देवर भाभी चुदाई कहानियाँ

देवर भाभी के बीच शरारत, यौन सम्बन्ध, भाभी की चुदाई कहानियाँ
bhabhi sex story, bhabhi ki chudai ki kahani
Incest Hindi sex stories of Devar Bhabhi, Dewar Bhabhi chudai kahaniyan

भाभी संग मेरी अन्तर्वासना-7 HOT!

मैं एक हाथ से भाभी के भरे हुए मखमली नितम्बों व जाँघों सहलाने लगा। मेरा साथ मिलते ही भाभी ने मुझे जोर से भींच लिया और जोरों से मेरे होंठों को चूमने-चाटने लगीं.

भाभी संग मेरी अन्तर्वासना-6 HOT!

भाभी लेटे-लेटे ही अपने पेटीकोट से मेरी जाँघों व लिंग को पोंछने लगीं। इससे भाभी का पेटीकोट भी ऊपर को हो गया और उनकी नंगी योनि मेरे कूल्हों को छूने लगी।

भाभी संग मेरी अन्तर्वासना-5

जैसे ही मैंने भाभी की नंगी योनि को छुआ.. उनके मुख से हल्की सीत्कार फूट पड़ी और स्वतः उनकी दोनों जाँघें एक-दूसरे से चिपक गईं... मगर फिर जल्दी ही वो खुल भी गईं।

भाभी संग मेरी अन्तर्वासना-4

भाभी और मेरे बीच दोपहर में जो हुआ था, मैं उसे ही सोच कर अपने आप उत्तेजित हो रहा था, जल्दी से रात होने का इन्तजार कर रहा था। रात हुई तो भाभी ने क्या किया?

रसीली भाभी नंगी मेरे सामने आ गई

भाभी बोली- चल थोड़ा बूबू पी ले, मेरी चूत कई दिन की प्यासी है अपने लंड से इसकी प्यास बुझा। तू मेरी पेंटी सूंघ रहा था तो मैं समझ गई थी तेरी नजर मेरी चूत पर है।

भाभी की मदमस्त जवानी और मेरी ठरक-3

भाभी मेरे साथ खुल गई थी, अब बस मौके की तलाश थी जो जल्दी ही मिल गया। हम दोनों अकेले थे घर में, मैं भाभी के कमरे में सोने गया, भाभी भी थोड़ी देर में आ गई।

भाभी की मदमस्त जवानी और मेरी ठरक-2

भाई की शादी हो गई, भाभी घर आ गईं, भाभी और मैं बहुत मज़ाक करते थे, भाभी की अदाओं के चलते उनके चूचे भी कई बार दिख जाते थे। भाभी की जवानी का मजा लें!

गांव वाली भाभी को पटा ही लिया

गांव से चचेरे भाई भाभी हमारे साथ रहने आए। भाभी क्या माल थी, मेरे मन में तो सिर्फ भाभी आ रही थीं। मैंने भाभी को कैसे पटाया बेशर्म होकर… कहानी में पढ़ें।

मैं ख्यालों में भाभी को नंगी करता था-2

भाभी मुझसे चुदने के लिए बेकरार थीं, मेरा लंड तो न जाने कबसे उनकी मचलती जवानी को भोगने के लिए तड़फ रहा था। भाभी आधी रात के बाद मेरे कमरे में आईं। मजा लीजिए।

मैं ख्यालों में भाभी को नंगी करता था-1

पापा के दोस्त की पुत्रवधू बला की खूबसूरत एकदम कामदेवी सी लगती हैं। वो मुझे सगा देवर मानती थी और मैं भाभी की चूत चोदने के सपने देखता था। मेरा सपना कैसे पूरा हुआ?

चचेरी भाभी ने चूत दिखा कर मुझसे चुदवाया-4

चचेरी भाभी की चूत को पहली बार चोदने में मैं जल्दी झड़ गया, अब दूसरी चुदाई में मैंने लंड भाभी की चूत पर रखा और अन्दर घुसेड़ दिया। अचानक हमले से उनकी चीख निकल गई..

चचेरी भाभी ने चूत दिखा कर मुझसे चुदवाया-3

भाभी ने अपनी टांगें ऊँची करके अपनी खूबसूरत टांगें मेरी कमर से जकड़ ली थीं, भाभी की नर्म और सफेद दूध जैसी मस्त जांघें मेरे चूतड़ों को दबा रही थीं। भाभी की चुदाई का मजा लें।

चचेरी भाभी ने चूत दिखा कर मुझसे चुदवाया-2

मैं भाभी की गुलाबी मस्त पेंटी जो कि उनकी चूत में घुसी हुई थी.. उसे देख कर दंग रह गया। उनकी पेंटी ऊपर से थोड़ी भीगी हुई थी.. शायद उनकी चूत का मूत लगा हुआ था।

चचेरी भाभी ने चूत दिखा कर मुझसे चुदवाया-1

पढ़ाई के लिये मुझे चचेरे भाई के घर रहना पड़ा। एक दिन मेरा फोन टॉयलेट के आगे गिर गया। मैं फ़ोन लेने के लिए नीचे झुका तो मुझे खजाना दिख गया, वो थी मेरी भाभी की चूत।

भाभी की चूत ना मिली तो मैं मर जाऊँगा

मैं पिछले 5 साल से मुठ मार रहा हूँ भाभी के सेक्सी बदन को याद कर कर के! मैं भाभी के बिना नहीं जी सकता, अगर मुझे भाभी ना मिली तो मैं मर जाऊँगा, मुझे बचा लो!

सोई हुई को जेठ ने चोदा

एक बार मैं, मेरे पति और जेठ जी का परिवार किसी पहाड़ी यात्रा पर गए थे। रात को एक हाल में जमीन पर बिस्तर लगा कर सब साथ साथ सोए थे। कहानी में पढ़ें कि उस रात क्या हो गया।

शौहर के भाई ने सुहागरात में मेरी चूत चोद डाली

मुझे चूत चुदाने की बहुत चुल्ल थी शादी से पहले, पर डर लगता था। सुहागरात को मैं चूत चुदवाने को उतावली थी, मेरे शौहर आए और मेरी चूत चोद कर चले गए। उनके बाद मेरा देवर आया…

भाभी की चूत चुदाई की चाहत और मेरी हवस

अगर भाई में दम ना हो तो भाभी अपनी अन्तर्वासना, अपनी चूत की आग के लिए सबसे पहले किसकी ओर देखेगी? देवर ही तो! मैं तो अपनी भाभी का पहले से ही दीवाना था। कहानी पढ़ें।

नंगी नहाती भाभी को देखा तो… मस्‍त चुदाई

उस दिन मैं और भाभी घर पर अकेले थे, उन्‍होंने मुझसे कहा- देवर जी, मैं नहाने जा रही हूँ! तो मैंने सोचा कि क्‍यों ना आज भाभी को नंगी नहाती हुई देखा जाए… कहानी का मज़ा लें।

लागी लंड की लगन, मैं चुदी सभी के संग-42

चूत चुदाई की लम्बी कहानी के इस भाग में मेरे देवर ने मेरी मालिश की, झांटें साफ़ की, मुझे चोदा। फ़िर मैं ससुर के साथ कोलकाता की ट्रेन में बैठी तो मुझे ऑफ़िस में चुदाई याद आ गई।

सबसे ऊपर जाएँ