सामान्यतया पूछे जाने वाले प्रश्न

अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज साईट के बारे में पाठकों लेखकों द्वारा पूछे जाने वाले कुछ सामान्य प्रश्नों के उत्तर आप यहाँ पा सकते हैं.

Authors questions

किसी एक लेखक की सभी कहनियाँ पढने के लिए आप दो तरीके अपना सकते हैं.
1. आप अपने प्रिय लेखक की कोई एक कहानी खोलिये, वहां कहानी के शीर्षक के नीचे आप लेखक का नाम देख सकते हैं, इस नाम पर क्लिक करके आप अपने प्रिय लेखक की सभी कहानियों की सूचि देख पाएंगे.

2. अन्तर्वासना साईट के मुख पृष्ठ के सबसे नीचे कुछ लिंक दिए गए हैं, इनमें एक लिंक है रचनाकारों की सूचि
इस सूचि में सभी लेखकों के नाम हैं, आप अपने प्रिय लेखक का नाम खोज पर उस पर क्लिक कर सकते हैं.

लगभग सभी कहानियों के नीचे लेखक की इमेल आईडी दी जाती है, आप उस इमेल आईडी पर मेल करके उस लेखक से सम्पर्क कर सकते हैं.
जो लेखक अपनी इमेल आई डी देने के लिए मना करते हैं, उनकी इमेल आई डी नहीं दी जाती.
तो उनसे संपर्क करना कठिन है.
फिर भी आप पुरानी अन्तर्वासना पर जाकर लेखक की कहानी के नीचे अपने कमेन्ट लिख कर लेखक से अपनी बात कह सकते हैं.

Submission Questions

आप अपनी कहानी सिर्फ इमेल के द्वारा [email protected] पर भेजें!

इसके लिए आपको किसी प्रकार के रजिस्ट्रेशन/सदस्य बनने/साइन अप/साइन इन/लोग इन करने की जरूरत नहीं है!

अन्तर्वासना ऐसी साईट है जहाँ आप सब पाठक-पाठिकाएँ, लेखक-लेखिकाएँ अपनी गर्मागर्म रचनाएँ, कहानियाँ हिन्दी में भेज सकते हैं। अगर आप भी अपनी कहानी भेजना चाहते हैं तो निम्न साधनों का उपयोग, नियमों का पालन करते हुए आसानी से अपनी रचना भेज सकते हैं।

कहानी भेजने के नियम

º रचनाकारों को कोई पारिश्रमिक नहीं दिया जाता है।

º कहानी स्वरचित (मौलिक) और कम से कम 1000 शब्दों की होनी चाहिए। अगर आपकी कहानी ज्यादा लम्बी है और आप इसे दो या ज्यादा भागों में प्रकाशित कराना चाहते हैं तो कहानी के सभी भाग इकट्ठे ही भेजें।

º अगर आप मेल से कहानी भेज रहे हैं तो केवल .doc .txt फ़ाइल / फोरमैट में ही भेजें. पी डी ऍफ़ PDF फ़ाइल / फोरमैट स्वीकार नहीं किया जाएगा.

º 18 साल से कम आयु के पात्र, पशु और बलात्कार पर आधारित नहीं होना चाहिए।

º कहानी में कोई फोन नंबर, घर, दफ्तर, व्यापार स्थल, स्कूल, कालेज का पता नहीं होना चाहिए। आप कहानी में सिर्फ अपना इमेल आईडी लिख सकते हैं।

º कहानी में किसी प्रकार के नशे का जिक्र नहीं होना चाहिये।

º किसी धर्म के खिलाफ कोई बात नहीं होनी चाहिए।

º कहानी में कोई यौन आमंत्रण नहीं होना चाहिए।

º अंग्रेजी भाषा के शब्दों का प्रयोग कम से कम होना चाहिए।

º पैराग्राफ का आकार यथा संभव छोटा होना चाहिए।

º विराम चिह्नों का प्रयोग आवश्यकतानुसार होना चाहिए।

º कहानी अपने आप में पूर्ण होनी चाहिए, अधूरी कहानी स्वीकार्य नहीं होगी।

º अपनी कहानी भेजते समय कृपया कहानी को अच्छा सा शीर्षक दें।

º कहानी स्वरचित (मौलिक) और कम से कम 1000 शब्दों की होनी चाहिए। अगर आपकी कहानी ज्यादा लम्बी है और आप इसे दो या ज्यादा भागों में प्रकाशित कराना चाहते हैं तो कहानी के सभी भाग इकट्ठे ही भेजें।

º अगर आप मेल से कहानी भेज रहे हैं तो केवल .doc .txt फ़ाइल / फोरमैट में ही भेजें. पी डी ऍफ़ PDF फ़ाइल / फोरमैट स्वीकार नहीं किया जाएगा.

º 18 साल से कम आयु के पात्र, पशु और बलात्कार पर आधारित नहीं होना चाहिए।

º कहानी में कोई फोन नंबर, घर, दफ्तर, व्यापार स्थल, स्कूल, कालेज का पता नहीं होना चाहिए। आप कहानी में सिर्फ अपना इमेल आईडी लिख सकते हैं।

º किसी धर्म, राजनीतिक दल या इसके सदस्यों के खिलाफ कोई बात नहीं होनी चाहिए।

º कहानी में कोई यौन आमंत्रण नहीं होना चाहिए।

º अंग्रेजी भाषा के शब्दों का प्रयोग कम से कम होना चाहिए।

º पैराग्राफ का आकार यथा संभव छोटा होना चाहिए।

º विराम चिह्नों का प्रयोग आवश्यकतानुसार होना चाहिए।

º कहानी अपने आप में पूर्ण होनी चाहिए, अधूरी कहानी स्वीकार्य नहीं होगी।

º अपनी कहानी भेजते समय कृपया कहानी को अच्छा सा शीर्षक दें।

जी नहीं… आप अंग्रेजी भाषा में कहनी नहीं भेज सकते.
जैसे I am a boy.
लेकिन आप देसी या हिंगलिश में कहानी भेज सकते हैं.
जैसे Mai ek ladka hun.

कहानी क्रमानुसार ही प्रकाशित की जाती है.

लेकिन
महिला रचनाकारों,
नियमित व
उत्कृष्ट लेखकों की रचनाएँ
वरीयता के आधार पर प्रकाशित की जाती हैं.

अभी कहानी प्रकाशन में एक साल से अधिक का समय लग रहा है.

इसके कई कारण हो सकते हैं

    1. अभी आपकी कहानी का नम्बर ना आया हो.

 

    1. आपकी कहानी नियमानुसार ना हो जैसे इसमें पशु सेक्स, कम उम्र का सेक्स या बलात्कार आदि का वर्णन हो.

 

    1. आपकी कहानी बहुत छोटी होने के कारण रद्द कर दी गई हो.

 

    1. आपने अन्तर्वासना से ही कोई पुरानी कहानी या किसी अन्य साईट से कहानी लेकर भेजी हो.

 

    1. आपने पी डी ऍफ़ या किसी अन्य फॉर्मेट में कहानी भेजी हो जो अन्तर्वासना पर अमान्य हो. अन्तर्वासना पर सीधी मेल में टाइप की गई कहानी, नोटपैड या एम एस वर्ड पर टाइप करके मेल में अटैच करके भेजी गई कहानी ही मान्य है.