विवेक ओबेराय

rss feed

चाची ने जाना मामी की चुदाई का राज़

चाची के पास बिस्तर में लेटने के लिए जैसे ही मैंने उनके ऊपर ओढ़ी हुई चादर उठाई तो देखा कि चाची बिस्तर में पूरी नंगी ही लेटी हुई थी.

चाची की चुदाई फटाफट वाली

मामी की चुदाई का मजा लेकर मैं वापस अपने घर लौटा तो हालात कुछ ऐसे बने कि चाची हमारे घर आई और मुझे चाची की चुदाई का मजा भी मिला.

इलेक्ट्रिक शेवर ने मामी को दिलाया सेक्स का मज़ा-5

मैं मामी के ऊपर चढ़ गया और लिंग को उनकी योनि में घुसा दिया। मामी ऊँचे स्वर में सिसकारियाँ लेने लगी और मेरे हर धक्के पर चूतड़ उठा कर मेरे लिंग को योनि की गहराई तक ले जाने लगी।

इलेक्ट्रिक शेवर ने मामी को दिलाया सेक्स का मज़ा-4

उत्तेजित मामी की उत्तेजना और बढ़ गई तब उन्होंने मेरे होंठों से अपने होंठ हटाये और मेरा सिर पकड़ कर नीचे किया और मेरे मुँह में अपनी चूचुक डाल कर चूसने को कहा।

इलेक्ट्रिक शेवर ने मामी को दिलाया सेक्स का मज़ा-3

मामी मेरे शेवर से अपनी लम्बी झांटें साफ़ करने लगी तो बाल उसमें फ़ंस गए और मामी को दर्द होने लगा और चीख कर मुझे बुलाया। मैं गया तो मामी पूरी नंगी खड़ी थी।

इलेक्ट्रिक शेवर ने मामी को दिलाया सेक्स का मज़ा-2

मेरा इलेक्ट्रिक शेवर देख मामी ने अपनी बाजू के रोयें साफ़ करने के लिये पूछा तो मैंने उनकी बाजू के बाल साफ़ कर दिए और बगलों के बाल साफ़ करवाने को कहा। कहानी का मज़ा लें।

इलेक्ट्रिक शेवर ने मामी को दिलाया सेक्स का मज़ा-1

शायद मेरे यौन जीवन में चाची, बुआ, मामी जैसे रिश्तों में चूत चुदाई ही लिखी है। पहले बुआ, फ़िर बड़ी चाची, छोटी चाची के बाद अब मामी भी मेरे अन्तर्वासना पूर्ति का साधन बनी।

चाची की सम्पूर्ण यौन आनन्द कामना पूर्ति-3

चाची की नाइटी को उनके तन से अलग करते हुए उन्हें पूर्ण नग्न किया और उनके उरोजों को चूसने लगा। चाची ने आत्मविभोर हो कर बाएँ बाजू से मुझे अपने आलिंगन में जकड़ लिया

चाची की सम्पूर्ण यौन आनन्द कामना पूर्ति-2

चाची की योनि बहुत ही गोरी और पाव-रोटी की तरह फूली हुई थी तथा किसी जवान नवयुवती की योनि जैसी दिख रही थी। थोड़ा सा खोलने पर मुझे चाची का मटर के दाने जितना मोटा, लाल रंग का भगांकुर दिखाई दिया।

चाची की सम्पूर्ण यौन आनन्द कामना पूर्ति-1

चाची की बातें सुन कर मैंने हर्ष-उल्हास में उन्हें अपने बाहूपाश में जकड़ कर उनके मुख में चूम चूम कर गीला कर दिया। तभी मैंने चाची की योनि में थोड़ा सा ढीलापन महसूस किया तो अपने लिंग को उसकी पकड़ से अलग कर के बाहर निकाल लिया और करवट ले कर उनके बगल में लेट […]

चाची द्वारा संसर्ग की मनोकामना पूर्ति-2

चाची मुझसे अलग होते हुए उठी और मुझे नीचे लिटा कर मेरे ऊपर चढ़ गई। फिर उन्होंने थोड़ा ऊँचा हो कर अपनी योनि के मुख को मेरे लिंग की सीध में किया और उस पर बैठ गई।

चाची द्वारा संसर्ग की मनोकामना पूर्ति-1

मैंने तुरंत अपने कपड़े उतारे तथा उनकी बार और पैंटी उतारने में उनकी मदद करी तथा दोनों के नग्न होते ही मैं उनके ऊपर लेट गया। फिर मैंने उनके होंठों पर अपने होंठ रख दिए.

पजामा ख़राब होने से बच गया-2

लेखक : विवेक सम्पादन : तृष्णा ऐसा मनमोहक दृश्य को देख कर आनन्द के मारे में मेरा लिंग बार बार सिर उठा कर उनकी योनि को सलामी देने लगा था, मेरे मन में उस डबल रोटी की तरह सुन्दर सी दिखने वाली योनि को देख कर उसे छूने की लालसा जाग उठी थी। अपनी लालसा […]

पजामा ख़राब होने से बच गया-1

लेखक : विवेक सम्पादन : तृष्णा प्रिय अन्तर्वासना के पाठकों कृपया मेरा अभिनन्दन स्वीकार करें! मेरी पिछली रचना ‘बुआ का कृत्रिम लिंग’ और ‘बुआ को मिला असली लिंग’ को पढ़ने और उसे पसंद करने तथा उन पर अपनी प्रतिक्रिया अथवा टिप्पणी भेजने के लिए बहुत धन्यवाद! कई पाठकों ने उस रचना के लिए मेरी प्रशंसा […]

बुआ को मिला असली लिंग

मेरा लिंग बुआ के मुँह में फड़फड़ाने लगा! तब बुआ ने लिंग को चूसते हुए मेरे अंडकोष को मसला जिससे मेरा बाँध टूट गया और मेरे लिंग में से रस की तेज धारा छूटने लगी।

बुआ का कृत्रिम लिंग-2

लेखक : विवेक सहयोगी : तृष्णा बुआ का कृत्रिम लिंग-1 बृहस्पतिवार शाम को जब मम्मी और पापा घर आये तो उन्होंने बताया कि उनकी कंपनी की ओर से एक समूह अगले तीन दिनों के लिए मनाली की यात्रा पर जा रहा है और उस यात्रा में घर का हर सदस्य उनके साथ जा सकता है। […]

बुआ का कृत्रिम लिंग-1

मेरी बुआ का तलाक हो चुका है, वे हमारे साथ ही रह रही हैं. एक दिन बुआ बिस्तर पर नग्न लेटी हुई दोनों टांगें चौड़ी कर योनि में एक डिल्डो अंदर बाहर कर रही थी !

Scroll To Top