करनाल की हाई प्रोफाइल भाभी की चूत और गांड मारी पैसे लेकर

(Karnal Ki High Profile Bhabhi ki Choot Aur Gand Mari Paise Lekar)

मैं मिंटू हरियाणा से हूँ, उम्र 28 साल, लंड साढ़े 6 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है, अच्छे परिवार से हूँ लेकिन ज्यादा पैसे कमाने के लिए औरतों, लड़कियों, भाभियों की चुदाई और मालिश का काम भी कर लेता हूँ लेकिन सिर्फ हरियाणा में ही!

ज्यादा चूतिया बातें ना करते हुए अपनी असली कहानी पर आता हूँ जो मेरी पहली ग्राहक की है जिससे मेरा संपर्क मेरी fb id से हुआ.
मैं उसके बारे में आपको बता देता हूँ, वो कोई 30 साल की शादीशुदा भाभी होगी, उसका फिगर 32-28-34 का होगा, उसका नाम रीना था और वो हाई प्रोफाइल फीमेल थी जो करनाल रहती थी. उसका पति ज्यादातर विदेश में ही रहता था इसलिए उसने मेरी सेवा ली.

अब मैं कहानी की मुख्य बिंदु पर आता हूँ!
निश्चित दिन और समय पर मैं उसके घर पहुँच गया. उसका घर बहुत ही शानदार था, उसके बारे में मैं आपको पहले बता ही चुका हूँ लेकिन सबसे ज्यादा सेक्सी उसकी नशीली आँखें थी जो बेहद खूबसूरत थी.

हम दोनों उसके घर में बिल्कुल अकेले थे.

वो बोली- क्या लेंगे आप?
मैंने कहा- जो मर्जी!
वो कॉफ़ी ले आई, हम दोनों एक दूसरे को देखते हुए पीने लगे.
वो मेरे पास आकर बैठ गई, बोली- आप मालिश भी कर देंगे क्या?
मैंने कहा- हाँ… क्यों नहीं, लेकिन मैं तेल नहीं लाया आप पहले बताती तो मैं ले आता!
बोली- कोई नहीं, वो मेरे पास है!

मैंने कहा- ठीक है, तो बोलिये कहाँ करनी है और ले आइये तेल!
बोली- मेरे पीछे आइये!
वो मुझे अपने बैडरूम में ले गई और बोली- आप बैठिये, मैं 1 मिनट में आई!
मैंने ओके कहा, वो चली गई लेकिन जब वो आई, उसे देख कर मेरे होश उड़ गए, क्या क़यामत लग रही थी वो… लाल रंग की पारदर्शी मैक्सी में उसकी ब्रा पेंटी साफ़ नजर आ रही थी, उसके चूचे बाहर निकलने को तड़प रहे थे, बोली- यहीं करनी है, हो जाइये शुरू… बोलो क्या करूँ मैं?
मैंने कहा- तेल मुझे दे दीजिये और मैक्सी निकल कर बेड पर उल्टी लेट जाइये!
बोली- ओके!

और वो जैसे कहा, वैसा करके लेट गई.

अब मैंने अपने कपड़े निकाले और सिर्फ अंडरवियर में उसके पास बैठ कर उसकी कमर से मालिश शुरू की. उसे बहुत अच्छा फील हो रहा था, बोली- और करिये मिंटू!
मैंने भी और जोर लगा कर उसकी कमर से उसकी गांड की मालिश शुरू कर दी.
मैंने उसकी ब्रा का हुक पहले ही खोल दिया था.
कमर की मालिश करते हुए और अब गांड की मालिश चालू थी तो वो बोली- ये पेंटी निकाल दो, मेरी मालिश अच्छे से करो!

मैंने एक झटके से उसकी पेंटी निकाल कर उसे नंगी कर दिया, अब उसकी गांड का छेद मेरे सामने था बिल्कुल… मैंने उसके छेद में खूब तेल लगाया और मसलने लगा उसकी गांड!
वो उम्म्म.. उम्म्ह… अहह… हय… याह… उम्म्म्म सीईईईई… की आवाजें निकाल कर माहौल गर्म कर रही थी.

मैंने उसकी गांड में एक उंगली एकदम घुसा दी तो वो सकपका गई- उईईईईई मिंटू और करो!
मैं उसकी गांड की मालिश किये जा रहा था… अब मेरा लंड काबू के बाहर हो रहा था, जो उसे दिख रहा था.
रीना बोली- इसे आजाद कर दो अब!

मैंने तुरंत अपना अंडरवियर निकल अपना लंड उसके मुख के पास रख दिया, वो झट से लंड मुंह में लेकर चूसने लगी, बोली- वाव मजा आ गया मिंटू!
मुझे इस लग रहा था कि वो बहुत ज्यादा प्यासी थी.

फिर जल्दी ही हम मालिश छोड़ कर असली काम पर आ गए और 69 में हो गये. अब उसकी क्लीन शेव मखमली चूत मेरे सामने थी, मैंने अपने हाथों से उसकी चूत के होंठों को अलग किया तो उसने अपनी टांगें एकदम बन्द कर ली, मेरा मुंह उसकी चूत के ऊपर ही फंस गया.

मैंने उसकी चूत के दाने को जीभ से चाटना शुरू किया तो वो ‘आह्ह्ह ओह्ह्ह उम्म्म आआह्ह उईईईई स्स्सिईई…’ की आवाजों से मजा लेने लगी. वो इतनी कामुक हो गई थी कि 2 मिनट में ही वो झड़ गई और मैं उसका सारा माल जीभ से चाट गया.

वो बोली- अब करो ना!
लेकिन मैंने फिर उसे पहले उंगली से चोदा और उसे हद से ज्यादा गर्म किया, वो मेरे लंड को लेकर मसलने लगी, बोली- मिंटू, बस अब जल्दी डालो… सहन नहीं हो रहा!
मैंने कहा- ओके रीना जी, लो!

फिर मैंने उसे बेड के किनारे पर किया और उसकी टांगों को कंधे पर रख कर लंड चूत पर घिसने लगा.
वो मचल रही थी ‘उम्म्म्म आह्ह ओह्ह्ह आह्ह्ह हईईए…’ आवाजें उसके मुख से निकल रही थी.

वो कुंवारी नहीं थी इसलिए मैंने उसको सही पोज़ में लेकर एक जोरदार झटका उसकी चूत पर मार दिया और लंड आधे से ज्यादा उसकी गीली चूत में फंस गया. वो थोड़ी चीखी- उईईईई आःह्ह ह्ह माआआ मिंटू!
2 मिनट रुकने के बाद वो थोड़ी सामान्य हुई और मैंने एक और झटके से उसकी चूत की गहराई में अपना लंड फंसा दिया और काम चालू कर दिया, मैं लंड पूरा बाहर निकलता और अंदर करता जिससे उसे अलग ही मजा आ रहा था.

लगभग 10 मिनट बाद उसने पानी छोड़ दिया था. अब मैं अपने धक्कों की रफ़्तार में तेजी लाते हुए उसे चोदने लगा.
वो कहने लग गई- मिंटू, फ़क मी हार्ड… फ़क फ़क!
मैं भी पूरे जोश में उसे चोदता रहा.

फिर मैंने उसे उल्टा होने को कहा और उसे घोड़ी बना कर चोदने लगा. काफी देर बाद जब मैं झड़ने वाला था तो बोला- मैं आने वाला हूँ, कहाँ डालूँ?
बोली- मैं भी आने वाली हूँ, अंदर ही छोड़ दो!

15-20 झटकों के बाद उसने अपनी टांगें सिकोड़ ली, चूत कस ली, वो आ चुकी थी और कुछ झटकों के बाद मैं भी उसकी चूत में खाली हो गया.
यह हिंदी चुदाई की कहानी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!

मैं उसे देख रहा था तो वो खुश नजर आ रही थी.
इस चुदाई में मैंने उसे 3 बार चोदा और 1 बार गांड मारी.

फिर अपने पैसे जो तय हुए थे, लेकर वापिस आ गया.

तो चूत और लंड कैसी लगी आपको मेरी ग्राहक की चुदाई की असली कहानी? जरूर बताइयेगा और पानी निकालिएगा बाथरूम में जाकर!
[email protected]

इस कहानी को पीडीएफ PDF फ़ाइल में डाउनलोड कीजिए! करनाल की हाई प्रोफाइल भाभी की चूत और गांड मारी पैसे लेकर