नारी की सेवा दिलाएगी मेवा

(Nari Ki Seva Dilayegi Meva)

दोस्तो, आप सबके लिए कुछ नया देने की कोशिश कर रहा हूँ।

असल में बहुत से पाठक पाठिकाएं अक्सर मुझसे ‘सेक्स फोरप्ले’ के बारे में पूछते हैं..
तो दोस्तो, सेक्सुअल फोरप्ले की ऐसे कोई परिभाषा नहीं होती.. यह नर नारी का आपस में ऐसा प्यार या नज़दीकियाँ हैं जो यौन सुख दे सकें.. और उनमें सम्भोग सहवास की तीव्र इच्छा जागृत कर दे।

इसी सन्दर्भ में आज मैं कुछ टिप्स दे रहा हूँ.. जिसे मैंने शीर्षक दिया हैं नारी की सेवा दिलाएगी मेवा…

सबसे पहले तो पुरुष इसे अपनी तौहीन न समझे और नारी इसे अपना अधिकार न समझे.. यह सिर्फ एक फोरप्ले जैसा ही है।
पुरुष को शुरू से ही.. मतलब किशोर अवस्था से ही नारी को नग्न देखने की बहुत तेज उत्कंठा होती है।
इसी वजह से नग्न नारी के जिस्म को दर्शाने वाली पत्रिकाएं.. फिल्में.. वेब साइट आदि को देखता रहता है।

ज़रा सोच कर देखो कि यही नारी जिस्म आपकी प्रेमिका या पत्नी का आपके सामने खुला हो कर पसरा हो.. तो कितना मज़ा आए.. और उस पर भी सोने पे सुहागा यह हो कि आपको इस अनावृत नग्न बदन को सहलाने मसलने का मौका मिल जाए.. तो क्या कहने!

तो इन सबको पाने के लिए दोस्तो, हमें करना यह चाहिए कि डार्लिंग के जिस्म के केयर-टेकर बन जाना चाहिए.. जैसे कि मैं अपनी डार्लिंग के साथ करता हूँ और खूब करता हूँ।

इसमें बहुत कुछ शामिल है.. और सबसे ज्यादा कामुक है नारी के जिस्म की मालिश करना…
यह सच में बहुत ही उत्तेजक अनुभव होता है.. क्योंकि भगवान ने पुरुष के मुक़ाबले नारी को बहुत ही उत्तेजक और कामुक जिस्म से नवाज़ा है.. नारी के उन्नत वक्ष.. पतली कमर.. नाभि.. योनि प्रदेश.. जंघाएं.. पिंडलियाँ.. उभरे कठोर गोलाई लिए हुए कूल्हे.. सब कुछ अद्भुत है।

मालिश एक ऐसा कार्य है.. जिसमें आप इन सब अंगों को बहुत नज़दीक से तसल्ली से दबा और सहला सकते हो।
नारी को उत्तेजित करने का ये एक श्रेष्ठ साधन है।

यह इतना ज्यादा उत्तेजक होता है कि पोर्न साइट पर बहुत सी मसाज वाली वीडियो बहुत लोकप्रिय हो रही हैं.. जिसे देख कर हम उत्तेजित हो जाते हैं।

तो सोच कर देखो कि लड़कों को करने में और लड़कियों को ये सब करवाने में कितना मज़ा आएगा।

चलिए अब एक दूसरी नारी सेवा पर आते हैं.. जो दोनों को हिला कर रख देती है।

वो है झाँटों की शेविंग या झाँटों के बाल रिमूव करना!

यह किसी भी लड़की का सबसे गोपनीय और कामुक स्थान होता है.. और चूत पर खूब सारे घने काले छितराए हुए बाल होते हैं।
चूत की झाँटें काफी अन्दर तक और नीचे तक होती हैं।

इसलिए यहाँ के बाल रिमूव करने लड़की को बहुत ही ज्यादा खुल कर अपनी टाँगें खोल कर लेटना होता है.. वो भी तेज़ रोशनी में.. उफ्फ… बहुत ही रोमांचक होता है ये सब करना।

दोस्तो.. झांट रिमूव करने का जो तरीका आपकी डार्लिंग को पसंद हो.. वो करना चाहिए। जैसे कि कुछ गर्ल्स वीट या एनफ्रेंच जैसी क्रीम से रिमूव करवाती हैं.. कुछ कैंची से सिर्फ अपनी झाँटों को ट्रिम करवाती हैं.. और कुछ मेरी डार्लिंग जैसी भी हैं.. जिन्हें रेज़र से शेव करवाने में मज़ा आता है।

क्योंकि इसमें पहले झाँटों को मसल-मसल कर पानी से गीला करो.. फिर उस पर शेविंग क्रीम लगा कर खूब सारा झाग बनाओ।
झाँटों की वजह से झाग बनते भी खूब ज्यादा हैं।

ये सब कुछ देखना करना बहुत मज़ेदार होता है.. और फिर सेफ्टी रेज़र को चूत पर सावधानी से चलाना बहुत उत्तेजक अनुभव है। एक हाथ से चूत को खोल कर चूत की कलियों को खोल-खोल कर शेव करना.. आप खुद देखोगे कि चूत बहुत ही जल्दी चिकना पानी छोड़ देगी।

बस समझो कि आपका काम हो गया।
वो चुदाई के लिए भी तैयार है।

अपना एक मज़ेदार किस्सा आपसे शेयर करता हूँ..
एक बार मेरी डार्लिंग ने मुझे घर में होते हुए भी फोन किया।

बोली- अरुण बार्बर बोल रहे हैं? सुनिए मेरी झाँटें बहुत ज्यादा बढ़ गई हैं.. उलझ जाती हैं.. चूत के अन्दर चली जाती हैं। अब तो पैन्टी के बाहर भी दिखने लगी हैं.. क्या आप अभी मेरी झाँटें शेव कर सकते हैं? इट्स अर्जेंट..

मुझे उसका यह अंदाज़ पसंद आया, मैंने भी हँसते हुए कहा- अर्जेंट काम के ज्यादा पैसे लगेंगे।
वो बोली- मंज़ूर है.. प्लीज़.. प्लीज़.. कम फास्ट!

सच बताऊँ दोस्तो.. यह सब सुन कर मेरा तो लण्ड एकदम से खड़ा हो गया।

मैंने कहा- ओके..

और फिर जाकर मैंने उसे पूर्ण नग्न करके बहुत ही इत्मीनान से उसकी झाँटें साफ़ कीं और वो उत्तेजना के मारे मदहोश सी हो गई।
मैंने उस दिन उसकी चूत शेविंग के फोटोज भी लिए.. वीडियो भी बनाया.. उसने बिल्कुल भी विरोध नहीं किया।

फिर मैंने अपना ये सब शेविंग वाला काम फिनिश करके.. उससे इस काम के पूरे 500 रूपए मांगे.. तो उसने बहुत ही शरारत से आँख मारते हुए कहा- ओह्ह.. मैं रूपए कहाँ से दूँगी.. मैं तो बिल्कुल नंगी पड़ी हूँ.. रूपए तो छोड़ो.. मेरे पास तो मेरा एक भी कपड़ा भी नहीं है।

मैंने भी बनावटी गुस्सा दिखाते हुए कहा- मैडम ये तो चीटिंग है.. मैं आपकी ही अर्जेन्ट काल पर तो आया था।

वो बोली- ओह्ह्ह.. मेरे राज़ा.. चलो एक काम करो.. तुम्हें देने को पैसे तो मेरे पास नहीं हैं.. ऐसा करो तुम मुझे जी भर के चोद लो जी..

हा हा हा हा.. तो दोस्तो, ऐसे मिलता है सेवा के बदले में मेवा.. और भी बहुत सी बातें जो अगले भाग में लिखूंगा।

आप लोग भी अपने ऐसे ही कुछ किस्से शेयर करना चाहें.. तो मुझे मेल करें।

मेरा वाट्सएप्स नंबर मुझे मेल करके ले सकते हैं, मेरा फेसबुक पेज अरुण जी के नाम से है फेसबुक आईडी है।
[email protected]

What did you think of this story??

Comments

Scroll To Top