रानी से रंडी बनने का सफर-1

बिजनेस में हानि होने से हम लोग सड़क पर आ गए. मेरे पति को इतना धक्का लगा कि वो मुझे हाथ भी नहीं लगाते थे. एक तरफ मेरी अन्तर्वासना और दूसरी तरफ पैसे की तंगी…

मेरे गांडू जीवन की कहानी-21

एक शाम को हम पार्क में बैठे थे, अंधेरा होने वाला था, हमने मौका देख किसिंग शुरु कर दी। मैं इसके होठों को चूस रहा था और ये मेरे… बहुत मजा आ रहा था। फिर इसने खुद ही मेरी पैंट में तने लंड पर हाथ रख दिया और उसको अपने हाथ से ऊपर ही ऊपर सहलाने लगी।

पति के बॉस से चुदवा कर प्रोमोशन दिलवाई

मेरे पति का लंड छोटा था तो उन्होंने मुझे देवर को पटा कर उसके बड़े लंड से चुदवाने को कहा. फिर एक दिन मेरे पति के बॉस ने उनकी प्रोमोशन की ऐवज में मेरी चूत मांग ली. तो मैंने क्या किया?

चुनाव पर्यवेक्षक लेडी की चुदाई

हमारे गाँव में चुनाव के लिए मतदान केंद्र बना। सरपंच ने मेरी ड्यूटी आने वाले स्टाफ की सेवा में लगा दी. स्टाफ आया तो उनकी मुखिया एक लेडी थी, मुझे वो भा गई. मैं उस लेडी को कैसे चोद पाया, पढ़ें मेरी सेक्स कहानी में!

मैं एक हसीना की कामुकता संतुष्टि का साधन बना

मुझे समझ आया कि मैंने अनामिका को नहीं पटाया बल्कि अनामिका ने अपनी कामुकता की संतुष्टि के लिए मुझे साधन बनाया है. चलो मुझे क्या… खरबूजा चाकू पर गिरे या चाकू खरबूजे पर… कटेगा तो खरबूजा ही…

जयपुर की रूपा की अन्तर्वासना-1

यह स्टोरी जयपुर की एक देसी भाभी की है. भीड़ भारी बस में जाते हुए एक युवक उसके पीछे खड़ा था, बस में लग रहे धक्कों से युवक लंड भाभी की गांड में घुसा जा रहा था. इंडियन सेक्स स्टोरी पढ़ कर मजा लें!

नवविवाहिता की कामुकता को अपने लंड से शांत किया-1

अपने ऑफिस की एक लड़की को पटाने की बहुत कोशिश की मैंने लेकिन वो अपने काम से काम रखती थी. तभी उसकी शादी हुई और एक महीने के बाद वो ऑफिस आई तो वो मुझे खुश नहीं लगी. मेरी हिंदी सेक्स स्टोरी पढ़ें कि आगे क्या हुआ!

ट्रेन की सीट से चूत चुदाई की कहानी

लोकल ट्रेन में मुझे एक भाभी मिली, मैंने उसे बैठने के लिए अपने साथ सीट ऑफर की. उस भाभी ने कैसे मेरा फोन नम्बर लिया, मुझे अपने घर बुलाया और अपनी कामुकता भरी चुत को शांत किया, पढ़ें अनजान भाभी की इस चुदाई की कहानी में!

रितु दीदी की कामुकता और चुदाई

मैंने कहा- आज मैं पहली बार किसी लड़की को नंगी देख रहा हूँ और आपकी झांटें आप पर बहुत ही अच्छी लग रही हैं. इससे आपकी खूबसूरती और भी बढ़ गई.

टीचर पर दिल आ गया

मेरा दिल अपनी कोचिंग टीचर पर आ गया, मैं क्लास में उसे देखता रहता, उससे बात करने का बहाना ढूँढता रहता. एक दिन मैंने उस टीचर की चुदाई कर ही दी. कैसे की? कहानी पढ़ें और मजा लें!

सेल गर्ल को पैसे देकर चोदा

मैं घर में अकेला था, दरवाजे की घंटी बजी, देखा तो एक सेल गर्ल थी, वो शादीशुदा थी. मैंने मना भी किया लेकिन वो सामान दिखाने लगी. लेकिन मैं तो उसके मम्मे देख रहा था. हिन्दी सेक्स स्टोरी पढ़ कर देखें कि मैंने कैसे उसे फुद्दी चुदाई के लिए कहा और वो कैसे मानी!

फेसबुक पर चुदासी आंटी की चुत चोदने मिली

फेसबुक पर मुझे एक लड़की ने रिक्वेस्ट भेजी, बात की तो पता चला कि वो आंटी है 38 साल की… उसने खुद बताया कि उसका अफेयर बहुत लड़कों के साथ रहा है. मेरी ट्रू सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि उस आंटी ने मुझसे कैसे अपनी चूत चुदवाई.

आधी रात को दिल्ली की सड़क पर मिली मस्त आंटी की चुदाई

ऑफिस में लेट होने के कारण मैं सड़क पर खड़ा सवारी की प्रतीक्षा कर रहा था कि एक कार मेरे पास रुकी. उसने लिफ्ट देने के बहाने गाड़ी में बिठा लिया. गाड़ी एक लेडी ड्राइव कर रही थी. वो मुझे अपने घर ले गई और… आंटी की चुदाई कैसे हुई?

सहकर्मी भाभी ने दोस्ती करके चूत चुदाई-2

एक पड़ोसन भाभी जो मेरे ही ऑफिस में काम करती थी. मुझसे दोस्ती करके वो मुझसे चुद गई. इस सेक्स कहानी में हम धीमी चुदाई करके सेक्स की बातें कर रहे हैं.

मकान मालकिन आंटी ने चूत चुदाई सिखाई

मेरी मकान मालकिन आंटी की नजर मेरी पैन्ट में लंड पे ही रहती थी. मेरी ट्रू सेक्स कहानी में पढ़ें कि आंटी ने मुझे चूत चोदना कैसे सिखाया.

25 साल का कुँवारा लड़का: चूत नहीं मिली

एक 25 साल के कुँवारे लड़के को अपना कौमार्यभंग करवाने का रास्ता चाहिए। मैं कैसे किसी औरत या लड़की को एक कुँवारे लड़के का(मेरा) कौमार्य भंग करने के लिए मनाऊँ?

होली के बाद की रंगोली-2

भाई-बहन और पत्नी ने घर में खुलेआम चुदाई का माहौल बना लिया था, पत्नी भी अपने भाई से चुदने का जुगाड़ कर रही है. हिन्दी सेक्स स्टोरी का मजा लें!

कामुकता भरी नारी के जिस्म का भोग

साड़ी में उसकी नंगी कमर को देख कर मेरे मन में खलबली मच जाती थी, उसके कामुकता भरे जिस्म को भोगने की लालसा बढ़ती जा रही थी. मेरी इंडियन सेक्स स्टोरी का मजा लें!

माँ की अन्तर्वासना ने अनाथ बेटे को सनाथ बनाया-3

तरुण अपने होंठों पर लगे योनि-रस पर जीभ फेरता हुआ उठा और मुझे सीधा लिटा कर मेरी टांगें को चौड़ी कर के उनके बीच में बैठ गया. मैं इसके लिए तैयार थी.

माँ की अन्तर्वासना ने अनाथ बेटे को सनाथ बनाया-2

जब तौलिया बाँध कर जांघिये को उतारता या पहनता तब मुझे उसका वह सुन्दर एवं आकर्षक नग्न लिंग दिख जाता तब मेरा मन उसे पाने के लिए विचलित हो उठता.