रैगिंग ने रंडी बना दिया-79

(Lesbian Sex Story: Ragging Ne Randi Bana Diya- Part 79)

यह कहानी निम्न शृंखला का एक भाग है:

अब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि फ्लॉरा टीना और सुमन आपस में ग्रुप सेक्स को लेकर बातें कर रहे थे. फ्लॉरा सुमन से भी चुदाई में शामिल होने का कहती है लेकिन सुमन मना कर देती है.
अब आगे..

टीना की बात सुनकर फ्लॉरा ने कुछ सोचा, फिर बोली- यार तू मेरी बात सुन.. देख उन सबमें अजय का लंड सबसे छोटा है तो सुमन की सील वो तोड़ेगा.. तो ज़्यादा दर्द नहीं होगा. बाकी 2 लंड तू खा लियो और 2 लौड़े में संभाल लूँगी.
सुमन- नहीं प्लीज़ आप बात को समझो.. अभी मेरा मन बिल्कुल भी नहीं है. जब होगा तो मैं आपको बता दूँगी.

टीना- तू भी क्या इसके पीछे लंड लेकर पड़ गई.. इसने ना कहा ना.. तो जाने दे. अब बस इस बारे में तुम आगे कोई बहस मत करना.
फ्लॉरा- अच्छा ठीक है.. नहीं बोलती, बस वैसे मैं तो आज मज़े लेकर चुदाई करूँगी ही.
टीना- हाँ चुद लेना.. किसने रोका. अच्छा सुमन एक बात बता.. लड़कों के साथ तुझे प्राब्लम है.. मगर हम दोनों के साथ तो तू मज़े ले सकती है ना?
सुमन- वो कैसे दीदी.. मैं आपकी बात को कुछ समझी नहीं?
टीना- जिस खेल के बारे में मैंने घर पर कहा था ना.. वही खेल हमारे साथ खेल ले, बहुत मज़ा आएगा.
फ्लॉरा- तुम्हारा मतलब लेस्बो.. वाऊ यार, ये तो बहुत मस्त आइडिया है.

सुमन की कुछ समझ में नहीं आया, वो बस दोनों को देखने लगी.

टीना- अरे ऐसे मुँह क्यों बना रही है? याद है मैंने कहा था पीरियड खत्म होने के बाद तुझे एक नया खेल बताऊंगी.
सुमन- नहीं दीदी, मुझे तो याद नहीं.
टीना- बताया होगा यार शायद तुझे याद नहीं.. या मैं ही भूल गई होऊंगी.
फ्लॉरा- अरे दोनों क्या बहस में लगी हो.. बताया होगा ये जरूरी नहीं है. अभी मज़ा करना है या नहीं.. ये बोलो?
सुमन- मुझे कुछ बताओ तो क्या करना है.. कैसे करना है?
टीना ने आंख मारते हुए- एक काम करो फ्लॉरा, तुम कोई कोल्ड ड्रिंक का इंतजाम करो. मैं सुमन को समझाती हूँ.

फ्लॉरा उठ कर चली गई तो टीना ने सुमन को एक वीडियो दिखाया, जिसमें दो लड़कियां आपस में चुत रगड़वाने का मज़ा ले रही थीं, जिसे देख कर सुमन की चुत में पानी आ गया.

सुमन- वाउ दीदी.. ये भी मस्त है अगर कोई ना मिले, तो हम दोनों आपस में भी चुत रगड़वाने का मज़ा ले सकते हैं.
फ्लॉरा- दोनों नहीं.. तीनों. आज हम तीनों एक-दूसरे की चुत को चाट कर ठंडा करेंगे.
सुमन- नहीं दीदी, मुझसे नहीं होगा फ्लॉरा के सामने मैं कैसे?
टीना- चुप कर.. मॉंटी के सामने नंगी होने में शर्म नहीं आई और फ्लॉरा के सामने आ रही है. अरे ये लड़की है, कोई लड़का नहीं.. जो तेरी चुत में लंड घुसा देगा.
फ्लॉरा- ये मॉंटी कौन है यार..? मुझे भी बताओ आख़िर सुमन कुँवारी है या नहीं?

मॉंटी का नाम सुनकर सुमन के पसीने निकल गए.. मगर टीना ने जल्दी से बात को संभाल लिया.

टीना- अरे वो तो मैंने ऐसे ही बोला. अब टाइम खराब मत करो, चलो जल्दी से कपड़े निकाल दो ताकि कुछ एंजाय किया जाए.
सुमन- ठीक है दीदी, पहले आप दोनों शुरू करो. फिर मैं आप दोनों के साथ मज़ा करने आ जाऊंगी.

फ्लॉरा और टीना तो बेशर्म थीं.. एक झटके में नंगी हो गईं और उन दोनों के जिस्म देख कर सुमन तो बस देखती रह गई. वैसे तो टीना को वो एक बार देख चुकी है.. मगर फ्लॉरा आज पहली बार उसके सामने नंगी हुई थी. उसके बड़े-बड़े चूचे देख कर सुमन ना चाहते हुए भी अपने मम्मों को दबा कर देखने लगी.

टीना ने फ्लॉरा को बेड पर लेटा दिया और उसके निप्पलों को चूसना शुरू किया.
फ्लॉरा- आह.. टीना.. उफ्फ.. तू तो किसी लड़के की तरह चूस रही है.. आह.. मज़ा आ रहा है.

टीना तो उसके निप्पल ऐसे चूस रही थी जैसे आज वो सारा रस निचोड़ कर ही रुकेगी.. और ये सब देख कर सुमन की चुत भी फड़कने लगी, वो उत्तेजित हो गई थी. मगर अभी भी उसके मन में थोड़ी झिझक थी.

टीना और फ्लॉरा अब 69 के पोज़ में आ गईं और दोनों एक-दूसरे की चुत को कुरेदने लगीं. थोड़ी देर तो सुमन ने ये देखा फिर उसका सब्र खत्म हो गया और वो भी नंगी हो कर दोनों के पास आ गई.
सुमन उनके पास लेट गई और टीना की गांड पर हाथ घुमाने लगी.

बस उसी पल दोनों अलग हुईं और सुमन की जवानी पर टूट पड़ीं. फ्लॉरा ने सुमन के मम्मों को सहलाना शुरू किया और टीना उसकी चुत को जीभ से कुरेदने में लग गई.
फ्लॉरा- वाउ सो स्वीट सुमन.. तेरे चूचे तो बहुत कड़क हैं. जब इनपे असली मर्द के हाथ लगेंगे ना.. तब देखना तू कैसे खुद लंड माँगने लगेगी.
सुमन- आह.. दीदी.. आराम से.. उफ्फ.. मेरी चुत नहीं चूसो फ्लॉरा.. आह.. मेरे निपल्स को चूस लो.. आह.. दोनों निप्पलों को चूसो ना आह.. ऐसे ही हाँ.. मज़ा आ रहा है उफ्फ.. दीदी.. नहीं आह.. चुत को काटो नहीं.. प्लीज़ आह.. सस्स उफ्फ…

फ्लॉरा और टीना ने सुमन को चूस-चूस कर पागल बना दिया. वो बहुत जल्दी अपने चरम पर पहुँच गई- आह.. इसस्स दीदी.. मैं गई.. उफ्फ.. नहीं आह.. प्लीज़.. उफ्फ.. मेरा पानी आह.. नहीं..
सुमन की चुत से रस की धारा बहने लगी और टीना अपनी जीभ से उस रस को चाटने लगी. तभी फ्लॉरा ने टीना को हटाया और बाकी का रस वो जीभ से चाट कर साफ करने लगी. सुमन तो मज़े में अपनी आँखें बंद किए पड़ी हुई थी.

जब उसकी चुत के पानी की आख़िरी बूँद भी फ्लॉरा ने चूस ली, तब उसने आँखें खोलीं- ओह दीदी थैंक्स.. ऐसा मज़ा देने के लिए.. उफ्फ.. आप दोनों ने तो आज मुझे पागल ही बना दिया.
टीना- अभी कहाँ मेरी जान.. अब तेरी बारी है.. तू हम दोनों की चुत को चाट कर उसका सारा रस गटक जा.. फिर आएगा असली मज़ा.

सुमन ने पहले कभी चुत नहीं चाटी थी.. इसलिए उसे थोड़ा अजीब लगा. मगर उन दोनों ने उसको जो मज़ा दिया था, वो भी उनका बदला उतारना चाहती थी. इसलिए उसने पहले टीना की चुत से शुरुआत की. शुरू में उसको अजीब सा लगा, बाद में तो वो मज़े से चुत चूसने लगी.

फ्लॉरा और टीना पास में एक साथ बेड पर लेटी हुई थीं और सुमन उनके बीच में बैठ कर दोनों की चुत को बारी-बारी से चाट रही थी. वो दोनों एक-दूसरे के होंठ चूस रही थीं.

सुमन कभी फ्लॉरा की चुत को होंठों में दबा कर चूसती, तो कभी टीना की चुत को जीभ से कुरेदती. बस ऐसे ही वो उन दोनों को उत्तेजना के चरम पर ले आई. पहले फ्लॉरा की चुत ने रस छोड़ा, जिसे सुमन गटक गई. उसके बाद टीना माल निकालने को हुई तो उसने सुमन के सर को पकड़ा और जोर-जोर से चुत को उसके मुँह पे रगड़ने लगी.

टीना- आह.. ससस्स चूस मेरी जान आह.. पी जा साली.. मेरी चुत का पूरा रस.. उफ्फ.. आह.. आह..
टीना का बाँध भी टूट गया और सुमन ने उसका भी रस गटक लिया, मगर जब आखिरी बार उसने चुत को चूसा तो फ्लॉरा ने जल्दी से सुमन को अलग किया और उसको किस करने लगी. उसने अपनी जीभ सुमन के मुँह में घुसा दी और टीना का रस निकालने लगी. सुमन भी फ्लॉरा का इशारा समझ गई. उसने मुँह में जो रस था, वो फ्लॉरा की जीभ पे लगा दिया, जिससे उसको भी टीना का रस चखने को मिल गया.

थोड़ी देर वो तीनों ऐसे ही पड़ी रहीं. फिर सबने कोल्ड ड्रिंक पी और हँसी-मजाक भी किया.

सुमन- ओके दीदी.. अब मुझे जाना होगा.. नहीं तो पापा को शक हो जाएगा.
फ्लॉरा- यार सुमन रुक जा ना.. बहुत मज़ा आएगा. तुम अगर चुदवाना नहीं चाहती तो कोई बात नहीं, मगर हम दोनों की चुदाई देख तो सकती हो ना.. बहुत मज़ा आएगा.
सुमन- नहीं फ्लॉरा.. आप समझ नहीं रही हो, अभी मेरा यहाँ रुकना ठीक नहीं है और वैसे भी आज नहीं तो फिर कभी मैं आप लोगों के साथ एंजाय जरूर करूँगी.
टीना- हाँ फ्लॉरा इसे जाने दे. ये अभी तैयार नहीं है. कुछ दिनों बाद फिर प्रोग्राम बनाएंगे, तब इसे भी साथ लेकर आएंगे. उस दिन इसे अपनी चुदाई दिखा भी देना और हो सके तो कुछ सिखा भी देना.

सुमन- दीदी आपसे एक बात करनी थी.
टीना- हाँ बोल.. क्या बात है मेरी जान?
सुमन- व्व..वो दीदी एक मिनट इधर आओ ना!
फ्लॉरा- अरे यार मैं कोई दुश्मन हूँ क्या.. जो मेरे से छुपा कर बात करोगी?
टीना- तू रुक ना यार.. ऐसी कोई बात नहीं है. मैं तुझे बाद में बता दूँगी. शायद सुमन को तेरे सामने कहने में शर्म आ रही होगी.
फ्लॉरा- अच्छा खुद मेरे सामने नंगी है. अभी चुत चटवा रही थी, फिर खुद भी चुत चाटी.. तब शर्म नहीं आई.. और अब आ रही है. ये क्या चक्कर है भाई.. जरा बताओ तो?
सुमन- प्लीज़ आप बुरा मत मानो.. दीदी आपको बाद में बता देंगी ना!

टीना- अच्छा, अब तू चल और बता क्या है?
दोनों वहां से कुछ दूर जाकर खड़ी हो गईं और सुमन ने टीना से अपने पापा के बारे में बात की.
सुमन- दीदी पापा उत्तेजित हो रहे हैं. आप जल्दी कोई लड़की तो देख कर रखो ताकि सही वक़्त पर हम उसको पापा के पास लेकर जा सकें.
टीना- यार ये बात तो तू कल भी बोल सकती थी.. अभी तुझे क्या सूझी?
सुमन- व्व..वो दीदी फ्लॉरा बहुत सुन्दर है.. और इसका जिस्म भी बहुत सेक्सी है. अगर ये मान जाए तो शायद पापा भी मान जाएँगे.
टीना- वाह यार.. तेरा दिमाग़ तो बहुत फास्ट चलने लगा है. ये बात तो मैंने सोची भी नहीं थी. गुड यार अब तू निकल.. मैं अपने हिसाब से फ्लॉरा से बात करती हूँ.

सुमन ने कपड़े पहने और अपना हुलिया ठीक किया और वहां से निकल गई. उसके जाने के बाद फ्लॉरा ने टीना से पूछा कि क्या प्राइवेट बातें हो रही थीं.. तब टीना ने उसको सुमन के पापा की कहानी सुनाई और उसका ऑफर भी बताया.

फ्लॉरा- नहीं यार ये कैसे हो सकता है.. मैं कैसे उसके पापा से चुदवा सकती हूँ.. नहीं नहीं.. ये सही नहीं होगा.
टीना- मानती हूँ यार.. इतनी उम्र के आदमी के साथ चुदाई करने में तुझे क्या, किसी को इंटरेस्ट नहीं होगा मगर तू यकीन कर, इस उम्र के आदमी चुत को बहुत मज़ा देते हैं.
फ्लॉरा- अच्छा तुझे कैसे पता.. तू तो ऐसे बोल रही है जैसे तूने ऐसे किसी के लंड के साथ मजा किया हो?
टीना- हाँ यार.. मैंने तुझे बताया था ना.. मेरी पहली चुदाई मेरे चाचा ने की थी. जब मैं छोटी थी और चुदाई का ‘चु’ भी मुझे पता नहीं था.
फ्लॉरा- हाँ याद है.. मगर तुमने डिटेल में बात नहीं बताई थी.. चल आज बता दे.

अरे दोस्तो, टीना के अंकल ने उसको कैसे चोदा था ये सब आज नहीं.. कल अगले पार्ट में बताऊंगी.. ओके!

आप मेरी लेस्बियन सेक्स स्टोरी का आनन्द लें और कमेंट्स करें.
[email protected]
कहानी जारी है.

इस कहानी को पीडीएफ PDF फ़ाइल में डाउनलोड कीजिए! रैगिंग ने रंडी बना दिया-79