बु ने कहा- बेटी, अब तुम अपना सर नीचे कि तरफ़ झुकाओ। पर मैंने मना कर दिया इस पर वो एक चपत लगाते हुए बोले- साली जैसा कहता हूं कर वरना आज दोनो जने एक साथ तेरी गाण्ड में लण्ड डाल कर फ़ाड़ देगें।

Scroll To Top