राहुल कूल

rss feed

वो बरसात की हसीन शाम-2

वो बोली- जीजू, जो भी करना है आहिस्ता और प्यार से करो ... और तुम तीन लोग करोगे तो मेरा क्या होगा ... सोचो ना प्लीज. मुझे जरा भी दर्द मत देना जैसे मेरा पति मुझे देता है.

वो बरसात की हसीन शाम-1

कुछ महीने पहले दो दोस्तों से मिलकर मैंने हमारे मोहल्ले की एक शादीशुदा लड़की के साथ खूब मस्ती की थी. पहले वो तैयार नहीं हुई, मगर हमने जैसे तैसे उसे राजी किया और मजे लिए.

Scroll To Top