गे सेक्स स्टोरी

गे सेक्स स्टोरी, दो मर्दों के बीच गांड मारने-मराने वाले समलिंगी, गाण्डू, लौण्डेबाजी गे सेक्स की कहानियाँ हिंदी में
Do mardon ke beech Gand Marne Maraane Ki Gay sex kahaniyaan Hindi mein
Gay sex Stories in hindi based on Sex between two males anal sex

नई जगह, नये दोस्त-1

मैं गांड का शौकीन यानी गे हूँ, मेरी पहली पोस्टिंग दूर दराज के एक गांवनुमा कस्बे में हुई थी, वहां मेरे साथ हुई गांडू सेक्स की घटनाएँ मैं अपनी इस कहानी में आप पाठकों के लिए प्रस्तुत कर रहा हूँ.

मेरा पहला समलैंगिक सैक्स

मुझे गे सेक्स बारे में कुछ पता नहीं था लेकिन मुझे बुड्ढे लोगों को देखना, उनको नहाते हुए देखना या चड्डी बदलते देखना बहुत अच्छा लगता था. मुम्बई में ट्रेन में एक आदमी ने मेरा लंड पकड़ लिया तो...

जवानी का ‘ज़हरीला’ जोश-8

उसके जाने के गम का घाव अभी भरा भी नहीं था कि एक और सदमे ने मुझे हिलाकर रख दिया। अब मुझे भी दिन रात ये चिंता खाए जा रही थी कि कहीं मुझे भी तो...

जवानी का ‘ज़हरीला’ जोश-7

हम दोनों साथ बैठकर मूवी देखने लगे। मूवी काफी हॉट थी, हीरो की नंगी चेस्ट देखकर मेरे अंदर वासना जागने लगी... मैंने उसके शार्ट्स की तरफ देखा तो उसका लंड तना हुआ था, और फिर..

जवानी का ‘ज़हरीला’ जोश-6

मैंने गगन से अपने रिलेशन से जुड़ी छोटी से छोटी बात भी नहीं छिपाई क्योंकि मैं उसको लेकर बहुत पज़ेसिव था। अब वो कई बार जब दूसरे लड़कों की बातें करता तो मुझे जलन होने लगती थी, मुझे लगता था कि वो सिर्फ मेरा है।

जवानी का ‘ज़हरीला’ जोश-5

मेरे ऑफिस की नेहा मेरे साथ सेक्स करना चाहती थी लेकिन मैं खुद को इसके लिए तैयार नहीं कर पाया मेरे अंदर वो फीलिंग नहीं आई। लेकिन इसमें नेहा की कोई गलती नहीं क्योंकि उसे नहीं पता था कि मैं लड़कियों में रुचि नहीं रखता हूं।

जवानी का ‘ज़हरीला’ जोश-4

पुराना ऑफिस छोड़ने के बाद नए ऑफिस में मेरी दोस्त बनी नेहा ने मुझे बीयर पिला दी। नशे में उसने अपनी ब्रा और पैंटी भी उतार दी और मेरे ऊपर आकर चढ़ गई, उसने मेरी उंगलियां अपनी चूत में डलवा लीं.

जवानी का ‘ज़हरीला’ जोश-3

भूषण देखने में तो हैंडसम था ही आज मैं उसका लंड भी देख चुका था। अब उसके लिए प्यार वाली फीलिंग आनी शुरू हो गई थी। जबकि वो प्यार नहीं था इस बात का अंदाज़ा अब मुझे आसानी से हो जाता है।

जवानी का ‘ज़हरीला’ जोश-2

वो सेक्सी मर्द टांगें चौड़ी करके पेशाब कर रहा था, उसका एक हाथ पीछे कमर था और दूसरा नीचे लंड की तरफ। मैं उसके बगल वाले पॉट पर जाकर मूतने की एक्टिंग करते हुए उसके लंड को देखने की कोशिश करने लगा।

जवानी का ‘ज़हरीला’ जोश-1

रोज़ कईयों के लंड को सहलाकर आता था। कोई हाथ हटवा लेता तो किसी का खड़ा हो जाता। वो भी मज़े ले लेता। मेरी गांड को दबाने लगता, कंधों को सहलाते हुए मेरी निप्पल्स को टटोलने की कोशिश करता, मुझे भी अच्छा लगता था।

चूत चीज़ क्या है… मेरी गांड लीजिए-3

अभी तक मेरी कहानी के पिछले भाग चूत चीज़ क्या है… मेरी गांड लीजिए-2 आपने पढ़ा कि मेरी बीवी कविता के साथ मेरा तलाक होने वाला था लेकिन वो उससे पहले ही किसी और के साथ भाग गई। पड़ोस में बात फैल गई और जब बात फैल ही गई तो हर तरह की बात होने […]

डांस में गांड हिलाई फैन्स से मरवाई-2

मेरी गांड की कहानी डांस में गांड हिलाई फैन्स से मरवाई-1 से आगे: उन भाई साहब का नाम रमेश था, वे गांव के समृद्ध किसान परिवार से थे. शाम को वे शादी में मिले बोले- अच्छा रूके हो, मिलना। मैंने कहा- भाई साहब! आपका घोड़े माफिक हथियार एक बार में ही गांड का भुर्ता बन […]

डांस में गांड हिलाई फैन्स से मरवाई-1

अगर लौंडा माशूक है, चिकना है तो उसके दोस्त उसे गांड मरवाने में चालू कर ही देते हैं। किस किस से गांड बचाएगा बेचारा... पहले गले में हाथ डालते हैं फिर गले मिलते हैं फिर चुम्मा लेते हैं, गाल काटते हैं, फिर ओंठ चूसते हैं फिर गांड पर हाथ फेरते हैं और गांड मार कर ही दम लेते हैं।

मुख चोदन कहानी: दूध वाला राजकुमार-5

लन्ड की नसें बहुत ज़्यादा कड़क हो चुकी थी, वैसे भी लन्ड काफी मोटा था और लम्बा भी अच्छा था. हालांकि अभी तक मैंने पूरे लन्ड के दर्शन नहीं किये थे और 1 घण्टा बीत चुका था, ऊपर से उनकी हालत...

गे कहानी: दूध वाला राजकुमार-4

वो बोले- क्या कर रहा है तू... मां चोद दी यार भेजे की तूने... मत हाथ लगा भाई लन्ड को... ये मादरचोद को अभी चूत चाहने लगेगा... बहुत टाइम हो गया वैसे भी चूत चोदे हुए... एक तो बीवी ने खड़ा कर दिया और बचा हुआ तूने...

गे सेक्स कहानी: दूध वाला राजकुमार-3

मैं लालची अब सर्वेश के बड़े भाई रत्नेश राजपूत के कसरती जिस्म और मज़बूत लन्ड का प्यासा हो गया था और इसी उधेड़बुन में लगा था कि कैसे मेरी प्यास बुझ सके।

गे सेक्स स्टोरी: दूध वाला राजकुमार-2

सेक्सी राजकुमार सर्वेश के राजपुताना लन्ड का कामरस मैं पी चुका था और उसके भाई रत्नेश राजपूत का नाम सुनते ही मेरे मन में किसी महाराजा की छवि आयी और किसी प्राचीन महाराजा के लन्ड का स्वाद चखने की तीव्र इच्छा मेरे मन में जाग गयी.

सरकारी अस्पताल में मिला देसी लंड-2

मैं सरकारी अस्पताल में किसी देसी लंड की तलाश में था, एक लंड मुझे पसंद भी आया था लेकिन उसने मुझे पहले तो दुत्कार दिया था लेकिन फिर वो मेरे पास आया.

सरकारी अस्पताल में मिला देसी लंड-1

एक दिन किसी काम से सरकारी अस्पताल के पास की एक दुकान पर किसी काम से गया तो वहाँ पर खड़े 3 नये नवेले लड़कों को देखकर दिल में मानो कामुकता की आग सी लग गयी, मुझे किसी कड़क लंड की जरूरत थी.

हैंडसम पंजाबी मुंडे का सेक्सी लंड-3

एक रज़ाई में हम दोनों घुसे और थोड़ी देर बातें करने के बाद दोनों सो गये! दरअसल मैं सोया नहीं था सिर्फ़ उसके सोने का इंतज़ार कर रहा था क्योंकि मेरे अंदर हवस और वासना की वजह से फिर से लंड को लेने की प्यास जाग चुकी थी!

Scroll To Top