प्यासी पंजाबन देसी भाभी की चुदाई देवर से: ऑडियो सेक्स स्टोरी

(Pyasi Punjaban Desi Bhabhi Ki Chudai Devar Se: Audio Sex Story)

दोस्तो, कैसे हैं आप!
मैं तो बहुत अच्छी हूँ… मुझे उम्मीद है कि आप सभी भी मस्त हैं.
मेरा नाम निशा है, मैं पंजाब से एक देसी भाभी हूँ, मेरी लव मैरिज हुई है. मेरी उम्र 28 साल है.
लेकिन मेरी परेशानी है कि मैं अपने पति से संतुष्ट नहीं हो पाती. असल में मेरे पति ने नशे में उलझ कर खुद को खराब कर लिया है और उनका लंड भी छोटा है. मेरी 34-30-34 फीगर को अच्छे से संभाल नहीं पाते, मैं सेक्स के लिए तड़पती रहती हूँ.
मैं एक अच्छे परिवार से हूँ तो अपने मजे के लिए सेक्स के लिए कहीं बाहर भी कोशिश नहीं कर सकती.
पर एक दिन पता है क्या हुआ?
अम्म्ह… आँ… जाने अनजाने में मेरे देवर ने… अह… क्या हुआ? मेरी कहानी सुनो तो ही पता चलेगा.

गरमी की छुट्टियां हुई थी… मेरा देवर जिसका नाम पीयूष है, हमारे घर रहने के लिए आया. घर में मेरे पति, मेरा बेटा और मैं ही थे. उसके आने के कुछ देर बाद मेरे पति खेतों में चले गए. उन्हें देर तक वहीं रहना था क्योंकि खेतों में काम चल रहा था.
रात को खाना खाकर मैंने अपने देवर पीयूष के लिए अंदर वाले कमरे में कूलर के सामने उसका पलंग लगाया. मैंने अपने बेटे के साथ अपने डबल बेड पर सोना था.
पर मेरा बेटा जाकर पलंग पर लेट गया, बोला- मैंने कूलर के आगे सोऊंगा, बीएड पर मुझे गरमी लगती है, डबल बेड पर आप चाचू के साथ सो जाओ.
मुझे उसकी यह बात सुन कर बहुत शर्म आई और मैंने अपने बेटे को डांटा कि तुम मेरे साथ बेड पर ही सोना.

इतने में पीयूष अपने कपड़े बदल कर आया. उसने मेरे पति का नाईट सूट पहना हुआ था, मैं उसे देखने लगी तो मेरी नजर उसके पजामे में उसके उभरे हुए लंड पर पड़ी, वो काफी बड़ा लग रहा था. मेरी नजर जैसे वहीं अटक गई.

मेरा बेटा अपने चाचू से बोला- चाचू… आप बेड पर सो जाओगे ना?
पीयूष बोला- हाँ!
मैंने अपनी नजर अपने देवर के पजामे से हटाई और रसोई में चली गई.
आगे की कहानी आप खुद ही सुन कर मजा लीजिए कि कैसे हुई देसी भाभी की चुदाई उसके देवर से…

अन्तर्वासना ऑडियो सेक्स स्टोरीज सुनने के लिए सबसे अच्छा ब्राउज़र क्रोम Chrome है. यहाँ से download करें!

इस कहानी को पीडीएफ PDF फ़ाइल में डाउनलोड कीजिए! प्यासी पंजाबन देसी भाभी की चुदाई देवर से: ऑडियो सेक्स स्टोरी