बहन के साथ प्रेमलीला-3

Bahan Ke Sath Prem-leela-3
अब मेरा मन भी साजन भाई के साथ सेक्स करने का होने लगा और बस यही सोच कर मैं भाई के और नजदीक आ गई।

अब भाई को देखने का मेरा नजरिया ही बदल चुका था।

साजन भाई मेरे शरीर की गर्मी पाकर मुझसे और चिपक गए थे और अब उनका एक हाथ मेरे पेट पर था।

मेरी साँसें कुछ तेज हो गई थी मैं फिर से वो फ़िल्म देखने लगी।

वो लड़का अपनी बहन की चूची की निप्पल सहला रहा था और वो लड़की अपनी आँखे बंद किये हुए अपनी चूची मसलवाने का मज़ा ले रही थी।

फिर कुछ देर बाद उसके भाई ने जैसे ही उसकी दूसरी चूची को पकड़ना चाहा कि तभी उसकी बड़ी बहन हिलने लगी तो उसके भाई ने अपनी बहन के ऊपर से अपना हाथ हटा लिया और आँखे बंद करके चुपचाप लेट गया।

फिर कुछ देर बाद फिर से अपनी बहन की चूची से खेलने लगा फिर उसने अपना पजामा घुटनों से नीचे कर दिया अब लड़का नीचे से पूरा नंगा था।

उस लड़की ने अपने चूतड़ अपने भाई की तरफ और भी ज्यादा कर दिए और उसका भाई उसके दोनों टांगों के बीच में अपनी बहन की चूत पर पेंटी के ऊपर अपना लंड रगड़ने लगा।
उसकी बहन ने अभी भी पेंटी पहनी हुई थी और उसका भाई उसकी पेंटी के ऊपर से अपना लंड रगड़ते हुए अपनी बहन के मम्मों से खेल रहा था।

फिर उसने अपनी बहन को उल्टा लेटने का इशारा की तो वो थोड़ा सा उल्टा होकर लेट गई अब उस लड़की के चूतड़ ऊपर की तरफ थे।

इधर मेरा भी बहुत बुरा हाल हो चुका था, मैं बहुत अधिक उतेजित हो चुकी थी।

मैं साजन भाई से और भी ज्यादा चिपक गई और फिर मैंने अपनी सलवार का नाड़ा खोला और अपनी चड्डी को नीचे करके अपनी चूत को सहलाते हुए फ़िल्म देखने लगी।

फिर उस लड़के ने अपना लंड अपने हाथ में लिया और उसको हिलाने लगा, अपना लंड हिलाते हिलाते अपनी बहन की गांड पर मारने लगा।

फिर कुछ देर बाद उसने अपनी बहन की चड्डी को अपने हाथ से पकड़ा और थोड़ा ऊपर किया और उसमें अपना लंड डाल दिया।

अब उस लड़के का लंड उसकी बहन के ऊपर इस तरह था कि चड्डी और लंड से प्लस का निशान बन रहा था।

फिर वो अपना लंड अपनी बहन की गोरी गोरी गांड पर आगे पीछे करने लगा।

कुछ देर बाद उसने अपना लंड अपनी बहन की चड्डी से निकला और उसकी गांड पर अपना लंड रख कर अपने हाथों से हिलाने लगा कि तभी उसकी मॉम हिली तो उनको लगा कि शायद करवट बदल कर सो जाएगी पर उनका ऐसा सोचना गलत था।

उसकी मॉम जाग गई थी पर उसकी मॉम का मुंह दूसरी तरफ था तो वो उनको नहीं देख पाई।

उसकी मॉम उठी तो उस लड़के ने जल्दी से अपने और अपनी बहन के नंगे जिस्म के ऊपर चादर डाल ली।

उनकी मॉम उठकर दूसरे कमरे में चली गई।

कुछ देर तक वो ऐसे ही लेटे रहे, जब उनको पूरा विश्वास हो गया कि मॉम अब नहीं आएगी, शायद वो उनके पापा के पास सोने चली गई थी।

उस लड़के ने अपनी बहन का पजामा और उसकी चड्डी निकल दी।

फिर उसने अपना भी पजामा भी पूरी तरफ से निकल दिया।

अब वो भाई बहन नीचे से पूरे नंगे थे।

फिर वो लड़का अपनी बहन के पैरों की तरफ अपना सर कर के लेट गया। अब उस लड़के का सर उसकी बहन की चूत के पास था और उसकी बहन के होंठो के सामने उसके भाई का लंड।

उस लड़के ने अपनी बहन के एक पैर को थोड़ा ऊपर उठाया और अपनी बहन की चूत से मुंह लगा दिया, चूत को चाटने लगा।

दूसरी तरफ उसकी बहन ने अपने भाई का लंड अपने हाथ में पकड़ा और अपने मुंह में घुसा कर चूसने लगी।

हाय… ये क्या कर रहे हैं…

मैं अपने मन ही मन में बोली क्योंकि ये सब मेरे लिए बिलकुल नया था जो मैं देख रही थी।

मुझे नहीं पता था कि लंड और चूत को चूसा भी जाता है।

मेरी चूत में खुजली सी होने लगी।
मैंने अपने साजन भाई को देखा तो वो सो रहे थे।

मुझसे अब बैठा नहीं जा रहा था, इसलिए मैं भी भाई के साथ लेट गई।

फिर मैंने अपना एक पैर मोड़ा जो की भाई के साथ लगा हुआ था और अपना घुटना भाई के लंड पर बहुत ही धीरे से रख दिया।

हाय रे… मुझे कितना मज़ा आया जब मेरा घुटना भाई के लंड से टच हुआ तो… ऐसा एहसास मुझे आज तक नहीं हुआ था।

मुझे ये सब करते हुए मज़ा भी बहुत आ रहा था, डर भी लग रहा था कि कहीं साजन भाई जाग न जाये।
यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !

इधर उस वीडियो में वो दोनों एक दूसरे के लंड और चूत चूसे जा रहे थे कि तभी उनकी बड़ी बहन जाग गई और जैसे ही उसने आँख खोली तो देखा उसके भाई बहन एक दूसरे का लंड और चूत चूस रहे हैं।

उनकी बड़ी बहन उन दोनों को बहुत ध्यान से देख रही थी कि कैसे उसकी छोटी बहन अपने भाई का पूरा लंड अपने मुंह के अन्दर लेकर चूस रही थी।

उन दोनों को इस तरह देखकर वो भी गर्म हो गई और अपने पजामे के ऊपर से अपनी चूत को मसलने लगी और उनको देखती रही। फिर वो अपने पजामे के अन्दर हाथ डाल कर अपनी चूत को सहलाने लगी और अपने एक हाथ से अपनी टी–शर्ट ऊपर कर के अपने बूब्स को मसलने लगी।
उसने नीचे ब्रा नहीं पहनी थी।

दूसरी तरफ उसकी छोटी बहन भाई का लंड पकड़ कर जोर से हिलाते हुए लंड चूस रही थी और उसका भाई छोटी बहन की चूत में अपनी जीभ डाल डालकर कस कर चूस रहा था।

उसकी गांड की थिरकन से पता चलता था कि उसको बहुत मज़ा आ रहा है।

कुछ ही देर बाद बड़ी बहन को लगा जैसे उसके बहन और भाई दोनों ही झड़ने वाले हैं तो उसने अपने कपड़े सही किये और मुंह घुमा कर लेट गई।

वो दोनों भाई बहन एक दूसरे के लंड और चूत को बहुत तेजी से चूस हुए दोनों ही एक दूसरे के मुंह में अपना अपना पानी छोड़ दिया। फिर लड़की ने अपने भाई का लंड अपने मुंह से निकला और अपने हाथ की हथेली को अपने मुंह के पास लाकर अपने मुंह से अपने भाई का वीर्य निकालने लगी।

जब उसकी हथेली पर उसके भाई का वीर्य पूरा निकल गया तो फिर उसे अपनी जीभ से चाट चाट कर उसको खाने लगी और कुछ ही देर में उससे अपने भाई का पूरा वीर्य अपनी हथेली से साफ़ कर दिया।

इसके बाद मुझसे और आगे नहीं देखा गया मेरा मन बुरी तरह विचलित हो रहा था।
कहानी जारी रहेगी।

 

Leave a Reply