क्षत्रपति

Free soul who believe in the freedom of everyone. Off course that includes "No means NO!"

rss feed

होली का नया रंग बहना के संग

अपने भाई घोड़े जैसे लण्ड के तीन धक्कों से रूपा ने अपना कुँवारापन हमेशा के लिए खो दिया। लेकिन कुँवारेपन के बोझ तले अपनी जवानी को सड़ाना चाहता भी कौन है।

वासना के पंख-11

दोनों भाई बहन चुम्बन और आलिंगन में व्यस्त थे। ऐसा नहीं था कि लंड खड़ा नहीं था या चूत को गीली होने में कोई कसर बाकी थी लेकिन इतने सालों के बाद ये दो बदन मिल रहे थे!

वासना के पंख-10

माँ रोज़ बेटे बहु की चुदाई देखती थी और जब कभी मन करता तो रात को बेटे के बेडरूम में जाकर खुद बेटे से चुदवा आती थी. उधर बहू अपना एक और राज खोल रही है शादी से पहले का!

वासना के पंख-9

माँ अपने बेटे का लंड चूसे और उसमें से प्यार का फ़व्वारा ना छूटे, ऐसा कैसे हो सकता था। जल्दी ही मोहन ने अपनी माँ का मुँह मलाई से भर दिया और माँ भी उसे बिना रुके गटक गई।

वासना के पंख-8

मोहन और संध्या की हवस अभी खत्म नहीं हुई थी। संध्या का दिमाग फिर कोई नई तरकीब ढूँढने में लग गया जिस से वो अपनी जिंदगी में फिर से वासना के नए नए रंग भर सके। तो उसने क्या किया?

वासना के पंख-7

गर्म सेक्स कहानी के इस भाग में पढ़ें कि एक दोस्त की बीवी गर्भवती हुई तो दूसरे दोस्त और उसकी बीवी ने कैसे उसके सेक्स जीवन में कोई कमी नहीं आने दी, दोस्त ने अपनी बीवी उसके हवाले कर दी.

वासना के पंख-6

दो दोस्त अपनी बीवी की अदला बदली करके की जुगत में हैं. एक की बीवी तो एकदम से तैयार है लेकिन दूसरी तो अपने पति के अलावा दूसरे लंड के नाम से ही तौबा करती है.

वासना के पंख-5

स्टेज पर चुदाई शुरू हो गई थी और कमरे के दूसरे कोने में बैठा युगल भी पीछे नहीं था। वो अपनी महिला साथी को टेबल पर झुका कर पीछे से चोद रहा था। म्यूजिक की धुन भी ऐसी थी कि लग रहा था चुदाई के लिए ही बनी थी।

नंगी कहानी: वासना के पंख-4

इस नंगी कहानी में पढ़ें कि कैसे पति ने अपनी बीवी को पेरिस में समुद्रतट पर नंगी करके पानी में खड़ी करके चोदा, समंदर की लहरों में दोनों की चुदाई के झटके कहीं खो गए, देखने वालों को लगता कि कोई अपनी बीवी के साथ लहरों का आनंद ले रहा है।

वासना के पंख-3

संध्या ने अपना हाथ शारदा के साए के अन्दर सरका दिया और उसकी चूत का दाना खोजने लगी। लेकिन जैसे ही उसकी उंगली शारदा की गीली चूत के दाने पर छुई, शारदा उठ कर बैठ गई।

वासना के पंख-2

गाँव के चौधरी साहब बड़े ऐय्याश थे; लेकिन गाँव में काना-फूसी होने लगी कि चौधरी की बेटी का अपने ही बड़े भाई के साथ कोई चक्कर है। तो चौधरी ने फ़टाफ़ट अपनी बेटी की शादी कर दी.

वासना के पंख-1

यह लम्बी कहानी मेरी पिछली कहानी 'होली के बाद की रंगोली' जो भाई बहन के सेक्स सम्बन्धों पर थी, से ही सम्बंधित है. उस घटना से पहले क्या हुआ, यह बताया गया है.

होली के बाद की रंगोली-14

चुदाईबंधन के इस अनोखे त्यौहार को मनाने के बाद चारों बहुत थक गए थे। रात भर की चुदाई के बाद सुबह से भी कम से कम दो बार सबने बहुत अच्छे से चुदाई कर ली थी। कहानी का आखिरी भाग पढ़ कर देखें कि चलती कार में भाई बहन ने कैसे चुदाई की और फिर विदा ली.

होली के बाद की रंगोली-13

सूरज की किरणों की थपकी से जब पंकज की आँख खुली तो सामने सोनाली की चूत थी। उसने उनींदी आँखें ठीक से खोले बिना उसे चाटना शुरू कर दिया। इस से सोनाली की नींद भी टूटी और वो अपने भाई का लंड बेड-टी समझ कर चूसने लगी।

होली के बाद की रंगोली-12

भाई बहन के सेक्स की इस कहानी में पढ़ें कि कैसे ताश का खेल खेलते खेलते भाई बहन आपस से खुल कर सेक्स का मजेदार खेल खेलने लगे. भाई बहन की खुलेआम चुदाई पढ़ कर मजा लें!

होली के बाद की रंगोली-11

On 2017-12-20 Category: भाई बहन Tags:

बहन की ननद तो अब खुल कर चुदवाने लगी थी. दोनों इकट्ठे नहाने लगे थे. अब बारी थी जीजा की वाइफ यानि अपनी बहन की चूत चुदाई की... आज की कहानी पढ़ कर देखें कि भी बहन की चुदाई की बात कहाँ तक पहुंची.

होली के बाद की रंगोली-10

बहन भाई चुदाई की कहानी के इस भाग में पढ़ें कि कैसे बहन ने अपने पति के सामने अपने भाई से चूत चटवाई. फिर भाई को अपनी ननद की चूत गांड चुदाई करने भेज दिया.

होली के बाद की रंगोली-09

बहन भाई दोनों को आपस में चूत चुदाई की लालसा थी, आज की कहानी में पढ़ें कि कैसे बहन ने भाई का लंड चूस कर मजा लिया और दिया.

होली के बाद की रंगोली-08

बहन को भी से चूत चुदाई की तलब थी, भाई भी अपनी बहन को चोदना चाहता था लेकिन आँख की शर्म बाक़ी थी जो आज की कहानी में खत्म हो गई. कैसे? पढ़ के जान लें!

होली के बाद की रंगोली-07

जीजा की बहन को चोदने का मन था लेकिन डर रहा था. तो कहानी पढ़ कर देखें कि वो अपनी बहन की ननद को चोद पाया या नहीं!

Scroll To Top