आप अन्तर्वासना पढ़ें

बारिश हो और ज़मीन गीली न हो

धूप निकले और सरसों पीली न हो

तो फिर आपने यह कैसे सोच लिया कि

आप हमें याद करें और आपकी चड्डी गीली न हो !

आगे सुनें :

आप अन्तर्वासना पढ़ें और आपकी अण्डरवीयर गीली न हो !

Leave a Reply