नौकरी के लिए चूत चुदाई की शर्त

(Job Ke Liye Choot Chudai Ki Shart)

दोस्तो.. मेरा नाम राज जैन है.. मैं अन्तर्वासना बहुत सालों से पढ़ता आ रहा हूँ। मैं अन्तर्वासना की सेक्सी कहानियां पढ़कर रोज मुठ मारता था।
सभी की सेक्सी कहानियां पढ़ने के बाद आज मैं भी पहली बार अन्तर्वासना पर कहानी लिखने जा रहा हूँ। यह कहानी पूरी तरह से फंतासी यानि कल्पना पर आधारित है।

कहानी के किरदार:

राहुल- बिजनेसमैन.. उम्र 30 साल.. ख़ासा तगड़ा और लम्बा मूसल जैसा लम्बा और मोटा लंड वाला बहुत ही मादरचोद किस्म का इंसान

प्रिया- एक गरीब लड़की.. उम्र 22 साल.. फिगर 34-28-34 वाली एक बेहद कन्टाप माल.. जिसे चोदने को ज़माना बेकरार था।

बहुत ही गरीब घर की लड़की है प्रिया, उसके घर में उसके बीमार माँ-बाप और छोटा भाई है।
प्रिया की पढ़ाई अभी ही पूरी हुई थी, उसे नौकरी की बहुत जरूरत थी.. वो एक कंपनी मैं जॉब इंटरव्यू के लिए गई थी.. उस कम्पनी के बॉस का नाम राहुल है।

राहुल एक बहुत ही बड़ी कंपनी का मालिक है, वह बड़ा ही चालू क़िस्म का आदमी है और उसकी कंपनी में अधिकतर लड़कियां ही काम करती हैं।
कम्पनी में भर्ती के लिए इंटरव्यू हो रहा था। अपनी बारी आने पर प्रिया अन्दर ऑफिस में राहुल के पास गई।

प्रिया- हैलो सर.. मेरा नाम प्रिया है.. मैंने M.B.A किया है, ये मेरे सर्टिफिकेट्स हैं।

राहुल ने प्रिया को देखा और उसकी हरामी नजरों ने प्रिया को परख लिया था- हाय प्रिया.. बैठो.. मुझे आप अपनी फाइल दो.. हम्म.. इस जॉब के लिए आप परफेक्ट हैं।
प्रिया- धन्यवाद सर..
राहुल- लेकिन मिस प्रिया आपके सर्टिफिकेट्स इस जॉब को पाने के लिए काफी नहीं हैं.. इसके लिए कुछ और चीजें भी जरूरी हैं.. क्या तुम उन जरूरतों को पूरा कर सकोगी।

प्रिया- सर मैं कंपनी की जरूरतों को पूरी करने की पूरी कोशिश करूँगी.. सर प्लीज मुझे पर विश्वास कीजिए.. मुझे इस नौकरी की बहुत जरूरत है।
राहुल- प्रिया तुम गलत समझ रही हो.. इस कंपनी की जरूरत तो पूरी करोगी.. इसका मुझे पूरा विश्वास है.. मैं मेरी जरूरतों की बात कर रहा हूँ।

चूत चुदाई की शर्त

प्रिया- सर मैं कुछ समझी नहीं.. आप किस चीज़ की बात कर रहे हो?
राहुल- मैं जिस्मानी जरूरतों की बात कर रहा हूँ।
प्रिया- सॉरी सर.. मैं यह नहीं कर सकती..

राहुल- देखो प्रिया जज्बाती बनने से कोई फायदा नहीं होने वाला है। तुमने अभी कहा है कि तुम्हें इस नौकरी की बहुत जरूरत है। अगर तुमने यह मौका छोड़ दिया.. तो तुम्हारा ही नुकसान है। तुम इस नौकरी को छोड़ोगी तो दूसरी नौकरी इतनी आसानी से नहीं मिलेगी.. तुम एक बार फिर सोच लो। वैसे भी लंच टाइम हो गया है.. आधे घंटे बाद तुम वेटिंग रूम में बैठ कर सोचो.. कि तुम्हें क्या करना है।

आधे घंटे बाद..

प्रिया- मैं अन्दर आ सकती हूँ सर?
राहुल- कम इन प्रिया.. तो प्रिया क्या सोचा तुमने?
प्रिया- सर मुझे इस नौकरी की बहुत जरूरत है.. आप चाहे सैलरी कम दे देना.. पर मुझसे यह नहीं हो पाएगा।
राहुल- प्रिया सैलरी की बात नहीं है.. बात मेरी जरूरत की है.. अगर तुमने ‘हाँ’ कर दी.. तो तुमने सोचा भी नहीं होगा तुमको उतनी सैलरी मिलेगी।

कुछ देर सोचने के बाद..
प्रिया- सर कितनी सैलरी मिलेगी?
राहुल- 35000 रूपए प्रति माह..
प्रिया खुश होते हुए बोली- सर, ये तो मेरी जरूरत से बहुत ज्यादा हैं।

राहुल- तुम बहुत सेक्सी दिखती हो.. इस लिए इतने दे रहा हूँ.. लेकिन दूसरी लड़कियों को तो 25000 ही देता हूँ.. अब बताओ तुम्हें नौकरी चाहिए या नहीं?
प्रिया- नौकरी तो चाहिए सर.. लेकिन इस कीमत पर..!

राहुल- प्रिया सोच लो इतनी सैलरी मैं तुम्हारी और तुम्हारे परिवार की हर जरूरत पूरी हो जाएगी और इसके लिए तुम्हें ज्यादा कुछ नहीं करना पड़ेगा।
प्रिया- ठीक है सर मुझे मंजूर है।
राहुल- ठीक कही प्रिया.. लेकिन मेरी कुछ शर्त है.. यह तुम पूरी करने को तैयार हो.. तो ही तुम्हें नौकरी मिलेगी।
प्रिया- क्या शर्तें सर?

राहुल- तुम्हें मेरी कंपनी के ड्रेस कोड में काम करना पड़ेगा.. इस जॉब के लिए तुम्हारा ड्रेस कोड होगा ब्रा टॉप.. एंड माइक्रो मिनी स्कर्ट। इन दो चीज़ के अलावा और कुछ नहीं पहनोगी।
प्रिया- लेकिन सर मैं इन कपड़ों में ऑफिस में कैसे काम करूँगी?

राहुल- मेरी ऑफिस में 5 लड़कियां और यह जॉब इसी कपड़ों में कर रही हैं। लेकिन उन लोगों के लिए अलग ऑफिस है.. जिनके बारे में उन लड़कियों के अलावा किसी और को पता नहीं रहता है।
प्रिया- ठीक है सर.. मुझे यह भी मंजूर है।
राहुल- अगर तुमने गलती की.. तो तुम्हें इसकी सजा मिलेगी।
प्रिया- ठीक है सर..

राहुल- प्रिया तुम्हारा फिगर क्या है?
प्रिया- मुझे नहीं पता सर.. मैंने कभी ध्यान नहीं दिया।
राहुल- तो मुझे तुम्हारा फिगर मापना पड़ेगा।
प्रिया- अभी मापोगे सर?
राहुल- हाँ..
प्रिया- ठीक है सर माप लो।

कुंवारी लड़की का नंगा बदन

राहुल- ऐसे नहीं.. कपड़ों के ऊपर से सही नाप नहीं आता.. तुम्हारे कपड़े उतारने पड़ेंगे।
प्रिया- नहीं सर.. अभी नहीं.. कल नाप लेना।
राहुल- फिगर तो मैं अभी ही चैक करूँगा.. नहीं तो नौकरी नहीं दूँगा।

प्रिया- अगर आपने फिगर चैक करने के बाद भी नौकरी नहीं दी.. तो मैं कहीं की नहीं रहूँगी।
राहुल- तो ऐसे कहो ना.. यह बात है तो यह लो दस हज़ार रुपए.. अगर मैं तुम्हें नौकरी ना दूँ तो यह पैसे तुम्हारे। अब तो फिगर चैक करवाओ डार्लिंग।

दस हजार देख कर प्रिया की चूत भी फड़कने लगी- ठीक है सर!
प्रिया अपना टॉप उतारती है और फिर अपनी जीन्स उतारती है.. अब वो फिर केवल ब्रा और पैंटी में रह गई- चैक कर लीजिये सर..

राहुल- यह तुम्हारी ब्रा और चड्डी तुम उतारोगी या मैं उतारूँ?
प्रिया- ऐसे ही चैक कर लीजिए ना सर.. मुझे शर्म आ रही है।

राहुल- मैंने तुम्हें इतने रुपए दिए.. फिर भी तुझे शर्म आ रही है। मैंने तुझे नंगी देखने के लिए इतनी रकम दी है। अब उतार बाकी के कपड़े.. नहीं तो पैसे वापस दे दे।

प्रिया अपनी ब्रा का हुक खोलने की कोशिश करती है.. पर उसका हुक जब खुलने में दिक्कत करने लगा तो राहुल ने उसकी ब्रा का हुक खोल दिया और ब्रा से निकलते ही उसके बड़े-बड़े मम्मे उछल पड़े।

फिर राहुल ने उसकी चड्डी भी निकाल दी। प्रिया के पूरा नंगा होने पर राहुल उसके सेक्सी फिगर को देखता ही रह गया। उसकी चूत पर बालों का घना जंगल था.. जबकि मम्मे एकदम तने हुए थे। प्रिया अपने दोनों हाथों से अपनी बुर को छुपाने की कोशिश करने लगी। लेकिन राहुल ने उसका हाथ हटा दिया।

प्रिया- जल्दी नापो ना सर.. मुझे बड़ी शर्म आ रही है।
राहुल टेप से उसके मम्मों को नापता है फिर उसकी कमर और गांड का नाप लेता है- वाह.. क्या सेक्सी फिगर है तेरा 34-28-34.. एकदम परफेक्ट।

प्रिया अपने कपड़े पहनने के लिए उठने को हुई तो यह देख कर राहुल ने उसे रोक दिया।

राहुल- प्रिया तुम्हारी नौकरी पक्की.. लेकिन कल तुम अपनी चूत पर से यह जंगल साफ़ करके आना। मैं अभी तुम्हारा अपॉइंटमेंट लेटर देता हूँ। अगर तुम्हें पसंद ना आए.. तो तुम चाहो तो एक महीने बाद नौकरी छोड़ सकती हो। तुम्हें अपॉइंटमेंट लेटर पर नंगे ही साईन करना पड़ेगा।

प्रिया ने साईन कर दिया.. फिर कपड़े पहनने लगी..
तो राहुल ने उसे फिर रोक दिया- प्रिया, अब तो तुम्हें नौकरी मिल ही गई है.. अब तुम्हें एक छोटा सा टेस्ट पास करना पड़ेगा।
प्रिया- कैसा टेस्ट सर?

कुंवारी लड़की के मुँह में बॉस का लंड

राहुल- तुम्हारा यह सेक्सी जिस्म देख कर मेरा लौड़ा खड़ा हो गया है.. इसे तुम्हें शांत करना पड़ेगा।
प्रिया- वो कैसे सर?
राहुल- पहले तो तुम मुझे ‘सर’ मत कहो.. राहुल कहो.. और तुमको मेरा लंड चूस कर इसको शांत करना पड़ेगा।

प्रिया राहुल की बात सुनके घबरा गई और गिड़गिड़ाने लगी- प्लीज सर.. आज मुझ से यह सब नहीं होगा।

राहुल- मादरचोदी.. कब से नखरे कर रही है.. तुझे पूरी नंगी करने के बाद कोई तुझे चोदे बिना नहीं छोड़ेगा। मैं सिर्फ लंड चूसने का बोल रहा हूँ.. तो भी तेरे नाटक खत्म नहीं हो रहे हैं.. तुझे दस हज़ार दे दिए.. फिर भी नखरे दिखा रही है.. देख चुपचाप मेरा लौड़ा चूस ले.. नहीं तो तुझे यहीं चोद दूँगा।

प्रिया ने डरते हुए कहा- ठीक है सर..
फिर प्रिया ने राहुल की पैन्ट खोली और उसकी चड्डी नीचे करके लंड चूसने लगी।
राहुल- ढंग से चूस रांड.. पहले किसी का चूसा नहीं क्या.. पहले इसे पूरा चाट.. फिर मुँह में पूरा ले ले।

प्रिया- सर इसके पहले मैंने कभी नहीं चूसा.. और आपका इतना बड़ा मेरे मुँह में कैसे आएगा?
राहुल- कुतिया.. तुझे मना किया ना.. सर मत बोल. एक बार इसका रस पी ले.. फिर देख कैसे तू रोज कुतिया की तरह मेरा लंड चूसने आएगी।

प्रिया अपनी जुबान से राहुल का लंड चाटने लगी.. फिर वो उसके टट्टे चूसने लगी.. कुछ ही पलों बाद उसने राहुल के लंड का सुपारा लॉलीपॉप की तरह चूसना चालू कर दिया।

राहुल उसके बाल पकड़ कर पूरा लंड उसके मुँह में डाल रहा था। प्रिया के मुँह से ‘गूंगूं’ की आवाज़ आने लगी.. उसका दम घुटने लगा था और तभी राहुल के दबाव के कारण उसने जोर का झटका दे कर लौड़ा बाहर निकाल दिया।

प्रिया- राहुल मैं आपका चूस रही हूँ ना.. आप ऐसे मत कीजिए.. मुझे घुटन हो रही है।
राहुल- ठीक है कुतिया.. तेरा पहली बार है.. तो तुझे अपने हिसाब से करने देता हूँ.. और थोड़ा खुल कर बोल.. ये वो.. क्या कर रही है.. जब लौड़ा चूसने में शर्म नहीं रही.. तो बोलने में क्यूँ शरमा रही है.. खुल के बोल रांड..

प्रिया फिर से लंड चूसने लगी.. अब उसने धीरे-धीरे पूरा लंड मुँह में ले लिया। राहुल भी मजे से उसके मुँह को चोदने लगा। अब तो प्रिया भी मस्ती से राहुल का लंड चूसने लगी।

राहुल भी मादक सीत्कार भरने लगा- आह्ह.. अह्ह्ह्ह.. उम्म्ह… अहह… हय… याह… प्रिया.. ऐसे ही चूस.. मज़ा आ रहा है.. और जोर से चूस कुतिया.. तुझे तो मैं अपनी रांड बना कर रखूँगा..

प्रिया का सर पकड़ कर राहुल उसके मुँह को जोर-जोर से चोदने लगा, प्रिया के मुँह की गर्मी राहुल को पागल कर रही थी।
अब उसका माल निकलने वाला था.. और राहुल ने प्रिया के मुँह में अपना गर्म-गर्म वीर्य निकाल दिया।

प्रिया को उलटी आने लगी.. और पूरा वो राहुल का पूरा वीर्य निकालने लगी तो राहुल ने उसके मुँह को अपने होंठों से बंद कर दिया.. और प्रिया को ना चाहते हुए भी राहुल का माल पीना पड़ा।

बहुत गुस्सा आया प्रिया को.. वो राहुल से बोली- राहुल यह गलत है.. आपने यह क्या पिला दिया मुझे?
राहुल- मेरी प्यारी रांड.. यह तो अमृत है.. थोड़े दिन रुक जा.. अगर इस अमृत की एक बूंद भी जमीन पर पड़ी.. तो तू कुतिया की तरह चाटेगी।

बॉस राहुल अब उसके चूचुकों को दबाने लगा.. और फिर उसके मम्मों को बारी-बारी से अपने मुँह में दबा कर चूसने लगा।

प्रिया एकदम उत्तेजित होने लगी और बोली- राहुल यह क्या कर रहे हो.. मैं पागल हो रही हूँ.. प्लीज मुझे छोड़ दो।
राहुल उसकी एक बात नहीं सुनता और उसके मम्मों को जोर-जोर से दबाने लगा।

‘आअह्ह्ह.. राहुल ये मुझे क्या हो रहा है.. मेरी चूत में कुछ हो रहा है.. प्लीज राहुल कुछ करो.. मैं मर जाऊँगी..’

राहुल- मुझे तेरी यह झांटें पसंद नहीं.. इसलिए आज मैं इसे शांत नहीं कर सकता.. लेकिन तुझे तेरी फुद्दी की गर्मी को निकालना तो पड़ेगा ही.. नहीं तो तू सोचेगी कि कैसा हरामी मालिक मिला है।

अपने ऑफिस में एक दूसरी लड़की को राहुल ने बुलाया।
थोड़ी देर में एक सेक्सी लड़की ब्रा और स्कर्ट में अन्दर आई। उसका नाम रीना है।

राहुल- रीना.. तुम्हें तो पता ही है मुझे झांटें पसंद नहीं हैं और प्रिया हमारी नई स्टाफ है.. और इसकी चूत में आग लगी है। अब तुम्हें ही इसकी चूत की आग को ठंडा करना है। इसकी चूत को चाट कर इसकी चूत का अमृत निकल दो।

रीना प्रिया की चूत को चाटने लगी, प्रिया पागल होने लगी।
यह हिन्दी सेक्स कहानी आप अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं!

प्रिया की चूत को रीना लगातार चाट रही थी तो कुछ ही समय बाद प्रिया की चूत का पानी निकल गया और वो निढाल होकर यूं ही फर्श पर लेट गई।

दोस्तो, यह मेरी फंतासी पर आधारित हिन्दी सेक्स स्टोरी है। इसको आगे लिखने से पहले मैं आप सब के विचारों को जानना चाहूँगा।
आपके ईमेल के इन्तजार में आपका राज जैन।
[email protected]

इस कहानी को पीडीएफ PDF फ़ाइल में डाउनलोड कीजिए! नौकरी के लिए चूत चुदाई की शर्त