यौन-साथियों की अदला-बदली

Couple Swap Party कपल स्वैप पार्टी

प्रेषक : राकेश कुमार

कपल स्वैप पार्टी यानि अपनी पत्नियों को दूसरे की पत्नियों से अदला बदली करके जीवन का लुत्फ़ उठाना। यहाँ यह बात साफ़ कर देना भी उचित है कि भारत में ये सब जबरन करना गैरकानूनी है, और इस तरह की पार्टियों में पत्नियों या अपने पार्टनर की सहमति होना जरूरी है।

इस तरह की पार्टी हम लोग हर महीने आयोजित करते हैं। हमने आखिरी कपल पार्टी अपने शहर में 28 दिसंबर से 31 दिसम्बर तक आयोजित की थी।

उसमें 19 युगल थे और सारे विवाहित थे। अब मैं वहाँ के माहौल के बारे में बताने जा रहा हूँ कि वहाँ क्या-क्या हुआ था।

19 जोड़े इकट्ठे हुए थे 28 दिसंबर को ! सुबह 11 बजे जोड़े वहाँ पर आ गए और सभी की मुलाकातों का सिलसिला शुरू हो गया।

इनमें से 11 कपल यानि जोड़े तो मेरे चिरपरिचित थे पर 8 युगल नए थे जिनको स्वैप यानि इस अदलाबदली का कोई अनुभव नहीं था, पर वो जिंदगी में कम से कम एक बार स्वैप करना चाहते थे।

अब हम सब लोग हमारे रिसॉर्ट के अंदर गए जहाँ पहले से खाने-पीने का इंतज़ाम था और सभी लोग ड्रिंक करने लगे।

ड्रिंक करते-करते हँसी मजाक और एक दूसरों को छेड़ने का, अपनी ओर खींचने का सिलसिला शुरू हो गया।

अब सभी लोग थोड़े मूड में थे और अपने-अपने पार्टनर के साथ बैठे थे और कुछ नया करने की सोच रहे थे। जो कपल नए थे वो थोड़ा घबराहट महसूस कर रहे थे और उनको घुलने-मिलने में परेशानी हो रही थी।

अब हमने म्यूजिकल बॉल गेम के लिए सभी को कॉमन हॉल में बुलाया।

गेम का रूल था कि म्यूजिक बंद होने पर बॉल जिसके हाथ में होगा वो अपना एक-एक कपड़ा उतारेगा।

म्यूजिकल बॉल में 17 कपल शामिल हुए। 2 कपल अभी तक नर्वस थे।

अब म्यूजिकल बॉल गेम शुरू हुआ और सब से पहले अनिल की बीवी सुनीता को अपना टॉप उतारना पड़ा।

दूसरा नम्बर रमेश का था, रमेश ने अपनी शर्ट उतार दी। अब तो जैसे माहौल गरम होने लगा था।

सभी लोग बड़े मज़े से गेम में शामिल हो रहे थे। सबसे पहले प्रवीण के पूरे कपड़े उतरे और वो आउट हो गया। अब उसकी सजा थी कि सभी फीमेल उसके चूतड़ों पर चपत लगाएंगी। सभी ने वैसा ही किया और अब उसको बीच में खड़ा कर दिया गया।

दूसरा नम्बर आया राज का। राज को सजा मिली कि सभी महिलाओं की चूत चाटने का, पर उसके लिए अभी टाइम था।

तीसरा नम्बर रोहित की बीवी कविता का आया। कविता को सारे मर्दों को चुम्मी लेने की सजा मिली।

अब खेल 2 मर्द राज और प्रवीण और 1 औरत कविता बीच में बचा था। राज और प्रवीण कविता को सहलाने लगे।

राज को जो सजा मिली थी कि सभी औरतों की चूत चाटना है, वो कविता की चूत चाटने लगा। यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं।

कुछ ही देर में कविता को कंट्रोल नहीं हो रहा था, कविता ने प्रवीण के साथ चुदाई करना चालू कर दी।

कविता को इस हाल में देख कर कविता का पति रोहित बीच में गेम छोड़ कर राज की बीवी नीलम को चूमने लगा और उसको ले कर बीच में आ गया।

रोहित की हरकत देख कर सारे कपल बीच में आ गए। अब सिर्फ नए कपल थोड़ी झिझक महसूस कर रहे थे।

हमारे पुराने कपल अब मस्त होकर स्वैपिंग में लग गए। नए कपल में से सुशीला और करण अब अपने-अपने पार्टनर के साथ ही चुदाई करने लगे।

उनकी देखा-देखी 2 नए कपल दूसरे रूम में चले गए। दरवाजा बंद करना अलाउड नहीं था, सो वे अब अंदर बाकी सभी कपल की तरह अपनी-अपनी बीवी एक्सचेंज करके चुदाई करने लगे।

मोहित और अर्शिया अब भी साइड में बैठे थे। सो कुमार ने जाकर अर्शिया को किस किया। उसको थोड़ा बुरा थोड़ा अच्छा लगा।

मोहित उठकर खड़ा हुआ और अपने कपड़े उतारकर सभी के बीच में जाकर बाकी फीमेल के साथ चूमा चाटी कर रहा था। प्रवीण की बीवी खाली थी, तो अब वो उसको अपनाने के लिए चला गया।

अर्शिया अब थोड़ा खुलने लगी थी और मोहित को देख कर उसको भी किसी दूसरे मर्द के साथ कुछ इच्छा हो रही थी। करण उसके बाजू में ही बैठा था सो वो उसको कुछ बोल नहीं पाई पर उसकी तरफ देखने लगी।

करण को समझ में आ गया कि वो क्या चाहती है। करण उसको धीरे-धीरे सहलाने की कोशिश करने लगा और उसे चूमने लगा, उसके कपड़े उतारने लगा पर वो विरोध कर रही थी। उसने उसके कपड़े उतार दिए और उसको सोफे पर लिटा के चूमने लगा।

अब तक मोहित खाली हो चुका था और वो अर्शिया के पास बैठ गया। अर्शिया को आग लगी थी पर मोहित ने उसका साथ नहीं दिया और उसको चूत चाटने लगा। करण अर्शिया को लगातार चूमे जा रहा था।

उधर रिया के साथ तीन मर्द अपना काम कर रहे थे। मोहित ने करण को अर्शिया के साथ सेक्स करने के लिए कहा।

अब तो अर्शिया मोहित के तरफ हैरान होकर देख रही थी। मोहित ने सिर्फ सॉफ्ट-स्वैप के बारे में बताया था।

वो ही अब करण को सेक्स करने के लिए बोल रहा था। वो कुछ कहती तब तक करण ने अर्शिया की चूत में उसका 6 इंच का लौड़ा घुसा दिया। 5 मिनट के बाद अर्शिया करण को साथ देने लगी थी।

मोहित उठा और अर्शिया के मुँह में लण्ड डाल दिया, जोकि अर्शिया ने कभी नहीं किया था।

ये देख कर सारे मेल वहाँ जमा हो गए और उनको देखने लगे पर अर्शिया और मोहित की मर्ज़ी के बगैर कोई कुछ नहीं कर सकता था।

सो सब अपने स्वैप पार्टनर के साथ अपना कार्य करने लगे।

अर्शिया करण के हर झटके का जवाब दे रही थी और मज़ा ले रही थी।

अर्शिया ने उस पार्टी में 4 दिनों में 6 मर्दों के साथ स्वैप किया। सबसे अधिक 56 साल के जतिन मेहता जी के साथ किया।

रिया ने 9 मर्दों के साथ और अंजलि ने 7 के साथ चुदाई की।

इस तरह की स्वैपिंग आजकल बड़े शहरों में आम हो गई है। आप मुझे ईमेल कर सकते हैं।

इस कहानी को पीडीएफ PDF फ़ाइल में डाउनलोड कीजिए! यौन-साथियों की अदला-बदली

प्रातिक्रिया दे