डांसर से हाई प्रोफाइल कॉल गर्ल-2

(Dancer Se High Profile Call Girl-2)

This story is part of a series:

शोभा (बदला हुआ नाम)
पिछले भाग से आगे :

आज जाट ने तेरी सील तोड़ डाली।
कहीं धोखा तो नहीं दोगे?
कभी नहीं !
आधे घंटे के बाद दोनों हांफ़ने लगे, उसका काम तमाम हो गया, मेरा भी !
अलग हुए, कपड़े पहने, बाल ठीक करके उसके साथ वापस शहर लौट आई।

यह मेरी जिन्दगी का एक बड़ा मोड़ था जहाँ से मैंने कॉलगर्ल बनने का रास्ता पकड़ लिया, जहाँ से में मुड़ी नहीं ! वो मुझे महंगे तोहफे देता, मोबाइल लेकर दिया, मैं उससे पैसे भी मांग लेती।

मैं जिस कैफे में काम करती थी वो एक आंटी चलाती थी, उसने मुझे राहुल के साथ देखा जब वो मुझे छोड़ने आया, आंटी ने मुझे अपने केबिन में बुलाया, बोली- यह विधायक का बेटा राहुल है ना?
जी आंटी !
क्या देता है तुझे यह लड़का अपने साथ सुलाने के लिए?
समझी नहीं आंटी?
समझेगी भी नहीं, समझने देगा तब ना !
आंटी, हम प्यार करतें हैं और जल्दी हमारी शादी होने को है !
शादी और यह? मेरे पास अक्सर आता है यह कोई नई लड़की अपने साथ सुलाने के लिए !
‘आपको गलत फ़हमी होगी !’

नहीं रानी ! नहीं ! यह तेरे साथ शादी-वादी नहीं करेगा, बरतेगा और छोड़ देगा ! क्यूँ मुफ़्त में जवानी लुटा रही है? इससे अच्छा मुझे बोलती ! तेरी गरीबी जो लानत बन चुकी है, दूर करवा देती ! जितनी खूबसूरत तू है ! बस महंगे तोहफे मिलते होंगे? उनका क्या काम है? आजकल पैसा ही सब कुछ है। तुम जितनी खूबसूरत हो, मेरा अपना डांस ग्रुप है पंजाब में, शादी के सीजन में मोटा पैसा कमाया जाता है। बोल, उसमें काम करेगी? डांस तो तुझे बहुत आता है और ऊपरी कमाई अलग से ! और अगर किसी का दिल आ गया तो मालोमाल ! छोड़ दे यह लड़कों के चक्कर-वक्कर !

मैंने उस दिन उनको कहा- ठीक है ! मुझे सोचने का वक्त चाहिए !

ठीक है। मुझे तो अभी उनकी बात पर यकीन नहीं था, लेकिन एक दिन राहुल मुझे फार्म हाउस लेकर गया पहले की तरह ! उसने बियर वगैरा पी, मुझे कोल्ड ड्रिंक पिलाई। उसे पीने के बाद मेरा सर चकराने लगा, मुझे शक हुआ कि उसमें कुछ था, मुझे नशा हुआ, वो मुझे बाँहों में लेकर चूमने लगा, मुझे होश थी पर दिमाग सुन्न था।

यह क्यूँ किया तुमने?
मैंने कौन सा तुझे मना किया था?
रानी, आज मैं अलग मूड में हूँ !
वो क्या?

मेरे दो दोस्त आये हैं अमेरिका से ! तुम्हे फोटो में देख पागल हो गये हैं, मिलना चाहते हैं।
राहुल मैं तुम्हारी गर्लफ्रेंड हूँ और आगे हम शादी करेंगे।
हाँ बेबी, जब मुझे एतराज़ नहीं तो तुम्हें क्या है?

उसने मेरे कपड़े एक-एक कर उतारे, इतने में दो लड़के अंदर आये, दोनों काफी खूबसूरत थे। मैंने बेड-शीट खींच अपने को छुपाया लेकिन उन्होंने मेरी चलने नहीं दी।
जो कहोगी, मिलेगा ! कितने डॉलर चाहिएँ?

मुझे आंटी की बात याद आई, यह तय था कि राहुल एक फ़्रॉड था, मुझे मालूम था कि वो अब इस दिन के बाद मुझे घास नहीं डालेगा।
नहीं प्लीज़ राहुल ! मैंने प्यार किया है !
हां तो जान, ये मेरे भाई जैसे हैं, अपने देवर समझो।

अब उसके चेहरे से नकलीपन झलक रहा था, वो बोला- मुझे एक काम याद आ गया, तुम तीनों मज़े करो !
उनके गले में मोटी-मोटी सोने के चेनें थी, मेरे करीब आये, मेरी चादर खींच कर अलग कर दी।
वाह ! क्या फिगर है तेरा ! आई एम गेटिंग क्रेजी ! कम ऑन ! वट अ लवली बूब्स ! नाईस निपल्स ! वओव !
चूसने लगा !
कितने दोगे? यह चेन भी चाहिए।
उसने उसी पल उतार कर दी- पांच तोले की है !

मैंने पास पड़े अपने हैण्ड बैग में रख दी, यह मेरा पहला सौदा हुआ था।
दोनों नंगे हो गए, उनके लौड़े बहुत बड़े थे।
मर गई आज तो ! तुम क्या दोगे स्वीट हार्ट?
पहले कुछ मजे लेने दो !

मैंने उनके लौड़े पकड़ लिए, सारी शर्म उतार फेंकी।
शो योर पसी बेबी !
उसने मेरी पैंटी उतार फेंकी- ‘वट आ पसी मैन ! पिंक पसी !’
वो उंगली डालने लगा और साथ साथ दाने को दबाने लगा।
दूसरे ने मेरे मुँह में अपना लण्ड घुसा दिया।

उनका तरीका बिल्कुल अलग था, मुझे बहुत मजा आ रहा था। वो चूत में उंगली करता, फिर निकाल अपने मुँह में चूस कर मेरी चूत का रस चखता।
दूसरा मुझसे लौड़ा चुसवाने में मस्त था।
वुई लव इंडियन बिचेज़ ! गोरी बहुत चोदी, आज हमें नई चीज़ मिली है !

उसने अपनी पूरी जुबान मेरी फ़ुद्दी में घुसा कर घुमाई। मैं पगला गई, मैंने अपनी गांड उठाई, तो अब उसका मोटा और बड़ा लौड़ा चूसने में काफी दिक्कत आने लगी।
मैंने उसको चाटना चालू किया, इतने में वो उठा और अपना लौड़ा मेरे मुँह के पास लाया और चुसवाने लगा। दूसरे वाला अब मेरी चूत को चाटने लगा।

दोनों लौड़े भारतीय नारी पर वारी जा रहे थे, बोला- बेबी नाव लेट्स फक यू !
उसने मेरी एक टांग कंधे पर रखवा दी और अपना लौड़ा चूत में डाला, मुझे बहुत दर्द हुआ, उसका लौड़ा छोटा नहीं था, चीरता हुआ मेरी चूत में चला गया। देखते ही पूरा लौड़ा अंदर था। सच कहूँ तो अब मुझे स्वाद आने लगा, उनका तरीका अलग ही था। मेरे चुचूकों को चूस-चूस कर मेरी चूत मारी, फिर मुझे घोड़ी बना लिया, दूसरा सामने आकर मुझसे लौड़ा चटवा रहा था, बोला- तेरी गाण्ड मारनी है !
नहीं प्लीज़ ! मैंने कभी नहीं करवाया !
इसके अलग पैसे दूँगा ! मुझे बहुत शौक है गांड मारने का ! प्यार से करूँगा !

उसने मेरी गाण्ड पर थूका, गीला कर लिया और धीरे धीरे से अंदर किया। उसने अपना वादा नहीं तोड़ा, बहुत सलीके से डाला। सच कहूँ, थोड़ी चुभन हुई जब घुसने लगा पर उसके बाद महसूस ज़रूर हुआ लेकिन जैसे कील को ग्रीस लगा कर लगा रहा हो, उसने मुझे रंडी बना दिया था। पैसे कह कह कर उसने मेरी गांड मारी और बोला- थोड़ा चूसो !
इतने में दूसरे ने मेरी गांड मारनी चालू की, वो सीधा लेट गया, बोला- मेरे चेहरे की तरफ अपनी पीठ कर ले !
उसने मेरी गाण्ड में डाला और चोदने लगा जिससे मेरी चूत पहले वाले के सामने थी, वो उठा और दूसरे की टांगों पर बैठ कर लौड़ा रगड़ने लगा।
मैं समझ गई- नहीं ! ऐसा मत करना ! मर जाऊँगी मैं !
लेकिन उसने घुसा दिया।

दोनों तरफ से लौड़े मुझे चोद रहे थे लेकिन कुछ दर्द के साथ कुछ मजा भी था, दो दो मर्दों के साथ पहली बार लेटी थी।
ऊपर वाले ने स्पीड पकड़ी, बोला- अह अह अह !
उसने उसी पल निकाल लिया, मेरे चेहरे के पास आकर मुठ मारी, तेज़ पानी मेरे चेहरे पर फ़ैल गया, होंठों पे, नाक पे !

दूसरे ने मुझे लिटाया और मेरी चूत में लण्ड डाल कर तेज़ी से झटके दिए और अपना पूरा पानी मेरे पेट पर निकाल दिया, अंदर नहीं छोड़ा।
मुझे बहुत थकान हुई पड़ी थी, बदन टूट रहा था।
वो बहुत खुश हुए, दोनों ने मुझे पांच सौ डॉलर दिए, बोले- तुम बहुत सेक्सी लड़की हो ! अमेरिका चलो, वहाँ पोर्न स्टार बन जाओगी ! अँधा पैसा मिलेगा।
मैंने कपड़े पहन लिए।

इतने में राहुल वहाँ आ गया और मेरी आँखों में अंगारे थे- आज तो प्यार बलि चढ़ गया ! इनके साथ अमरीका चली जाऊँगी मैं राहुल ! बहुत पैसे मिले हैं !
चल चल ! जा साली ! अगर मैं शादी करने लगूँ तो रोज़ मेरी शादी होगी ! नखरे मत कर ! बैठ कार में !
मैं बैठ गई, बोला- मंत्री साब को खुश करेगी पचास हज़ार एक रात के देंगे।
आगे क्या हुआ अगले भाग में !
[email protected]
1938

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top