ग्रुप सेक्स स्टोरी

दो से अधिक स्त्री पुरुषों लड़के लड़कियों के एक साथ मिल कर एक स्थान पर ग्रुप में चुदाई या सेक्स का मजा लेने की कहानियाँ

Do se jyada ladke ladkiyon ke ek sath mil kar chut chudai ki kahaniyan

Sex Stories about Group Sex among many girls and boys or couples

रात भर गैर मर्द से चुदीं

लेखिका : राधिका शर्मा इससे पहले आप लोगों ने मेरी दो कहानियाँ पढ़ी हैं। सहेली का बदला और होली के नशे में। अब एक और सच्ची घटना पढ़िए। हम दो दोस्त हैं। रोज़मर्रा की जिंदगी से तंग आकर हमने नैनीताल घूमने का कार्यक्रम बनाया। हमारी बीवियाँ भी साथ चल रही थीं। नैनीताल में होटल बहुत […]

जलता है बदन

By रोनी सलूजा On 2014-05-03 Tags:

रोनी सलूजामेरी कहानी ‘कामदेव के तीर’  को पाठको की जो सराहनाप्राप्त हुई उसके लिए तमाम पाठक पाठिकाओं को तहे दिल सेधन्यवाद  !मध्यप्रदेश एवं कई जगहों से अनगिनत  पुरुष  मित्रों  के मेल आये हैं जो चाहते हैं कि यदि हमारे एरिया से किसी भी उम्र की कोई लड़की  या महिला जो  आपको मेल करे जो किसी […]

खुल्लमखुल्ला चुदाई-2

By इमरान On 2014-05-01 Tags:

लेखक : इमरान दो बजे के करीब मनोज आए और अम्मी को बताने लगे- मैंने हनी से सारी बात कर ली है, वो थोड़ी देर में आ रही है। मेरी अम्मी हसीना बेगम ने मेरे सामने ही मनोज का हाथ पकड़ कर अपनी तरफ़ खींचा, उसके होंठों को चूम कर बोली- हाँ यार, मेरी बात […]

इन्तजार एक का था, पर दो मिलीं

By रवि देसी बॉय On 2014-04-30 Tags:

प्रेषक : रवि अन्तर्वासना के पाठकों को प्रणाम। सभी पढ़ने वालों और वाली भाभियों और कुंवारी चूतों को मेरे खड़े लंड का सलाम। मेरा नाम रवि है। मैं 21 साल का जवान लड़का हूँ। मैं अन्तर्वासना का 2007 से नियमित पाठक हूँ। मैं आपको हमारे बिस्तर की हलचल को पूरी दुनिया के सामने सुनाने का […]

ट्रेन में धकाधक छुकपुक-छुकपुक-4

प्रेषक : जूजा जी तभी शब्बो बोली- राजा इसकी सील तोड़नी पड़ेगी .. साली की चूत अभी तक पैक है ..! मेरा लण्ड गनगना गया, जीवन में पहली सील तोड़ने का अवसर था। मैंने नीलू को अपनी तरफ घुमाया और उसके होंठों को अपने होंठों से दबा कर चूसने लगा। मैंने उसको ध्यान से देखा […]

निदा की अन्तर्वासना-4

इस पोज़ीशन में उसके दोनों छेद मेरे ठीक सामने हो गए। बुर में नितिन का लण्ड ठुँसा हुआ था और गाण्ड मुझे बुला रही थी। मैंने छेद में अपना लण्ड उतार दिया। निदा के अगले छेद में नितिन का मोटा और भारी लण्ड होने के कारण उसके पिछले छेद में जगह कम बची थी जिससे मेरे लण्ड पर भी वैसे ही कसाव महसूस हो रहा था जैसे पहले होता था।

ट्रेन में धकाधक छुकपुक-छुकपुक-3

प्रेषक : जूजा जी मुझे अभी भी याद था कि दो छेद मेरे लंड का बड़ी बेकरारी से इंतजार कर रहे हैं। मैंने सीमा की तरफ देखा तो मैडम अपनी चूत में ऊँगली अन्दर-बाहर कर रही थीं। मैंने कहा- आओ रानी लेटो इधर.. तुम्हारा चुदाई का ख्वाव भी पूरा कर देता हूँ। वो बोली, “पहले […]

निदा की अन्तर्वासना-3

हम तीनों ही मादरजात नग्न थे और मेरे इशारे पर नितिन भी ऐसा सट गया था कि हम तीनों ही एक-दूसरे से रगड़ रहे थे। नितिन ने उसका चेहरा थाम कर उसे चूमने की कोशिश की, लेकिन निदा ने शर्म से चेहरा घुमा लिया और वो पीछे से उसकी गर्दन पीठ पर चुम्बन अंकित करने लगा।

मैं नन्ही जान और पापा के शराबी दोस्त

By सपना चौधरी On 2014-04-28 Tags:

लेखिका : सपना चौधरी अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार। अन्तर्वासना पर यह मेरी पहली कहानी है। मुझे मेरी सहेली ने बताया कि अन्तर्वासना पर सब लोग अपनी आपबीती भेजते हैं। दो माह पूर्व मेरे साथ भी कुछ ऐसा हुआ तो मुझे लगा कि मुझे भी अपनी कहानी अन्तर्वासना पर प्रकाशित करवानी चाहिए और […]

ट्रेन में धकाधक छुकपुक-छुकपुक-2

प्रेषक : जूजा जी सीमा ने बडे़ ही मादक अन्दाज से सिगरेट का एक कश खींचा और मुझसे बोली- तुम्हारा डण्डा तो बहुत मजेदार है। मैं सोचने लगा कि अभी तूने देखा ही कहाँ है मेरा डण्डा? वो शायद समझ गई, बोली- क्या सोच रहे हो डियर, डण्डे की बात सुन कर? तभी नीलू जो […]

निदा की अन्तर्वासना-2

मैंने न सिर्फ अपने हाथों को उसकी पीठ पर रखे हुए निदा की ब्रा के हुक खोल दिए बल्कि हाथ नीचे करके उसकी कुर्ती को एकदम से ऐसा ऊपर उठाया के उसकी भरी-भरी चूचियां नितिन की आँखों के आगे एकदम से अनावृत हो गईं और वह दोनों हाथों से उन पर जैसे टूट पड़ा।

मेरी चूत और गांड दोनों प्यासी हैं-8

मैं बेचारी अबला नारी दो मर्दों के बीच में सैंडविच बन कर रह गई थी और सिवाय मजे करने और देने के मैं और कर भी क्या सकती थी? और वैसे भी चुदाई का मजा किसे पसन्द नहीं भला।

शराबी की जवान बीवी और बेटी

By चक्रेश यादव On 2014-04-21 Tags:

यह कहानी मेरे एक दोस्त की है जो मैं आपसे शेयर कर रहा हूँ। इस कहानी का एक भाग शराबी की जवान बीवी आप पहले ही पढ़ चुके हैं, आगे की कहानी मेरे दोस्त की जुबानी… धर्मकाँटे वाले अंकल की बीवी की जिस दिन से चुदाई मैंने शुरु की उस दिन से आँटी काफी खुश रहने […]

दो यादगार चूतें-2

लेखक : रवि लोरिया बोली- जीजू पिशाब नहीं पिलाओगे क्या हमें आज? उसके ये शब्द सुनते ही मुझे यकीन नहीं हो रहा था कि वो दोनों इस हद तक भी जा सकती हैं, जो मैंने आज तक सोचा भी नहीं था, जो भी हो, मैंने अंदाजा लगा लिया था कि ये दोनों रांडें बहुत बड़ी […]

दो यादगार चूतें-1

मैंने करीना को बैड पे लिटा दिया और उसका टॉप उतारने लगा, उसका टॉप उतारने में लोरिया ने भी मेरी मदद की, करीना के शरीर पर ब्रा और पैंटी रह गई थी.

ससुर जी के दोस्तों ने मुझे पेला-1

By सुनीता On 2014-04-10 Tags: चुदास

प्रेषिका : सुनीता प्रणाम पाठको, मैं एक कंप्यूटर टीचर हूँ। मेरी उम्र पच्चीस साल की है, मैं एक प्राइवेट स्कूल में नौकरी करती हूँ। मेरे पति फौजी हैं, उनकी पोस्टिंग आजकल द्रास में है इसलिए उनको जल्दी छुट्टी नहीं मिलती। मेरे ससुर जी भी सेवा-मुक्त फौजी हैं। वे सूबेदार थे, जब पेंशन आ गए थे। […]

लड़ाई का बदला मौज़ भरी चुदाई

जब माँ चुदवायेगी तो बेटी को और मजा आयेगा, तुम फ़िक्र नहीं करो, हम लोग अनुभवी चोदू हैं, तुम्हें हमारे लंड जरूर पसंद आयेंगे। फिर तुम लोग हमसे हमेशा चुदवाती रहोगी।

बदले की आग-8

कुसुम रोते हुए बोली- मुन्नी मेरी अच्छी सहेली है। कल बेचारी ने पति से छुप कर हज़ार के दो नोट दिए थे, बोली थी ‘अपने घर भेज देना, तेरे मम्मी पापा मुश्किल में हैं।’ आप उसे कुछ मत बताना। कुसुम बोली- मैं पच्चीस हजार उसके डिब्बे में वापस रख दूँगी, कम से कम मुन्नी को […]

बदले की आग-4

मैं घर चार बजे पहुँच गया, भाभी को जब मैंने यह सब बताया तो उनकी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा, उन्होंने मुझे बाहों में भर लिया और मेरी तीन चार पप्पी ले लीं। उसके बाद हम लोगों ने आपस में योजना बनाई कि भाभी की बेइज्ज़ती का बदला कैसे लेना है। मैंने भाभी से पूछा- […]

मेरी चूत और गांड दोनों प्यासी हैं-7

बहुत देर तक मेरी गांड चाट कर जब सोनू का मन भर गया तो उसने अपना लंड घुसाने में जरा भी देर नहीं की और मेरी गांड में अपना लंड घुसा कर मेरी गांड मारने में लग गया, मैं भी रणवीर के लंड चूसने लगी।

Scroll To Top