हवस बदसूरत लड़की की

यह कहानी है मेरे अंदर भरी हवस की … मैं 29 साल की हो गई थी. पर मैं बिल्कुल कुंवारी थी क्योंकि मैं बदसूरत थी. मेरा भी मन करता था कि कोई मेरे बड़े बड़े मम्मों को दबाए, मेरे होंठ चूमे, मुझे जी भर के चोदे.