जवान लड़की की बुर चुदाई की कहानियाँ

जवान लड़की को प्रेम प्यार के चक्कर में फांस कर सेक्स का मजा लेने या अपनी अन्तर्वासना शांत करने के लिए चूत चुदवाने वाली कहानियाँ हिंदी में

jwan Ladki Ko Prem Pyar ke chakkar me fans kar sex ka maja lene ya apni antarvasna shant karne ke liye bur chudvane vali kahaniyan

Indian Sex stories of teen girls and Boys

पड़ोस वाली दीदी की चुदाई स्टोरी-2

हम दोनों उठकर बाथरूम में गए तो उसने मुझे बाहर जाने के लिए कहा, पर मैंने मना कर दिया कि डार्लिंग मैं तुमको पेशाब करते हुए देखूँगा. पहले वो मना करती रही, लेकिन वो फिर मान गई और मेरे सामने बैठ कर पेशाब करने लगी.

पड़ोस वाली दीदी की चुदाई स्टोरी-1

दीदी, आप हैं ही इतनी खूबसूरत कि आपको नंगी देखा तो मैं आँखें ही नहीं फेर सका और मैं आपको देखता ही रहा. वैसे मैं बड़ा शरीफ़ लड़का हूँ और अब तक मैंने सिर्फ आपको नंगी देखा है.

घने कोहरे में चूत मरवाई

मैंने उसकी बाँह पकड़ कर उसे प्लॉट के पिछले हिस्से में खींच लिया और उसकी ज़िप में से लंड निकाल लिया, पैरों के बल बैठ मुँह में डाल लिया और पागलों की तरह चूसने लगी।

दिल पर जोर नहीं-1

मेरी इच्छा तो अपनी हवस पूरी करने की थी, बस जिस्म की जरूरत को पूरा करना चाहती थी। मैं उसे हर तरह से उत्तेजित करती रहती थी कि वो मौका मिलते ही मेरी छातियाँ दबाये और मेरे दूसरे अंगों को मसल दे।

मुझे तुम्हारी जरूरत है

मैंने उसे चूमना शुरू किया और अपना हाथ उसके मम्मों पर ले गया। उसने मना किया, फिर भी मैंने धीरे धीरे उसके निप्पलों को चूसना शुरू किया। वो गरम होने लगी और बोली- कुछ करो !

संगीत शिक्षक से चुदवाया-1

प्रीति गिल दोस्तों मेरा यानि की प्रीति गिल का अन्तर्वासना के सभी पाठकों को प्रणाम ! मैं भी अन्तर्वासना की बहुत बड़ी प्रशंसिका हूँ, हर रोज़ लोग-इन करते ही सबसे पहले अन्तर्वासना की साईट खोल के नई कहानियों को मजा ले ले कर पढ़ने के बाद मुझे ऊँगली भी करनी पड़ती है। मैं एक बहुत […]

बुढ़ापे का रंगीन जवान साथी

मेरा नाम अमन गुप्ता है। मैं अब अकेला हूँ। मेरी उम्र अभी ५९ वर्ष की है। मेरे दो लड़के हैं जो कनाडा में रहते हैं और वहीं नौकरी करते हैं। मेरी पत्नी का निधन, जब वो ४८ वर्ष की थी, एक दुर्घटना में हो गया था। तब से मैं अकेला हूँ और अपना छोटा सा […]

गैर मर्दों की बाहों में मिलता है सुख-1

मुझे चूत मरवाने का ऐसा चस्का लगा कि अब एक मर्द से बंध कर मजा नहीं मिलता। जो हर मर्द की बाहों में झूलकर मिलता है!

किराये का घर-2

'यह लिपस्टिक का निशान है! अच्छा! समझ गई! अभी अभी मम्मी ऊपर आई थी, तभी उन्होंने यह किया होगा! मम्मी भी ना बस! सुबह मन नहीं भरा उनका?' सोनल बोली.

ट्रेन में अजनबी लड़की की मस्त चुदाई

लड़की अपने बर्थ से उठ कर मेरे बर्थ पे आ गई। दिसम्बर माह होने के कारण सरदी अपने पूरे शवाब पर थी तो मैंने उसे अपना कम्बल ओढ़ने को कहा। लड़की मेरे साथ कम्बल में मेरे से सट के बैठ गई। उसके जवान शरीर की खुशबू मेरे जहन में अजीब सी हलचल पैदा कर रही थी।

दो बहनों की एक साथ चूत चुदाई-2

By अमित कुमार On 2005-03-12 Tags:

शम्मी सो चुकी थी। श्याम के सात बज चुके थे। मेरे दोस्त के आने का भी समय हो चुका था। मैंने अपने दोस्त को फ़ोन करके सब बता दिया था। वो ठीक सात बजे आ गया। शम्मी नंगी ही सो रही थी। मेरे दोस्त राहुल ने आकर उसे निहारा और उसे उठा दिया। हमने उसे […]

मेरी क्लासमेट कोमल, बारिश और मैं

मेरी कक्षा की एक सेक्सी लड़की कोमल के पीछे सभी लड़के पड़े थे.. वो मेरे घर के पास रहती थी तो मेरी उससे दोस्ती हो गई. हम साथ साथ पढ़ने जाते थे. एक दिन रास्ते में बारिश आ गई.

अंकल की प्यास

By नेहा वर्मा On 2005-02-12 Tags:

लेखिका : नेहा वर्मा मेरे घर वाले जब इन्दौर में जब सेटल हुए तो मुझे पापा ने होस्टल में डाल दिया। होस्टल में रह कर मैंने बीएससी की पढ़ाई पूरी की थी। मेरे होस्टल के पास ही पापा के एक दोस्त रहते थे, पापा ने उन्हें मेरा गार्जियन बना दिया था। वो अंकल करीब ५७-५८ […]

गर्लफ्रेंड की उसी के घर में चुदाई

वो दर्द से कराहती हुई बोली- यह तुमने क्या किया? बहुत दर्द हो रहा है! इसे अभी निकाल लो मेरी जान निकल जायेगी। लगता है तुमने मेरी फाड़ दी है परवेश ओह... हा...! मुझे नहीं पता कि वो अभी तक किसी से चुदी थी या नहीं... लेकिन उसे दर्द तो बहुत हुआ था.

कॉलेज से जंगल में मेरी चूत चुदाई

एक रात की बात है, मैं लगभग 11 बजे बाथरूम जाने के लिए उठी। बाथरूम मम्मी के कमरे को पार करने के बाद पड़ता है। जब मैं उस कमरे के सामने से गुज़री तो मुझे मम्मी के कराहने और ज़ोर ज़ोर से सांसें लेने जैसी आवाज़ें सुनाई पड़ी।

मेरी गर्ल-फ़्रेन्ड सिमरन

मैंने जैसे ही अपने होंठ उसके होंठ से लगाये वो छटपटा उठी! उस वक्त कमरे में हमारे अलावा कोई नहीं था! वो पूरी जान लगा कर अपने आपको छुड़ाने की कोशिश करने लगी!

पड़ोस की युवती पूजा की चुदाई

मेरे घर के सामने ही एक लड़की रहती थी जिसका नाम था पूजा। उसकी बड़ी बड़ी चुचियों को देखकर अक्सर मेरा लण्ड पैन्ट में अकड़ने लगते था और मैं सोचता था कि कब चोदूंगा इसकी चूत?

टेनिस टूरनामेन्ट

नमस्कार मेरे प्यारे पाठको ! मैं एक बार फ़िर से हाज़िर हूं अपनी कहानी का अगला भाग लेकर। आपने मेरी पिछली कहानियाँ टीचर्स डे और ऐन्नुअल डे तो पढ़ी होंगी। आप वरुण और मुझ से तो वाकिफ़ ही होंगे। यह कहानी ठीक वहीं से शुरू है जहां ‘ऐन्नुअल डे’ खत्म हुई थी। सभी कहानियों में […]

ऐन्नुअल डे – वार्षिकोत्सव

कृति भाटिया मैं अपने पाठकों से देरी के लिए माफ़ी चाहती हूँ ! और शुक्रिया अदा करना चाहती हूँ अन्तर्वासना की पूरी टीम का कि उन्होंने मेरी कहानी अधूरी होने के बावजूद प्रकाशित की। मैं अपनी पिछली कहानी टीचर्स डे में एक जगह ऐसी छोड़ी थी जहाँ पे में चाहती थी कि मेरे पाठक मुझसे […]

Scroll To Top