रोनी सलूजा

Indian Sex Story on Hindi Sex at www.antarvasnasexstories.com
Read my Indian Sex Stories

rss feed

बहकते ज़ज्बात दहकता जिस्म-3

Bahakte Zajbaat Dahakta Jism-3 फिर अलमारी खोलकर उसमें से पेंटी ब्रा और मेक्सी निकाल ली और फिर आईने में अपने को निहारते हुए अपने बदन की ज्यादा से ज्यादा झलक उसे दिखने की कोशिश करने लगी। निश्चित ही मेरी बेदाग दूधिया जांघें और गोलमटोल उभरी हुई चिकनी गांड देखकर उसके होश उड़ गए होंगे। फिर […]

बहकते ज़ज्बात दहकता जिस्म-2

Bahakte Zajbaat Dahakta Jism-2 रोनी को तो जैसे तन की भाषा समझने की फुर्सत ही नहीं थी ! वो मुझे जलता छोड़कर अपनी साईट पर चला गया। यहाँ ऑफ़िस में पर नेट पर मेरी एक सहेली से बात होती रहती है, उसको मैंने अपने दिल की बात बताई तो उसने भी कुछ टिप्स और आईडिया […]

बहकते ज़ज्बात दहकता जिस्म-1

रोनी सलूजा अपनी ऑफिस की सहायिका लीना की कहानी आपके समक्ष लेकर उपस्थित है। मेरी कहानियाँ पढ़ने वाले सभी लीना को जानते हैं, नये पाठकों को ‘कामदेवियों की चूत चुदाई’ इस कहानी में लीना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी आपको मिल जाएगी ! एक दिन लीना ने मेरे को अपने साथ हुई जो घटना बताई […]

अधूरी तमन्ना

रोनी सलूजा का आप सभी अन्तर्वासना परिवार को नमस्कार। आपके समक्ष हाल ही की ताजा सच्ची घटना कहानी के रूप में पेश कर रहा हूँ ! मेरे बारे में मेरी पुरानी कहानियों में पढ़ने के बाद आप सभी जानते हैं तो सीधा मुद्दे पर आता हूँ। मेरी शादी के बाद मेरी बीवी यानि मेरी जानू […]

अंधी चाहत-2

रोनी सलूजा मैंने अपने ऊपर संयम रखते हुए उसे फिर कुर्सी पर बिठा दिया और बात को बदल कर माहौल को खुशनुमा बनाने में लग गया। कुछ देर बाद दीप्ति मेरी बातों से आश्वस्त होकर चली गई और मैं अपनी एकतरफा चाहत में किसी नतीजे पर नहीं पहुँच पाया था। मैंने भी इंतजार करना मुनासिब […]

अंधी चाहत-1

रोनी सलूजा रोनी सलूजा का आप सभी पाठकों को प्यार भरा नमस्कार ! आप सभी के मेल प्राप्त होते रहते हैं, क्षमा चाहूँगा कि सभी का जवाब नहीं दे पाता हूँ। कुछ पाठक पाठिकाओं का कहना है कि वे फेसबुक पर मेरे से निरंतर संपर्क में रहते हैं तो आप सभी को सूचित करना चाहता […]

जलता है बदन

रोनी सलूजामेरी कहानी ‘कामदेव के तीर’  को पाठको की जो सराहनाप्राप्त हुई उसके लिए तमाम पाठक पाठिकाओं को तहे दिल सेधन्यवाद  !मध्यप्रदेश एवं कई जगहों से अनगिनत  पुरुष  मित्रों  के मेल आये हैं जो चाहते हैं कि यदि हमारे एरिया से किसी भी उम्र की कोई लड़की  या महिला जो  आपको मेल करे जो किसी […]

कामदेव के तीर-5

On 2014-03-25 Category: कोई मिल गया Tags:

मैं पलंग से उठा ही था तभी रजिया मेरे लिए चाय लेकर आ गई और मेज पर रख दी। मैंने पीछे से रजिया को दबोच लिया ‘ओ..माँ… थोड़ा सबर करो! फरहा दीदी को शबा के स्कूल के लिए निकल जाने दो, फिर मुलाकात कर लेना!’ कहकर वो चली गई! मैंने चाय पी और फ्रेश होने […]

कामदेव के तीर-4

On 2014-03-25 Category: कोई मिल गया Tags:

घर में किसी के आने का कोई अंदेशा नहीं था, बड़ी निश्चिन्तता से सारा काम चल रहा था। मुझे नींद ने आ घेरा, कब सो गया पता ही नहीं चला! अचानक ही मुझे अपने लंड पर कुछ अहसास हुआ, जब मेरी नींद खुली तो देखा कि फरहा मेरे लंड को सहला रही है और बार […]

कामदेव के तीर-3

On 2014-03-25 Category: कोई मिल गया Tags:

मैंने कहा- डार्लिंग, अब तो कल तक के लिए यही हूँ, थोड़ी थकावट मिट जाये, फ़िर रात में जरूर उस तरीके से तुम्हें चोदूँगा। फिर मैंने रजिया का जिक्र छेड़ दिया, वो मेरे मंतव्य को बखूबी समझ चुकी थी, बोली- अच्छा जी जनाब रजिया के शवाब का लुत्फ़ लेना चाह रहे हैं? मैं– यदि आप […]

कामदेव के तीर-2

On 2014-03-25 Category: कोई मिल गया Tags:

रजिया के जाने के बाद हमने नाश्ता किया, फिर ऊपर वाली मंजिल पर चले गए जहाँ फरहा का बेडरूम था। यहाँ पर स्वर्ग जैसी सारी सुविधाएँ मुहैया थी! मुझे आलीशान पलंग पर बिठाकर फ़रहा बोली- अब आप अपने कपड़े बदल लो! और फरहा बाथरूम में घुस गई। मैं सुसज्जित शयनकक्ष को देख सम्मोहित सा हो […]

कामदेव के तीर-1

On 2014-03-25 Category: कोई मिल गया Tags:

मैं अपने ऑफिस में बैठा मेल चैक कर रहा था, इस बार ज्यादातर मेल मध्यप्रदेश के जबलपुर, ग्वालियर, इन्दौर, सागर, भोपाल और अन्य शहरों से भी थे। उनमें एक मेल फरहा बेगम का था जिसमें लिखा था- रोनी सलूजा, आपकी कहानी बहुत अच्छी लगी। बड़ा मजा आया इसे पढ़कर! मैंने जबाब दिया– कहानी पसंद आई, […]

रोनी का राज-3

एक रोज रवि ने कहा- चल यार, तेरी शादी पक्की हो गई, एक पार्टी हो जाये ! तो उसने खाने और पीने का सामान लेकर पैक करवाया और मेरे को लेकर अपने फार्म हॉउस ले गया ! दो पेग के बाद कुछ सुरूर सा होने लगा तो रवि ने कहा- रोनी, मैं तुमसे एक काम […]

रोनी का राज-2

On 2013-12-01 Category: पड़ोसी Tags:

रवि ने मेरे बताये संवादों से चोपड़ा आंटी को चुदने के लिए तैयार कर लिया और उसकी चुदाई कर डाली। फिर मेरे से कहा- तुम भी मजे कर लो ! तो मैंने कहा- आज तुम कर लो, मैं कल कर लूँगा ! फिर सोने से पहले रवि ने एक बार फिर ठोका उसे ! दूसरे […]

रोनी का राज-1

On 2013-11-30 Category: पड़ोसी Tags:

दोस्तो, मेरी यह कहानी थोड़ा अलग किस्म की है, इसे जरूर पढ़िए, यह मेरे जीवन की सत्य घटना है, रिश्ते पल भर में कैसे बदल सकते हैं, यह आप इस कहानी को पढ़कर समझ सकते हैं ! यह कहानी लगभग पंद्रह साल पहले की है जब हम कॉलेज में स्नातक के अंतिम वर्ष में थे। […]

रेखा भाभी की मायके में चुदाई-2

पांच सात मिनट की धकापेल में हम दोनों सब कुछ भूलकर सम्भोग का अभूतपूर्व आनन्द उठाते रहे, दोनों पसीने से सराबोर हो गए ! रेखा तो नीचे से गांड को ऐसे उठाकर लंड पेलवा रही थी जैसे वो मेरे अंडकोष भी अपने अन्दर करवाना चाहती हो ! रोनी आह्ह्ह ! मेरी चूत को जन्नत का […]

रेखा भाभी की मायके में चुदाई-1

रोनी सलूजा मैं ऑफिस में बिल्कुल निठल्ला बैठा था, सामने मेरी असिस्टेंड लीना अपने रिकार्ड दुरुस्त कर रही थी, मैं उसके यौवन के अग्र उभारों का नजारा कर रहा था मेरा जानवर अंगड़ाई लेकर जागने लगा था ! अब तो लीना मेरे से बिल्कुल खुल गई थी यानि मैं भी उसका सब कुछ खोल चुका […]

हसीन उद्घाटन

तमाम पाठकों व पाठिकाओं को प्यार भरा नमस्कार ! मेरी कहानियों को आप सभी ने बहुत सराहा, इसके लिए सभी का तहे दिल से शुक्रिया ! ज्यादा समय न लेकर सीधे ही अब मैं आपको कुछ माह पहले की सत्य घटना कहानी के रूप में लिख रहा हूँ। स्थान एवं पात्रों के नाम बदल दिए […]

काम-देवियों की चूत चुदाई-9

On 2013-08-19 Category: ऑफिस सेक्स Tags:

मंजू- रोनी, मैं तो तुम्हें बहुत ही भला इन्सान समझती थी, पर तुम तो बहुत चालू निकले। बहुत चाहते हुए भी मैंने भी तुमसे अपने दिल की बात नहीं बताई कि कहीं तुमने मेरी बात को नकार दिया तो मैं अपनी ही नजरो में गिर जाऊँगी। रोनी, तुम मुझे अच्छे लगते हो। और मैडम ने […]

काम-देवियों की चूत चुदाई-8

एक दिन मैं ऑफिस में बैठा था शाम को हरिया के नंबर से फोन आया। मैंने उठाया तो किरण बोली- बाबू हरिया गांव गए कछु काम रही, आज चौकीदारी का कैसन करूँ? ठीक है मैंने कहा- देखता हूँ। फिर फोन बंद कर दिया। अब तक अँधेरा सा हो चला था। ऑफिस बंद करके साईट पर […]

Scroll To Top