मेरे गांडू जीवन की कहानी-16

गे सेक्स स्टोरी के इस भाग में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने प्यारे दोस्त से गर्मी की भरी दुपहरी में खेतों में ट्यूब वेल की धार के नीचे गांड मरवाई और उसका लंड चूसा.

मेरे गांडू जीवन की कहानी-15

अपने लंड पर हाथ फिराते हुए रवि बोला- तुझे तो लड़की होना चाहिए था. इतना मज़ा तो लड़कियाँ भी नहीं देती, जितना तेरी गांड मारकर आया मुझे!

मेरे गांडू जीवन की कहानी-14

मैं उसकी आंखों में देख रहा था… वही मुस्कुराता चेहरा, माथे पर बिखरे हुए बाल, लाल-लाल रसीले होंठ और उन पर फैली वही कातिलाना मुस्कान…

मेरे गांडू जीवन की कहानी-13

हवस और दारू दोनों का नशा जब साथ मिल जाए तो उससे निकलने वाली सेक्स की आग को रोक पाना किसी के बस की बात नहीं होती.

मेरी गांड की चुदाई की कहानी-11

मेरी गांड की चुदाई की कहानी अब क्या मोड़ ले रही है, बस में मिला लड़का मेरी मदद के लिए आया, मुझे मेरे प्यार से मिलवाने के लिए लेकिन?

बस में मिले लड़के का लंड चूस कर दोस्ती हुई

अन्तर्वासना पर मैं मेरी इंडियन गे सेक्स स्टोरीज में अपनी आपबीती सेक्स की घटनाएँ बता रहा हूँ. आगे क्या हुआ बस में मिले लड़के के साथ!

बस में मिले लड़के का लंड चूसा

इस देसी गे स्टोरी में बस में नवविवाहित जोड़ा मस्ती कर रहा था, अँधेरे का फ़ायदा उठा कर लड़के ने अपना लंड भी चुसवा लिया. मेरा मन भी लंड चूसने का करने लगा.

शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड-8

मेरी गे कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने बस में एक नवविवाहित जोड़े को आपस में छेड़छाड़ करते देखा और पैन्ट में लड़के का खड़ा लंड देख कर मुझे कुछ होने लगा.

शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड-7

इस हिंदी गे स्टोरी में पढ़े गे के मन की व्यथा: मुझे अपने गे होने पर दुख हो रहा है ‘क्या गे होना मेरी गलती है?’ अगर नहीं तो दुनिया चैन से जीने क्यों नहीं देती?

शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंड-6

मुझे यह गे सेक्स स्टोरी आगे बढ़ानी पढ़ रही है क्योंकि पाठकों की इच्छा है कि मैं रवि और मेरे रिश्ते का हर पहलू आप अंतर्वासना पर उजागर करूं!

ज्वार के खेत में निकाली जवान जाट के लंड की गर्मी

मुझे देसी मर्दों के लंड चूसना बहुत पसंद है और खासकर हरियाणा के जाट मर्दों के… मेरी इस गे सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने ज्वार के खेत में एक जाट का लंड चूसा.

मालिक ने बनाया अपने लंड का गुलाम

खेत में काम कर रहे चिकने पहाड़ी लड़के की गांड देख कर उसके मालिक का लंड खड़ा हो जाता था। एक दिन वो लड़का ट्यूबवेल पर नहा रहा था तो मालिक से रुका ना गया।

रूम-मेट बन गया मेरी बीवी-2

अब मैं रोज़ रात को उसे चोदने लगा, उसके चूतड़ चौड़े और गोल-गोल थे, लड़कियों जैसे पतले-पतले हाथ थे.. वो मेरी गर्लफ्रेंड की कमी को कभी महसूस नहीं होने देता था।

रूम-मेट बन गया मेरी बीवी-1

इस कहानी में वो है समाज में जिसका मज़ाक उड़ाया जाता है, जिसके यार-दोस्त उस पर हंसते हैं.. क्योंकि वो आम लड़कों जैसा नहीं है.. उसके हाव-भाव लड़कियों जैसे हैं।

क्योंकि मैं समलैंगिक हूँ

यह कहानी है एक समलैंगिक किशोर की जो अपनी प्रकृति प्रदत्त असामान्य इच्छा पूरी करने के लिये एक पुरुष की प्रताड़ना का शिकार हुआ। समलैंगिकता शौक नहीं मज़बूरी है।

बस में लंड पकड़ने से खेत में चुदने तक

बस में भीड़ के कारण एक लड़के का लंड मेरे हाथ से छू गया तो मुझे बेचैनी हो गई और मैं उसे सहलाने लगा। लड़के ने मुझसे बात की और मुझे उसका लंड चूसने के लिये कहा।

मास्टर जी का लंड चूसा

मेरी नज़र हमारे गणित के मास्टर हरि ओम पर रहती थी.. उनका पीरियड आता था मेरी नज़र ज्यादातर उनकी पैंट की चेन के उभार का जायज़ा लेती रहती थी और मैं उनके लंड की पोजिशन का पता लगाने के चक्कर में रहता था।

आरक्षण की आग में मिला जाट का लंड-2

उसने कहा- देख, मैं पहले भी बता चुका हूँ कि मेरे अंदर ऐसी कोई फीलिंग नहीं है अगर तू मेरे साथ कुछ करना चाहता है तो मुझे उत्तेजित कर और अपना काम कर ले…

आरक्षण की आग में मिला जाट का लंड-1

मुझे लड़कों में ज्यादा रुचि है. रोहतक में आरक्षण के दंगों के कारण मुझे अपने दोस्त के कमरे में रुकना पड़ा. वहाँ उसके रूममेट को देख कर देखता ही रह गया.