पिन्की सेक्सी

rss feed

दिल का दर्द

On 2006-03-21 Category: रिश्तों में चुदाई Tags:

प्रेषिका – पिंकी सेक्सी नमस्ते, मेरा नाम है सुहास। मैं बीस साल की हूँ। दो साल पहले मेरी शादी प्रदीप से हुई। परिवार में मैं, मेरे पति प्रदीप, मेरे ससुर जी रसिकलाल और मेरा छोटा सा बेटा किरण हैं। ससुर का बहुत बड़ा बिज़नेस है और हमें किस चीज़ की कोई कमी नहीं है। मेरे […]

दीदी, जीजाजी और पारो-2

On 2006-03-11 Category: कोई मिल गया Tags:

प्रेषिका – पिंकी सेक्सी प्रथम भाग से आगे … पारो: अभी करो ना। देखो तेरा ये फिर से खड़ा होने लगा है। मैं: हाँ, लेकिन तेरी चूत का घाव अभी हरा है, मिटने तक राह देखेंगे, वर्ना फिर से दर्द होगा और ख़ून निकलेगा। मेरा लंड फिर से तन गया था। पारो ने उसे मुट्ठी […]

दीदी, जीजाजी और पारो-1

On 2006-03-10 Category: कोई मिल गया Tags:

मेरे परिवार में मैं, पिताजी, माताजी और मुझ से तीन साल बड़ी दीदी हैं, जिनका नाम है शालिनी। मैं और दीदी एक-दूसरे से बहुत प्यार करते हैं। भाई-बहन से अधिक हम दोस्त हैं। हम एक-दूसरे की निजी बातें जानते हैं और मुश्किल में राय भी लेते-देते हैं। सेक्स के बारे में हम काफ़ी खुले विचार […]

झील पर पिकनिक

On 2006-01-10 Category: कोई मिल गया Tags:

प्रेषिका : पिन्की आज मैं भी आपको अपनी कहानी सुनाना चाहती हूँ। इस समय मेरी उम्र लगभग २० वर्ष हो चुकी है। मैं बी.ए. द्वितीय वर्ष में पढ़ती हूँ। हमारा कालेज को-एड है। साथ की सभी लड़कियों/सहेलियों के बॉय-फ्रैण्डस थे सिवाय मेरे। एक बार की बात है कि मेरे ग्रुप के सभी लड़के-लड़कियों का झील […]

कॉलेज से जंगल में मेरी चूत चुदाई

एक रात की बात है, मैं लगभग 11 बजे बाथरूम जाने के लिए उठी। बाथरूम मम्मी के कमरे को पार करने के बाद पड़ता है। जब मैं उस कमरे के सामने से गुज़री तो मुझे मम्मी के कराहने और ज़ोर ज़ोर से सांसें लेने जैसी आवाज़ें सुनाई पड़ी।

Scroll To Top