अनजानी दुनिया में अपने-6

इस कहानी के अंतिम भाग में पढ़ें कि कैसे दिव्या की माँ ने दिव्या और मेरी सुहागरात की तैयारी की और हम दोनों ने अपनी सुहागरात मनाई.

अनजानी दुनिया में अपने-5

दिव्या ने मुझे उसकी माँ के साथ सेक्स करते देख लिया तो वो बहुत दुखी हुयी, फिर भी उसने हालात को समझा और मैंने उसे और उसकी माँ को बता दिया कि मैं दिव्या से ही शादी करूंगा.

अनजानी दुनिया में अपने-4

उसने पहले खुद को फिर मुझे नंगा किया और शावर चला दिया, पानी थोड़ा ठंडा था, इसलिए हम जल्दी से एक दूसरे के साथ गूंथ गए, उसके शरीर को मैंने हर जगह से चूमा, उसके चूतड़ों को काट कर लाल कर दिया.

अनजानी दुनिया में अपने-3

मां बेटी को मैं ले आया था, अब वे मेरे साथ फ्लैट में थी। रात को मैंने देखा कि कामिनी बालकनी में खड़ी थी, मैं उसके पास गया, पूछा तो उसे अपने पति की याद आ रही थी.