टॉम हूक

rss feed

भीगी सफ़ेद साड़ी

मुझे अपने पति को seduce करना यानि संभोग के लिए आकर्षित करना बहुत अच्छा लगता है इसीलिए मैं अक्सर कुछ ऐसी चीजें करती हूँ कि वो बस मुझे देखकर इतना ज्यादा उत्तेजित हो जाएँ कि उनका सिर्फ मुझे छूते ही खड़ा हो जाए। वैसे मेरे पति का लंड 7" का है और काफी मोटा है

किसी ने देख लिया तो?

टॉम हुक यह मेरा हाल ही का अनुभव है। आशा करता हूँ कि आपको यह कहानी भी पसंद आयेगी। मेरी पुरानी कहानियों के लिए पहले आप सब के जो मेल मुझे मिले उसके लिए आप सबका बहुत बहुत शुक्रिया। बहुत सी सहेलियों, महिलाओं, भाभियों के साथ बातें हुई हैं और एक दूसरे के अनुभव आपस […]

चुद गई नौकरानी मुझसे

On 2013-04-21 Category: नौकर-नौकरानी Tags:

दोस्तो, लड़की को उत्तेजित करके चोदने में बड़ा मज़ा आता है। बस उसे गर्म करने का तरीका ठीक होना चाहिये। मैंने अपनी घर की नौकरानी को ऐसे ही कामोत्तेजित करके खूब चोदा। अब सुनाता हूँ उसकी दास्तान। जयपुर से वापस आने के बाद मैंने अपने मकान मालिक से बोला- कोई अच्छी नौकरानी हो तो बताइयेगा। […]

जरूरत

On 2010-10-13 Category: पड़ोसी Tags:

दोस्तो, मैं फिर से हाज़िर हूँ अपनी एक और आपबीती लेकर। ये सब मेरे साथ करीब 4 महीने पहले हुआ था जो मैं आप सभी के साथ साझा करना चाहता हूँ। यह घटना तब शुरू हुई जब मैं अपनी नौकरी बदलने के प्रयास में लगा हुआ था। मैं दिल्ली में था और एक किराए पर […]

वो बुरके वाली

On 2010-09-21 Category: चुदाई की कहानी Tags:

प्रेषक : टॉम हुक नमस्कार दोस्तो, सबसे पहले आप सबका धन्यवाद करता हूँ कि आप सभी को मेरी पिछली कहानियाँ काफी पसंद आई और आपके सुझावों और सराहना के लिये शुक्रिया। मेरी पिछली कहानी को पढ़ने के बाद मुझे दोस्ती के काफ़ी ऑफर आये। एक छोटी सी प्रार्थना है कि कृपया मुझसे मेरी महिला मित्रों […]

थोड़ा सा रूमानी

On 2009-08-09 Category: चुदाई की कहानी Tags:

नमस्कार दोस्तों, सबसे पहले तो मैं आप सबका धन्यवाद करता हूँ कि आप सभी को मेरी पिछली कहानी मैं और मेरी प्यारी शिष्या काफी पसंद आई। साथ ही आपसे क्षमा चाहता हूँ कि मेरी अगली कहानी में इतना विलम्ब हुआ। दरअसल बीच में ज़िन्दगी कुछ ज्यादा ही व्यस्त हो गई थी, पहले तो यू एस […]

मैं और मेरी प्यारी शिष्या-2

अन्तर्वासना के सभी दोस्तों का ढेर सारा प्यार मिला उनके ई-मेल के ज़रिये ! काफी अच्छा लगा इतने सारे ईमेल देख कर .. जैसा कि मैंने आपको पहली कहानी मैं और मेरी प्यारी शिष्या” में बताया था कि कैसे तनवी का और मेरा पहला प्यारा तन्हाई वाला मिलन हुआ और घर वाले अभी और दो […]

मैं और मेरी प्यारी शिष्या -1

ऊपर से सहलाने के बाद मैंने उसकी चड्डी उतार दी तो देखा उसकी चूत पर बहुत ही हल्के हल्के बाल थे और गुलाबी सी चूत की दो फाकों को देख कर लग रहा था कि किसी ने अभी तक इन्हें छुआ भी नहीं होगा !

Scroll To Top