पराकाष्ठा

गरीबी की पराकाष्ठा…एक औरत अपने पति के फटे हुए कंडोम को सिल कर ठीक कर रही है..

भोलेपन की पराकाष्ठा…एक लड़की अपने निप्पलों को मुहांसे समझ कर मुहांसे मिटाने वाली क्रीम लगा रही है…

महत्वाकांक्षा की पराकाष्ठा…एक चींटा हथिनी से सम्भोग करने के लिए उसके पैर पर चढ़ने की कोशिश कर रहा है…

बेरोजगारी की पराकाष्ठा…एक वेश्या की योनि में मकड़ी ने जाला बना दिया…

आलस्य की पराकाष्ठा…एक आदमी नंगा होकर अपनी नंगी बीवी पर यह सोचकर लेटा हुआ है कि बाकी का काम भूकंप कर देगा…

सहनशीलता की पराकाष्ठा…एक आदमी अपनी बीवी के साथ सेक्स करने के लिए कतार में लगा हुआ है और अपनी बारी की प्रतीक्षा कर रहा है…

इस कहानी को पीडीएफ PDF फ़ाइल में डाउनलोड कीजिए! पराकाष्ठा

प्रातिक्रिया दे