किरण कुमार

rss feed

Author's Website

मामी की गांड चोद कर सुहागरात मनायी-2

मामी छत की बाउंड्री पर हाथ रख कर घोड़ी बन कर अपनी गांड पीछे को निकाल दी, मैंने अपने हाथों से मामी के मुलायम चूतड़ फैलाये और लंड का सुपारा उनकी गांड के छेद पर टिका दिया.

मामी की गांड चोद कर सुहागरात मनायी-1

मैं अपनी मामी की चूत को चोद चुका था. वो मुझे अपना चोदू पति मानती थी. मामी के चूतड़ बड़े शानदार थे, मैंने मामी की गांड कैसे मारी, ये इस कहानी में पढ़िए.

मामी की चूत चुदाई का आनन्द-3

आपने अब तक में पढ़ा कि किस तरह मामी जी ने अपनी सहेली के कहने पर मुझे पटा कर अपनी चूत मुझे दी और मैंने मामी की चुदाई की। मुझसे चुदाने के बाद मामी की कामवासना भड़क उठी थी, वो हर वक्त मुझसे चुदाई के सपने देखने लगी थी. इस बार मैंने मामी को घोड़ी बना कर कैसे चोदा, पढ़ें रिश्तों में चुदाई की इस कहानी में!

मामी की चूत चुदाई का आनन्द-2

नमस्ते दोस्तो, मैं किरण एक बार फिर से अपनी पिछली सेक्स कहानी का अगला भाग लेकर आया हूँ. दरअसल यह कहानी मेरे एक दोस्त की है जिसे मैं अपनी शैली में उसकी जुबां से बयाँ कर रहा हूँ। मेरी पिछली कहानी मामी की चूत चुदाई का आनन्द पढ़ने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद। सबसे पहले […]

मामी की चूत चुदाई का आनन्द-1

मैं अपनी मामी की चुदाई की सेक्स कहानी बता रहा हूँ कि कैसे मैंने अपनी मामी की प्यास, कामुकता को पहचाना, फिर उन्हें अपना बड़ा लंड दिखा कर उनकी कामवासना को जगा कर मामी को चोदा.

Scroll To Top