अलीशा सुधा

rss feed

Author's Website

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-11

अलीशा सुधा कामिनी चीख उठी, “उई माँ..! बड़ा दर्द हो रहा है निकालिए अपने घोड़े जैसे लण्ड को..!” इस पर चमेली व्यंग्य करती हुए बोली- जब दूसरे की में गया तो भूस में गया और जब अपनी में गया तो उई दैया..!” मैं खिलखिला कर हँस पड़ी। कामिनी गुस्से में मुझसे बोली- साली, छिनाल.. रंडी.. […]

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-10

अलीशा सुधा इधर चमेली ने भी एक सिगरेट जलाई और एक कश ले कर मेरी बुर में खोंस दी। जीजाजी ने उसे हाथ बढ़ा कर निकाल ली और धुंए के छल्ले बनाने लगे। कामिनी ने मुझे अपनी सिगरेट पकड़ा कर गिलास उठा लिया और एक गिलास में ही जीजा-साली पीने लगे। टीवी पर ब्लू-फिल्म के […]

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-9

अलीशा सुधा इसके बाद जीजाजी थोड़ी शैम्पेन कामिनी के मम्मे पर छलका कर उसे चाटने लगे। मैंने अपने शैम्पेन की प्याली में जीजाजी के लौड़े को पकड़ कर डुबो दिया, फिर उसे अपने मुँह में ले लिया। कामिनी की चूचियों को चाटने के बाद चमेली की चूचियों को जीजाजी ने उसी तरह चूसा। फिर मुझे […]

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-8

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-8 अलीशा सुधा मैंने उन्हें छेड़ते हुए कहा- जीजाजी को आज तीन गाड़ी चलानी हैं इसी लिए इस गाड़ी को नहीं चलाना चाहते। और मैं ड्राइवर सीट पर बैठ गई, मेरे बगल में जीजू और चमेली को जीजाजी ने आगे ही बुला कर अपने बगल में बैठा लिया हम लोग […]

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-7

सुधा अचानक जीजा जी रुक गए, मैंने पूछा- क्या हुआ ? रुक क्यों गए? जीजा जी बोले- बुर के बाल गड़ रहे हैं..! और अब तो इसका राज जान कर ही आगे चुदाई होगी। मैं जीजा जी के पीठ पर घूँसा बरसते हुए बोली- जीजा जी खड़े लण्ड पर धोखा देना इसे ही कहते हैं…! […]

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-6

सुधा स्क्रीन पर वह आदमी एक को चोद कर लेटा था और अब दूसरी की चुदाई की तैयारी कर रहा था। दूसरी औरत उठी और आदमी की तरफ़ मुँह कर उसके लौड़े को अपनी बर में डाल कर बैठ गई। अब वे दोनों बात करके चुदाई कर रहे थे। मुझे लगा इस तरह से चुदाई […]

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-5

सुधा मैंने मुँह से गिलास हटाते हुए कहा- जीजाजी, मैं दूध पीकर आई हूँ। इस बीच दूध छलक कर मेरी चूचियों पर गिर गया। जीजाजी उसे अपनी जीभ से चाटने लगे, मैं उनसे गिलास लेकर अपनी चूचियों पर धीरे-धीरे दूध गिराती रही और जीजाजी मज़ा ले-ले कर उसे चाटते गए। चूची चाटने से मेरी बुर […]

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-4

सुधा जीजाजी चाय पीते हुए बोले- ठीक है, चमेली इस बार केतली में चाय इसीलिए बना कर लाई थी कि दुबारा चाय गर्म करने के लिए नीचे ना जाना पड़े और दीदी अकेले-अकेले…! जीजाजी चमेली की तरफ गहरी नज़र से देख कर मुस्काराए। “जीजाजी आप बड़े वो हैं..!” चमेली बोली। “वो क्या..!” “बड़े चोदू हैं..!” […]

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-3

सुधा मैं बोली- जीजाजी उसे ज़्यादा भाव ना दीजिएगा नहीं तो वह जौंक की तरह चिपक जाएगी.. पर जीजाजी वह है बड़ी भली, बस चुदाई के मामले में ही थोड़ी लंगोटी से कमजोर है। “आने दो देखता हूँ.. कमजोर है या खिलाड़ी है..!” चमेली के जाने के बाद साफ-सफाई के लिए हम दोनों बाथरूम में […]

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-2

सुधा उनका पूरा लौड़ा सरसराते हुए मेरी बुर में घुस गया। दर्द से मैं बेहाल हो गई..! मेरी आवाज़ मेरे मुँह में ही घुट कर रह गई, क्योंकि मेरे होंठ तो जीजाजी के होंठ में फंसे थे। होंठ चूसने के साथ वे मेरी चूचियों को प्यार से सहला रहे थे। फिर वे चूचियों को एक-एक […]

चूची से जीजाजी की गाण्ड मारी-1

सुधा हैलो दोस्तो, मेरा नाम वही है जो भारत की कुमारी कन्याओं का होता है। सुविधा के लिए चुदासी सहेलियाँ मुझे सुधारस की ख़ान बुला सकती हैं ! मेरी दीदी रेखा की शादी बुरहानपुर में अभी तीन महीने पहले हुई थी। मेरी बहन मुझसे दो साल बड़ी हैं। शादी के बाद पहली बार मेरे मदन […]

Scroll To Top