आशीष जोशी

Read about my Hindi sex Read my Indian sex stories only at www.antarvasnasexstories.com

चूत की फेस सिटिंग की चुल्ल -2

इतनी मुलायम चूत शायद ही मैंने कभी जिंदगी में चखी थी। मुझे बहुत मज़ा आने लगा था। वो पूरा ज़ोर लगाकर अपनी गरम चूत मेरे मुँह पर दबाए जा रही थी। मैंने भी जीभ बाहर निकाली और उसकी चूत में घुसेड़ दी।

पूरी कहानी पढ़ें »

चूत की फेस सिटिंग की चुल्ल -1

हम सहेलियों ने कुछ दिन पहले एक ब्लू फिल्म देखी थी.. उसमें दिखाया गया था कि एक लेडी बहुत देर तक मर्द के मुँह पर नंगी बैठ जाती है और शायद झड़ने के बाद ही उठ जाती है..

पूरी कहानी पढ़ें »

नयना और दीप्ति संग वासना का खेल -5

दीप्ति ने स्पीड बढ़ा दी और वो अब ज़ोर-ज़ोर से मेरे लंड को चूसने लगी और मेरा सुपारा उसके गले को टच किए जा रहा था.. मुझे थोड़ा दर्द हो रहा था.. पर मैं उसे बर्दाश्त किए जा रहा था..

पूरी कहानी पढ़ें »

नयना और दीप्ति संग वासना का खेल -4

नयना ने झुककर दीप्ति की जाँघों पर पड़ा मेरा पूरा वीर्य चाट लिया और मैंने उसकी जीन्स की बटन खोल कर पैन्टी के साथ नीचे खींच ली।
वॉऊ.. क्या चूतड़ थे नयना के.. एकदम राउंडेड.. चिकने और दूध की तरह मुलायम.. ! मैं उसके चूतड़ों पर हाथ फेरने लगा। अब वक्त था मेरी गाण्ड में ककड़ी जाने का…

पूरी कहानी पढ़ें »

नयना और दीप्ति संग वासना का खेल -3

मैं नयना के घर गया, वहाँ दीप्ति ने मेरे टट्टे पकड़ कर अपनी चूत चाटने को कहा। नयना मेरे चूतड़ों पर थप्पड़ बरसाने लगी। मैं एकदम से दीप्ति की जाँघों पर ही झड़ गया।

पूरी कहानी पढ़ें »

नयना और दीप्ति संग वासना का खेल -2

नयना के अपार्टमेंट की मैंने डोर बेल बजाई और नयना ने दरवाज़ा खोला- वेलकम आशीष.. यहीं पर तुम अपने कपड़े उतार कर मेरे पास दे दो.. अब ये तुम्हें रविवार की रात में जब यहाँ से जाओगे.. तब इसी जगह मिलेंगे..

पूरी कहानी पढ़ें »

नयना और दीप्ति संग वासना का खेल -1

उसने आज स्लीवलैस टॉप पहन रखा था और उसका गला थोड़ा ज्यादा ही गहरा खुला हुआ था इसलिए मैं उसका क्लीवेज थोड़ा अधिक ढंग से देख पा रहा था, उसने शायद ब्रा नहीं पहनी हुई थी।

पूरी कहानी पढ़ें »

नयना के सामने मुठ मारी -2

पड़ोसन ने मुझसे बात की तो मैंने उसे कहा कि मैं उसके सामने मुठ मारना चाहता हूँ। वो रुक गई और मेरे मुठ मारते वक्त इसने अपने शर्ट की जिप खोल कर मुझे अपनी ब्रा दिखाई।

पूरी कहानी पढ़ें »

नयना के सामने मुठ मारी -1

मुझे लड़कियों, महिलाओं के सामने नंगा होने में और उन्हें अपना नंगा बदन दिखाने में बड़ा मज़ा आता है. इस बार मैंने अपनी नई पड़ोसन को बालकनी में नंगा होकर दिखाया

पूरी कहानी पढ़ें »

गाण्ड चुदाई चूत चोदी-4

दोस्त की गर्लफ़्रेंड ने मुझे अपने घर बुलाकर मुझे नंगा होने को कहा। उसकी नंगी साफ़ बगलें देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया और तभी मेरा सरप्राइज… कहानी में पढ़िए…

पूरी कहानी पढ़ें »

गाण्ड चुदाई चूत चोदी-3

दोस्त की गर्लफ़्रेंड ने मुझे अपने घर बुलाया। उसके घर मैं जैसे ही पहुंचा, उसने मुझे नंगा होने को कहा। उसकी नंगी साफ़ बगलें देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया और तभी मेरा सरप्राइज… उसकी बड़ी बहन… वो मुझे डिल्डो से चोदेगी तभी दोस्त की गर्लफ़्रेंड अपनी चूत चुदवाएगी… कहानी में पढ़िए…

पूरी कहानी पढ़ें »

गाण्ड चुदाई चूत चोदी-2

मैंने अपनी अन्तर्वासना कहानियों के लिन्क दोस्त की गर्लफ़्रेंड को भेजे तो उसने मुझे अपने घर बुलाया। उसके घर मैं जैसे ही पहुंचा, उसने मुझे नंगा होने को कहा। उसकी नंगी साफ़ बगलें देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया और तभी मेरा सरप्राइज… उसकी बड़ी बहन… कहानी में पढ़िए…

पूरी कहानी पढ़ें »

गाण्ड चुदाई चूत चोदी-1

मैंने चार लड़कियों के सामने नंगा होकर मुठ मारी तो उसकी सजा में एक शीमेल से मेरी गांड मरवाई गई उन चरों लड़कियों और उनकी मम्मियों ने… मेरे दोस्त और उसकी गर्लफ़्रेन्ड को भी इस बारे में पता था, मैंने अपनी अन्तर्वासना कहानियों ले लिन्क दोस्त की गर्लफ़्रेंड को भेजे तो उसने मुझे अपने घर बुलाया।

पूरी कहानी पढ़ें »

शीमेल का लण्ड और मेरी गाण्ड-3

दो साल पूर्व मैंने चार किशोरियों को लंड दिखाया तो पकड़ा गया लेकिन सबूत ना होने से बच गया.. तो उन चारों ने मेरी गाण्ड ठुकवा कर कैसे बदला लिया इस कहानी में पढ़िए…

पूरी कहानी पढ़ें »

शीमेल का लण्ड और मेरी गाण्ड-2

दो साल पूर्व मैंने चार किशोरियों को लंड दिखाया तो पकड़ा गया लेकिन सबूत ना होने से बच गया.. तो उन चारों ने मेरी गाण्ड ठुकवा कर कैसे बदला लिया इस कहानी में पढ़िए…

पूरी कहानी पढ़ें »

शीमेल का लण्ड और मेरी गाण्ड-1

मुझे पड़ोसनों को अपना लंड दिखाने का शौक है.. दो साल पूर्व मैंने चार किशोरियों को लंड दिखाया तो पकड़ा बया लेकिन सबूत ना होने से बच गया.. तो उन चारों ने बदला कैसे लिया इस कहानी में पढ़िए…

पूरी कहानी पढ़ें »

अन्तर्वासना इमेल क्लब के सदस्य बनें

हर सप्ताह अपने मेल बॉक्स में मुफ्त में कहानी प्राप्त करें! निम्न बॉक्स में अपना इमेल आईडी लिखें, सहमति बॉक्स को टिक करें, फिर ‘सदस्य बनें’ बटन पर क्लिक करें !

* आपके द्वारा दी गयी जानकारी गोपनीय रहेगी, किसी से कभी साझा नहीं की जायेगी।

Scroll To Top