अमित अग्रवाल

rss feed

बहन का यौवन-2

अमित अग्रवाल अन्तर्वासना के पाठकों को मेरा नमस्कार ! जैसा कि मैं पहले ही अपनी बहन के बारे में बता चुका हूँ, इसलिए मैं अपनी कहानी अब आगे बढ़ाता हूँ। डी.यू. में एडमिशन लेने से पहले तक मैंने अपनी बहन तान्या को कई बार चोदा। मगर एडमिशन के बाद तान्या ने मम्मी-पापा से हॉस्टल में […]

बहन का यौवन-1

अन्तर्वासना के पाठकों को मेरा नमस्कार ! आप सबको मेरी अगली कहानी का इन्तजार करवाने के लिए माफ़ी। मेरे घर में मेरे अलावा मेरे माता-पिता और मेरी एक छोटी बहन है। मेरी उम्र 24 साल है जबकि मेरी बहन तान्या 22 साल की है। यह चार साल पहले की बात है जब वो 18 साल […]

मदद का इनाम

On 2012-12-13 Category: कोई मिल गया Tags:

हेलो दोस्तो ! पिछले कुछ दिनों में मेरी जिंदगी में काफी कुछ हुआ तो नई कहानी लिखने का समय नहीं मिला। आज समय निकालकर अपने जिंदगी का एक भाग आपके सामने रख रहा हूँ। मैं अपने बारे में पहले ही अन्य कहानियों में बता चुका हूँ लेकिन नए पाठकों के लिए मैं बता दूँ, मेरा […]

जन्मदिन का जश्न

On 2011-01-19 Category: कोई मिल गया Tags:

अन्तर्वासना के पाठकों को मेरा नमस्कार ! आप लोगों के इतने मेल आते हैं कि मैं सबका जवाब भी नहीं दे पाता, इससे पता चलता है कि आप लोगो को मेरी कहानियाँ अच्छी लगती हैं। आज मैं अपनी अगली कहानी पेश करता हूँ। नए पाठकों को बता दूँ कि मेरा नाम अमित अग्रवाल है और […]

चरित्र बदलाव-10

मैंने तान्या को बाल पकड़ कर उठाया और एक रण्डी की तरह बिस्तर पर पटक दिया. उसके बाद तान्या अपनी चूत में अपनी उंगली डालने लगी.

चरित्र बदलाव-9

मैंने दरवाजा बंद कर दिया और सोनम की तरफ देखा तो सोनम के चेहरे पर एक शर्म थी जो मुझे अच्छी लगी. मैं सोनम के करीब गया और उसे कस कर बाहों में जकड़ लिया.

चरित्र बदलाव-8

मैंने बाथरूम के दरवाजे को धकेला तो मैं अंदर का नजारा देखता ही रह गया, अंदर मनीषा नहा रही थी और उसने उस वक्त कुछ भी नहीं पहना हुआ था.

चरित्र बदलाव-7

शायद ज्योति ने उससे पहले कभी गाण्ड नहीं मरवाई थी, मगर मैंने उसकी एक भी ना सुनी और उसके दोनों चूतड़ों के बीच में अपना लण्ड घुसाने लगा.

चरित्र बदलाव-6

मैंने मोबाइल निकाला और हमारे सेक्स की वीडियो बना ली ताकि आयशा आगे कभी अपनी चुदवाने से मना ना करे! चूत मरवाने के बाद आयशा थक कर बिस्तर पर लेट गई.

चरित्र बदलाव-5

ज्योति अपने बिस्तर पर सिर्फ ब्रा-पेंटी में सो रही थी जिसे देख कर मेरा लण्ड खड़ा हो गया मगर मैंने अपने ऊपर काबू करते हुए वहाँ से चल दिया और सो गया.

चरित्र बदलाव-4

मैंने भाभी को बिस्तर पर पटक दिया और अपना मुँह उनके स्तनों में गड़ा कर स्तनपान करने लगा. मेरे स्तनपान करने के कारण भाभी धीमी धीमी सिसकारियाँ लेने लगी

चरित्र बदलाव-3

दीदी कुछ और बोलती इससे पहले मैंने उसका मुंह बंद करने के लिए अपने होंठ उनके होंठो पर रख दिये और टी-शर्ट के ऊपर से ही उनके चूचे मसलने लगा तो दीदी मचल उठी.

चरित्र बदलाव-2

मैंने दीदी की नाइटी उतार दी और ब्रा के ऊपर से ही उनके चूचे मसलने लगा जिससे दीदी मचल उठी. मैंने दीदी की ब्रा का हुक खोल दिया.

चरित्र बदलाव-1

मेरा नाम अमित है, मैं दिल्ली(रोहिणी) का रहने वाला एक इंजीनीयर हूँ. मैं 23 साल का लड़का हूँ. कहानी शुरू करने से पहले बता दूँ कि यह अन्तर्वासना पर मेरी पहली और सच्ची कहानी हैं. इस घटना से पहले मैंने किसी लड़की के साथ सेक्स नहीं किया था. मुझे नहीं मालूम था कि मुझे मेरा […]

Scroll To Top