लण्ड-चूत ने पानी छोड़ा

करके चिकनी जांघें चौड़ी
दबा-दबा के चूचियाँ मरोड़ी !

कसी चूत में डाला लौड़ा
सील बन गई राह का रोड़ा !

लण्ड घुसा ज्यों थोड़ा-थोड़ा
चूत बन गयी मस्त पकौड़ा !

लण्ड हुआ फिर गर्म हथौड़ा
चोट मार के सील को तोड़ा !

चूस मसल के चूचों का जोड़ा,
मसल-मसल के चूतड़ थोड़ा,

लण्ड हो गया जैसे घोड़ा
दे दनादन दौड़ा दौड़ा !

जोर-जोर से लण्ड घुसेड़ा
चूत कुँवारी लौड़ा तगड़ा !

पेला चोदा चूत को रगड़ा
लण्ड-चूत ने पानी छोड़ा !

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top