आधी हकीकत रिश्तों की फजीहत -9

अभी तक आपने स्कूल सेक्स, सच्चे प्यार और उसके बाद सेक्स की कहानी पढ़ी। अब यह कड़ी मेरी पहली कहानी में बताए जीजा साली के सम्बन्धों का खुलासा है।

आधी हकीकत रिश्तों की फजीहत -8

मैं कशमकश में थी.. मैंने कहा- देखो, मैं एक लड़की हूँ यार… मैं खुद कैसे कपड़े उतार के पास आऊँ? तुम कुछ तो समझो लड़की हूँ तो शर्म तो आयेगी ही ना!

आधी हकीकत रिश्तों की फजीहत -7

मेरी सहेली अपने भाई से चुदी, मुझे अपने भाई से चुदवाया, जब वो पढ़ने बाहर गया तो मेरी सहेली ने बॉयफ्रेंड बना लिया, वो उसके साथ मस्त हो गई, मैं तन्हा रह गई.

आधी हकीकत रिश्तों की फजीहत- 6

मैं अपनी सहेली के साथ उसके भाई के सामने नंगी अपनी पहली चूत चुदाई का इन्तजार कर रही थी। मेरी सहेली ने भाई के लंड को चूसा और मुझे भी चूसने को कहा।

आधी हकीकत रिश्तों की फजीहत -5

सहेली की उसके भाई से चुदाई की कहानी सुनने के बाद मेरी योनि गीली हो चुकी और मेरी सहेली अब मुझे अपने भाई से चुदवाना चाहती थी। मैं उसके भाई से चुदी या नहीं?

आधी हकीकत रिश्तों की फजीहत -4

भाई बहन की चूत की चुदाई की यह कहानी है बहन के द्वारा भाई को उकसा कर अपनी कुंवारी चूत की चुदाई करवाने की… भाई भी पहली बात चुदाई कर रहा था।

आधी हकीकत रिश्तों की फजीहत -3

सहेली और उसके भाई के साथ स्कूटी पर आते जाते सहेली के भाई से लगाव सा हो गया लेकिन एक दिन जब मेरी सहेली ने बताया कि वो अपने भाई से चुद चुकी है तो…

आधी हकीकत रिश्तों की फजीहत -2

एक किशोर लड़की जब बड़ी हो रही होती है तो उसकी जिन्दगी कैसी होती है, उसके मन में क्या चल रहा होता है, यह सब कहानी के इस भाग में है। अवश्य पढ़ें।

आधी हकीकत रिश्तों की फजीहत -1

अपने दोस्त की तलाकशुदा बहन के पास रह कर जॉब कर रहा था कि उसकी छोटी बहन भी कोचिंग करने हमारे साथ रहने आ गई। इससे हमारे सेक्स पर ब्रेक लग गया।

आधी हकीकत आधा फसाना-8

दोस्त की बहन को आकर्षक और सुडौल बनाने के बाद मैं किमी के साथ बेड पर हूँ, हम दोनों आपस में पहले सेक्स करने को आतुर हो रहे हैं। आप पढ़ कर मजा लें।

आधी हकीकत आधा फसाना-7

मैंने अपने कपड़े उतारे, किमी को गोद में उठाया, उसने मेरी आँखों में आँखें डालकर होंठों से मुस्कान बिखेरी। नंगी किमी से मेरे नंगे शरीर का स्पर्श पहली बार हुआ।

आधी हकीकत आधा फसाना-6

उसने कहा- मुझे बचा हुआ अंतिम सुख भी दे दो। मैं तुम्हारे साथ संभोग करना चाहती हूँ, ऐसी कामक्रीड़ा करना चाहती हूँ.. जैसा कामदेव और रति ने भी न किया हो।

आधी हकीकत आधा फसाना-5

मेरे दोस्त की बहन ने अपनी शादी, सेक्स और धोखे का बताया। मैं उसका खोया आत्मविश्वास लौटाना चाहता था, उसे हॉट और खूबसूरत बनाना चाहता था।

आधी हकीकत आधा फसाना-4

जिसे मैं बच्ची समझ रही थी मेरी वही बहन, जिसने जवानी की दहलीज पर ठीक से कदम भी नहीं रखा था.. अपने ही जीजा जी के साथ निर्वस्त्र होकर रंगरेलियाँ मना रही है।

आधी हकीकत आधा फसाना-3

रोज रात मुझे सेक्स भरे सपने आने लगे, तन की जरूरतों के आगे किसका बस चलता है! मैंने अपनी चुत में गाजर डाल कर मजा लेना चाहा पर गाजर फ़ंस गई।

आधी हकीकत आधा फसाना-2

हम दोनों मादरजात नग्न पड़े थे। उन्होंने मेरी योनि में हाथ फिराया, खुश होकर बोले- क्या कयामत है यार, चिकनी, रोयें तक नहीं हैं! हय.. मेरी तो किस्मत खुल गई!

आधी हकीकत आधा फसाना-1

यह कहानी है मेरे बचपन के दोस्त की बहनों की… एक दिन वो मुझे बस में मिल गया, उसने बताया कि अपनी बहन के कारण परेशान है। मैं उसके साथ उसकी बहन के घर गया।