नन्दिनी जी

rss feed

कभी साथ न छोड़ना रवि जी, प्लीज!

भगवान ने मुझे खूब गोरा रंग दिया, लाल सुर्ख होंठ दिये, सुनहरे बालों वाली प्यारी चूत दी. इतनी प्यारी है मेरी चूत कि मैं स्नान के बाद दर्पण के सामने खड़ी होकर निहारती रहती हूँ.

सच का सामना करिए राहुल जी

राहुल ने अपने लंड की फोटो भेजी तो देखकर मेरी धड़कनें बढ़ गईं। मैं तो देखती ही रह गई ... सामने होता तो मैं लपक कर अपनी चूत अड़ा देती उसके सामने और बोलती- मारो धक्का!

कुंवारी लड़की की कहानी: थेंक यू धर्मेन्द्र जी

दो माह पहले मैं अठारह की हुई तो पापा ने मुझे मोबाइल दिया. पहली बार मोबाइल पर एडल्ट कंटेंट सर्च कर मैं अन्तर्वासना तक पहुँच गयी. मेरा भी मन मचलने लगा कि एक बार मैं भी...

Scroll To Top